मध्यप्रदेश सहकारी कर्मचारी महासंघ के कर्मचारीयो ने काले कपड़े पहन, काली पट्टी बांध किया प्रदर्शन

Advertisements

NEWS IN HINDI

मध्यप्रदेश सहकारी कर्मचारी महासंघ के कर्मचारीयो ने काले कपड़े पहन, काली पट्टी बांध किया प्रदर्शन

प्रकाश खातरकर
बैतूल/आठनेर। मध्यप्रदेश सहकारी कर्मचारी महासंघ भोपाल के आव्हान पर जारी अनिश्चित कालीन हड़ताल नववे दिन भी निरंतर जारी है सहकारिता कर्मचारीयो मे प्रशासन की नजरअंदाजी पर काफी रोष व्याप्त है, गुरूवार को इसी कडी मे कर्मचारीयो ने काले कपडे पहन व काली पट्टी बांधकर आज होली जैसे बडे त्योहार पर दुखी मन से धरना स्थल पर निरंतर प्रयास कर रहे है कि शासन का ध्यानाकर्षण हो,सहकारी कर्मचारीयो की मांग पुरी हो महत्वपूर्ण योजना जैसे ऋण वितरण, खाद बीज व राशन वितरण का कार्य पुरी तरह ठप है। होली पर गरीब लोग राशन के बीना होली मनाने को मजबुर है। इस संबंध में प्रांतीय उपाध्यक्ष वीकेश मालवीय ने बताया की लगातार नौ दिन से चल रही हड़ताल से आम जनता और किसान बुरी तरह प्रभावित होने के बावजूद भी सहकारिता कर्मचारियों को शासन की उपेक्षा का सामना करना पड रहा है।

मालवीय के मुताबिक हम लोग अल्प वेतन मे बंधुआ मजदूर की भांति सेवा देने को मजबूर है। वर्तमान मे समर्थन मूल्य पंजीयन सत्यापन, भावांतर पंजीयन, राशन वितरण, खाद बीज वितरण, बचत बैंक से नगद निकासी व जमा का कार्य हड़ताल से प्रभावित हुआ है। शासन ने मांगो पर विचार कर पूरी नही की तो आगामी समय मे अधिक उग्र आंदोलन होगा।

आंदोलन मे मुख्य रूप से प्रांतीय उपाध्यक्ष विकेश मालवीय, जिलाध्यक्ष लखन यादव, राजु देशमुख, गणेश लहरपुरे ,रमेश माकोड़े, नरेन्द्र आर्य, अशोक देशमुख, समीर पाठक, शिवशंकर पवार, अरूण अडलक, योगेश गढेकर ,कमलेश बाथरी ,अनिल लिलहोरे, संजय भिकोंडे ,मनोज बैस,इशाक पठान, भोला सोलंकी,दिगंबर नावंगे,अशोक मालवीय, भवेनद्र साहु उपस्थित रहे।

 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

 

NEWS IN ENGLISH

Employees of Madhya Pradesh Co-operative Employees’ Federation, wearing black clothes, black bars tied

Prakash Khatarkar

Betul / Aathner An indefinite strike on the challenge of the Madhya Pradesh Cooperative Employees’ Association Bhopal is continuing on the ninth day. There is a lot of anger on the care of the administration of the cooperative staff. On Thursday, the workers wearing black clothes and wearing a black belt on a big festival like Holi Sustainable efforts are being made at the site of the miserable mind that the attention of the government is to be taken, the demands of cooperative employees are fulfilled Htwpuarn plan such acts of dispensation, fertilizer seeds and food distribution stopped entirely. On Holi, poor people are forced to celebrate Holi of ration. In this regard, the provincial vice president, Vyachesh Malviya, said that despite continuous nine-day strike, the general public and the farmers were severely affected, the cooperative employees are facing neglect of governance.

According to Malviya, we are forced to serve as a bonded laborer in small wages. Presently, the support of price registration verification, Bhawan registration, ration distribution, manure seed distribution, cash withdrawal from savings bank and deposit work has been affected by the strike. If the government is not satisfied with the demands, then there will be more radical movement in the coming time.

In the agitation, mainly the provincial vice-president Vikesh Malviya, the District President, Lakhan Yadav, Raju Deshmukh, Ganesh Waharapure, Ramesh Makodh, Narendra Arya, Ashok Deshmukh, Sameer Pathak, Shivshankar Pawar, Arun Adlak, Yogesh Gadhekar, Kamlesh Bathri, Anil Lilhore, Sanjay Bhikonde, Manoj Bass, Ishaq Pathan, Bhola Solanki, Digambar Nonggeo, Ashok Malviya, Bhaveendra Sahu are also present.

 

To get the latest updates, click on the link: https://www.facebook.com/samacharokiduniya/Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements
Advertisements

 

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.