इन 3 तरीकों से पता कर सकते हैं अपने जनधन खाते का बैलेंस

Advertisements

इन 3 तरीकों से पता कर सकते हैं अपने जनधन खाते का बैलेंस


व्यापार जगत। केंद्र ने आर्थिक रुप से कमजोर वर्ग को मदद देने के लिए आर्थिक राहत पैकेज की घोषणा की थी। इसमें किसान, बुजुर्ग, महिलाएं सहित सभी अन्य वर्गों को मदद पहुंचाई गई थी। सरकार ने देश की 20 करोड़ से ज्यादा महिलाओं के जनधन खातों में सरकार ने 500-500 रुपए जमा किए थे। सरकारी की ओर से घोषणा की जा चुकी है कि जनधन खाताधारक इन महिलाओं को तीन महीने तक लगातार 500-500 रुपए की आर्थिक मदद की जाएगी। महिलाओं के बैंक में सरकार द्वारा जमा की गई राशि पहुंची या नहीं, इन तीन तरीकों से बैंक बैलेंस पता कर आसानी से जाना जा सकता है।

मिस्ड कॉल से करें पता

भारतीय स्टेट बैंक SBI ने अपने खाताधारकों के लिए यह सुविधा शुरू की है। कोई भी जनधन खाताधारक 18004253800 या फिर 1800112211 पर मिस्ड कॉल करके अपना बैलेंस जान सकते हैं। अकाउंट होल्डर को रजिस्टर्ड फोन नंबर से इन नंबरों पर कॉल करना होगा। इसके अलावा बैंक में रजिस्टर्ड कराए गए मोबाइल नंबर से 9223766666 पर भी कॉल कर यह जानकारी ली जा सकती है। अलग-अलग बैंकों के लिए यह नंबर अलग-अलग हो सकता है।

PFMS Portal के जरिये

सरकार ने डायरेक्टर बेनेफिट ट्रांसजेक्शन यानि प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण भुगतान के लिए PFMS Portal शुरू किया है। इस पोर्टल की मदद से भी बैंक बैलेंस की जानकारी हासिल की जा सकती है। इसके लिए वेबसाइट https://pfms.nic.in/NewDefaultHome.aspx पर क्लिक करें। इसके बाद सबसे पहले Know your Payment पर क्लिक करें।

इसके बाद एक नया पेज खुलेगा, जिसमें सबसे पहले अपने बैंक का नाम लिखें और इसके बाद खाता नंबर दो बार डालें। इसके बाद कैप्चा कोड लिखकर सर्च करें। यह प्रक्रिया अगर सही तरह से की है तो खाते की जानकारी शो हो जाएगी।

सीधा बैंक जाकर लें जानकारी

जनधन खाताधारक सीधे नजदीकी बैंक में जाकर भी अपने बैंक बैलेंस की जानकारी हासिल कर सकते हैं। बैंक काउंटर से पता लग सकता है कि आपके खाते में राशि जमा हुई या नहीं।

Advertisements

1 thought on “इन 3 तरीकों से पता कर सकते हैं अपने जनधन खाते का बैलेंस

  1. इनमें से कोई भी तरीका प्रथमा बैंक के खाते में काम नहीं कर रहा है।
    और वैसे भी कुछ जन-धन योजना के खुले खाते ऐसे हैं जिनमें अभी तक सरकार द्वारा कोई धनराशि नहीं आई है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error:
WhatsApp chat