बच्चों की हाइट बढ़ाने के लिए अपनाएं यह आसान तरीके

Advertisements

बच्चों की हाइट बढ़ाने के लिए अपनाएं यह आसान तरीके


हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार, सिंपल स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज आपके बच्चे की ऊंचाई पर बहुत प्रभाव डाल सकते हैं। इसलिए, आप अपने बच्चे को छोटी उम्र से ही कुछ सरल व्यायाम सिखाना शुरू करें, इससे उसकी लंबाई बढ़ने में आसानी होगी।

Advertisements
Advertisements

माता−पिता के रूप में, हम में से अधिकांश चाहते हैं कि हमारे बच्चे लंबे और मजबूत हों, क्योंकि दोनों ही मापदंडों को व्यापक रूप से अच्छे स्वास्थ्य के संकेत के रूप में माना जाता है। इस प्रकार, हम यह सुनिश्चित करने के लिए बहुत प्रयास करते हैं कि हमारे बच्चे स्वस्थ और लंबे हों। हालांकि, यह जरूरी नहीं है कि हर बच्चे की लंबाई अपनी उम्र के अनुसार उचित हो, यह जरूरी नहीं है। अगर आपके बच्चे का कद कम है तो आपको परेशान होने की जगह कुछ आसान उपायों को अपनाना चाहिए−

बैलेंस डाइट

हेल्थ एक्सपर्ट बताते हैं कि हर माता−पिता को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि उनके बच्चे को उचित पोषण मिले। संतुलित आहार में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, वसा और विटामिन का सही अनुपात में मिश्रण होना चाहिए। साथ ही, सुनिश्चित करें कि आपके बच्चे जंक फूड और एयरेटेड ड्रिंक्स से दूर रहें। एक बार तो ठीक है लेकिन उसे रोजाना इसका सेवन नहीं करना चाहिए। संतुलित आहार न केवल आपके बच्चे को लम्बाई बढ़ाने के लिए सही पोषक तत्व प्रदान करेगा बल्कि उसे अंदर से भी मजबूत बनाएगा।

स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज

हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार, सिंपल स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज आपके बच्चे की ऊंचाई पर बहुत प्रभाव डाल सकते हैं। इसलिए, आप अपने बच्चे को छोटी उम्र से ही कुछ सरल व्यायाम सिखाना शुरू करें, इससे उसकी लंबाई बढ़ने में आसानी होगी। स्ट्रेचिंग रीढ़ को लंबा करने में मदद करती है और आपके बच्चे की मुद्रा में सुधार करती है।

हैंगिंग एक्सरसाइज

जब बच्चों की हाइट बढ़ाने की बात होती है तो यकीनन हैंगिंग एक्सरसाइज एक बेहतरीन विकल्प है। नियमित रूप से लटकने के अलावा, आप अपने बच्चे को पुल−अप और चिन−अप करने के लिए भी कह सकते हैं। दोनों एक्सरसाइज से पीठ और बाजुओं की मांसपेशियां मजबूत होती हैं।

योग अभ्यास

योग अभ्यास में बहुत अधिक खिंचाव और संतुलन शामिल होता है, जो दोनों ही आपके बच्चे की लंबाई के लिए बहुत अच्छे हैं। अपने बच्चे को सूर्य नमस्कार, चक्र आसन और वृक्ष मुद्रा जैसे कुछ योग आसन करवाएं। बेहतर होगा कि आप अपने बच्चे के साथ मिलकर योग अभ्यास करें, ताकि उसे आपसे कुछ प्रेरणा मिल सके।


डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

 

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.