पीएम किसान: इन 5 वजहों से लटकी है आपकी 2000 रुपये की किस्त

Advertisements

पीएम किसान: इन 5 वजहों से लटकी है आपकी 2000 रुपये की किस्त


PM Kisan Samman Nidhi 2021 Latest News: पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत मोदी सरकार  अप्रैल-जुलाई की 2000 रुपये की किस्त 10,34,32,471 किसानों को दे चुकी है। योजना शुरू होने से लेकर अब तक 2000 रुपये की 8 किस्त किसानों के खातों में पहुंच चुकी है, लेकिन बहुत से किसान ऐसे हैं, जिन्होंनो आवेदन तो किया है पर किस्त नहीं मिली।

बता दें प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना अंतर्गत कृषि विभाग द्वारा केंद्र सरकार को भेजे गए कुछ सत्यापित आवेदनों में PFMS द्वारा फंड ट्रांसफर के समय कई तरह की गलतियां पायी गईं, जिससे किस्त की रकम ट्रांसफर नहीं हो पा रही। इस वजह से आवेदन में हुई गलतियों को सुधार के लिए वापस भेज दी जा रही हैं।

  • किसान का नाम “ENGLISH” में होना जरूरी है 

  • जिन किसान का नाम आवेदन में “HINDI” में है, कृपया नाम संशोधित करें।

  • आवेदन में आवेदक का नाम और बैंक अकाउंट में आवेदक का नाम भिन्न होना

  • किसान को अपने बैंक शाखा जा कर बैंक में अपना नाम आधार और आवेदन में दिये गए नाम के अनुरूप करना होगा।

  • IFSC कोड लिखने में गलती।

  • बैंक अकाउंट नंबर लिखने में गलती।

  • गांव के नाम में गलती।

उपर्युक्त सभी प्रकार की त्रुटियों में सुधार के लिए आधार सत्यापन जरूरी है। आधार सत्यापन के लिए किसान अपने निकटतम CSC/वसुधा केंद्र/ सहज केंद्र से संपर्क करें।

ऑनलाइन ऐसे ठीक करें गलतियां

Advertisements
Advertisements
  • आपको सबसे पहले पीएम किसान की वेबसाइट pmkisan.gov.in पर जाना होगा।

  • यहां आपको उपर की ओर एक लिंक फॉर्मर्स कॉर्नर दिखेगा

  • इस लिंक पर क्लिक करेंगे तो आधार एडिट का एक लिंक दिखेगा, जहां आपको क्लिक करना होगा।

  • इसके बाद आपके सामने जो पेज खुलेगा, उस पर आप अपने आधार नंबर को करेक्ट कर सकते हैं

  • वहीं अगर खाता संख्या गलत हो भर दिए हैं और आप अपने खाता संख्या में कोई परिवर्तन कराना चाहते हैं तो आपको अपने कृषि विभाग कार्यालय में या लेखपाल से संपर्क करना होगा। वहां पर जाकर आप इसकी हुई गलती में सुधार करवा सकते हैं।

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

You cannot copy content of this page, Sorry

Team Samacharokiduniya (:

WhatsApp chat