मुठभेड़ में मारे गए 4 नक्सली, सिर पर था 10 लाख का इनाम

Advertisements

NEWS IN HINDI

मुठभेड़ में मारे गए 4 नक्सली, सिर पर था 10 लाख का इनाम

झारखंड के पलामू जिले में सोमवार को सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में दो महिलाओं सहित चार नक्सलियों की मौत हो गई. यह मुठभेड़ नक्सलियों को सुबह के समय मारुंगा पहाड़ी पर सुरक्षाकर्मियों की मौजूदगी का पता लगने के बाद शुरू हुई. इस मुठभेड़ में प्रतिबंधित नक्सली संगठन सीपीआई (माओवादी) के 12 सदस्य शामिल थे.

पुलिस ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के साथ मिलकर क्षेत्र में तलाशी अभियान शुरू किया, जिसके बाद शुरू हुई मुठभेड़ दो घंटे से अधिक समय तक चलती रही. इस दौरान बाकी नक्सली वहां से भाग खड़े हुए. पुलिस ने दो एसएलआर सहित हथियारों के साथ चार शव बरामद किए हैं. नक्सली बिमल यादव के सिर पर पांच लाख का इनाम था.

पुलिस के मुताबिक, बिमल यादव के साथ ही मारे गए नक्सलियों में 10 लाख का इनामी नक्सली कमांडर राकेश भुईया भी है. यह मुठभेड़ छतरपुर थाना के तारुदाग गांव में मलंगा पहाड़ के पास सोमवार सुबह तकरीबन 9 बजे हुई. गुप्त सूचना पर सीआरपीएफ की 134वीं बटालियन और पुलिस की टीम इलाके की घेराबंदी कर सर्च अभियान चला रही थी.

उसी वक्त माओवादियों के दस्ते ने सीआरपीएफ टीम पर हमला कर दिया. जवाबी कार्रवाई में सुरक्षा बलों ने चार नक्सलियों को मार गिराया. नक्सलियों के पास से 2 एसएलआर राइफल, 5 मैगज़ीन, 219 राउंड, 8 मोबाइल, बड़ी मात्रा में पिट्ठू, वर्दी, नक्सल साहित्य और खाने-पीने के सामान की बरामदगी हुई है. मुठभेड़ के बाद बाकी नक्सली भाग गए.

मारे गए चारों नक्सलियों की पहचान हो गई है. इनमें सब जोनल कमांडर राकेश भुईया, लल्लू यादव, रूबी कुमारी और रिंकी कुमारी दस्ता शामिल है. बीते 8 फरवरी को भी पलामू के झुंझु गांव के पास सीआरपीएफ के साथ राकेश भुईया की जबरदस्त मुठभेड़ हुआ था. इसमें दो नक्सली मारे गए थे. एक महिला नक्सली को घायल अवस्था में पकड़ा गया था.

 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

 

NEWS IN ENGLISH

4 Naxalites killed in encounter, 10 lakh reward on head

Four Maoists, including two women, were killed in an encounter with security forces on Monday in Palamu district of Jharkhand. The encounter started after the Maoists found out the presence of security personnel at Marunga hill in the morning. In this encounter, 12 members of Naxalite CPI (Maoist) were involved in the bribe.

Police started a search operation in the area in collaboration with the Central Reserve Police Force, after which the encounter started for more than two hours. During this, the remaining Naxalites fled from there. Police have recovered four bodies including two SLRs with weapons. Naxalite Bimal Yadav’s head was a reward of five lakhs.

According to the police, there is also a reward of Rs 10 lakh of Naxalite commander Rakesh Bhuiyan in the Maoists killed along with Bimal Yadav. The encounter took place around 9 am on Monday morning near Malanga mountain in Tarudag village of Chhattarpur police station. The CRPF’s 134th battalion and the police team were conducting a search operation by siege the area on secret information.

At the same time the Maoist Squad attacked the CRPF team. In response, the security forces killed four Naxalites. Two SLR rifles, 5 magazines, 219 rounds, 8 mobile, large quantities of kidnappers, uniforms, naxal literature and food and drink items have been recovered from the Maoists. After the encounter, the remaining Naxalites escaped.

The four Maoists killed have been identified. These include all the zonal commanders Rakesh Bhuyia, Lallu Yadav, Ruby Kumari and Rinki Kumari Shaikh. On February 8, Rakesh Bhuyia had a tremendous encounter with the CRPF near Jhunjhu village of Palamu on February 8. Two Naxalites were killed in this. A woman Naxalite was caught in the injured condition.

 

To get the latest updates, click on the link: https://www.facebook.com/samacharokiduniya/Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements
Advertisements

 

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.