कोरोना वारियर नीलगंगा थाना प्रभारी यशवंत पाल की कोरोना संक्रमण से हुई मौत

Advertisements

कोरोना वारियर नीलगंगा थाना प्रभारी यशवंत पाल की कोरोना संक्रमण से हुई मौत

उज्जैन के नीलगंगा थाना प्रभारी यशवंत पाल की भी मंगलवार को इंदौर में इलाज के दौरान मौत हो गई। 6 अप्रैल को कोरोना संक्रमण की पुष्टि के बाद उन्हें इंदौर के सीएचएल अस्पताल में भर्ती कराया गया था। तबीयत में सुधार नहीं होने पर 12 दिन पूर्व इंदौर के अरविंदो अस्पताल में रैफर किया गया। मंगलवार सुबह उन्होंने अंतिम सांस ली। पाल के परिवार में पत्नी और दो बेटियां हैं। मूल रूप से‌ बुरहानपुर के निवासी 59 वर्षीय यशवंत पाल 1983 बैच के निरीक्षक थे। बाद में परिवार सहित इंदौर में रहने लगे‌ थे। कोरोना संक्रमण की पुष्टि के बाद उनकी पत्नी मीना, 22 साल की बेटी फाल्गुनी व 20 साल की‌ बेटी ईशा को‌ शहर के एक होटल में क्वारंटाइन किया गया था। परिवार कुछ दिन पहले ही उनसे मिलने आया था। मंगलवार सुबह मौत की सूचना के बाद स्वजन इंदौर पहुंचे।

– टीआई पाल ने शहर के कंटेनमेंट क्षेत्र में की ड्यूटी

टीआई पाल ने शहर के कंटेनमेंट क्षेत्र अंबर कॉलोनी में ड्यूटी की थी। इस कॉलोनी में एक युवक की कोरोना से मौत हुई थी। साथ ही टीआई पाल बेगमबाग क्षेत्र में भी तैनात रहे। यहां भी कोरोना पॉजिटिव मरीज मिल चुके हैं।

– टीआई पाल को सांस लेने में थी तकलीफ

एएसपी रूपेश द्विवेदी ने बताया बीते कुछ दिनों से उनकी हालत स्थिर थी। सांस लेने में तकलीफ होने के कारण उन्हें वेंटीलेटर पर रखा गया था। सोमवार देर रात उनकी तबीयत बिगड़‌ गई।

– कोरोना वारियर टीआई पाल का अंतिम संस्कार इंदौर में ही

पुलिस अधिकारियों के अनुसार टीआई पाल का अंतिम संस्कार इंदौर में होगा।

– पुलिसकर्मी आ रहे कोरोना वायरस की चपेट में

लगातार पुलिसकर्मी कोरोना वायरस की चपेट में आते जा रहे हैं। इंदौर में जूनी इंदौर टीआई के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद उनके साथ रहने वाले एक कांस्टेबल भी पॉजिटिव निकले थे। इंदौर और महू में भी एक-एक पुलिस अधिकारी कोरोना पॉजिटिव हैं, जिनका इलाज चल रहा है। भोपाल में भी कई पुलिसकर्मी कोरोना पॉजिटिव मिले हैं।

Advertisements

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.