देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के 450 कर्मचारियों ने शुरू की अनिश्चितकालीन हड़ताल

Advertisements

NEWS IN HINDI

देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के 450 कर्मचारियों ने शुरू की अनिश्चितकालीन हड़ताल

इंदौर। देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के 450 कर्मचारी बुधवार से अपनी 19 सूत्रीय मांगो को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठ गए हैं. इसके चलते इस महीने होने वाली परीक्षाएं प्रभावित हो सकती हैं, हलांकि कुलपति के अनुसार हड़ताल से डीएवीवी के कार्यों पर कोई भी प्रभाव ना पड़ने की बात कुलपति ने कही है, लेकिन इतना जरूर कहा कि काम की गति धीमी जरूर होगी.

सातवें वेतनमान और नियमितीकरण नहीं किए जाने से कर्मचारी नाराज हैं. कर्मचारी संगठन ने 21 फरवरी को आपातकालीन बैठक बुलाई थी. इसमें सातवां वेतनमान लागू करने, दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों को नियमित करने, तृतीय श्रेणी कर्मचारियों को दूसरा-तीसरा समयमान वेतनमान देने, चिकित्सा भत्ते में बढ़ोतरी करने समेत कई मुद्दे रखे थे.

सालभर से इनका निराकरण नहीं होने से कर्मचारी नाखुश हैं. हड़ताल से परीक्षा केंद्र तक पेपर पहुंचना और कॉपियां लाने का काम प्रभावित होगा. यह काम दैनिक वेतनभोगी से नहीं लिया जा सकता है.

हड़ताल से माहौल बिगड़ सकता है. विवि का दीक्षांत समारोह 30 मार्च को होना है. इसके लिए कई तरह की व्यवस्थाएं करनी है. ऐसे में कर्मचारियों की हड़ताल से अधिकारियों की चिंता बढ़ गई है. सूत्रों के मुताबिक हड़ताल टालने के लिए विवि प्रशासन उच्च शिक्षा विभाग से राय ले रहा है.

 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

 

NEWS IN ENGLISH

450 employees of Goddess Ahilya University started indefinite strike

Indore 450 employees of Goddess Ahilya University have sat on an indefinite strike from Wednesday for their 19-point demands. This may affect the examinations this month, however, according to the Vice Chancellor, the speaker has said that there is no impact on the actions of the DAVV from the strike, but he definitely said that speed of work will be slow.

The employees are not angry with the seventh pay scale and regularization. The Employee Organization had convened an emergency meeting on February 21. There were several issues including implementing the seventh pay scale, regularizing the salaried employees, giving third-class employees second-third time pay scales, raising medical allowances, etc.

Employees are unhappy because they have not been resolved for a year. From the strike to the examination center, the task of reaching the paper and copia will be affected. This work can not be taken from the salaried daily.

The strike can worsen the atmosphere. The convocation of the University is to be held on March 30. There are many types of arrangements for this. In such a situation, the concern of the officials has increased due to the strike of the employees. According to sources, the university administration is taking opinion from the Higher Education Department to avoid the strike.

 

To get the latest updates, click on the link: https://www.facebook.com/samacharokiduniya/Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements
Advertisements

 

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.