व्हाट्सएप लाया सेंड टू UPI फीचर, दूसरे पेमेंट ऐप के लिए हो सकती है मुश्किल

Advertisements

NEWS IN HINDI

व्हाट्सएप लाया सेंड टू UPI फीचर, दूसरे पेमेंट ऐप के लिए हो सकती है मुश्किल

नई दिल्ली। इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप व्हाट्सएप अपना पेमेंट फीचर शुरू कर चुकी है। हालांकि, यह फीचर अभी सभी यूजर्स के पास उपलब्ध नहीं हो पाया है। उम्मीद है की जल्द सभी यूजर्स के पास यह अपडेट उपलब्ध हो जाएगा। अब व्हाट्सएप में यूजर सीधे सेंड टू यूपीआई आईडी फीचर का लुफ्त उठा पाएंगे। यानी कि अब आपको बैंक डिटेल्स डालने और पूरी प्रक्रिया को फॉलो करने के तामझाम से निजात मिल जाएगा।

कैसे करें फीचर का इस्तेमाल?

यूजर्स यूपीआई आईडी पर अब सीधे पैसे भेज पाएंगे। अब इसके अंतर्गत यूजर सीधे सेंड टू यूपीआई का इस्तेमाल कर पाएंगे। इसका इस्तेमाल करने के लिए अब चैट में जाने की भी जरुरत नहीं है। आपको यह नया फीचर व्हाट्सएप सेटिंग्स में मिलेगा। सेटिंग्स में पेमेंट पर जाएं। इसके बाद सेंड पेमेंट पर टैप करें। इसमें सेंड टू यूपीआई आईडी का चयन कर लें। बस इतनी आसानी से बस 4 स्टेप्स में आप पेमेंट कर पाएंगे।

आपको बता दें, इससे पहले यूजर्स को चैट में जाकर प्लस बटन का इस्तेमाल करना पड़ता था। अब नंबर अटैच नहीं होने पर भी यूपीआई आईडी डालकर सीधे पेमेंट की जा सकेगी। अगर आपके पास यूपीआई आईडी नहीं है, तो इसे किसी भी सरकारी या निजी पेमेंट बैंक से हासिल किया जा सकता है।

एप के किस वर्जन पर उपलब्ध यह फीचर?

यह नया फीचर V2.18. 31 स्टेबल वर्जन पर उपलब्ध है। फिलहाल, यह सिर्फ आईओएस यूजर्स के लिए उपलब्ध कराया गया है। एंड्रॉयड यूजर्स के लिए यह फीचर बीटा वर्जन V2.18.75 पर उपलब्ध है।

इस फीचर के अलावा ऐप में नोटिफाई बटन भी जोड़े गए हैं। इससे यूजर को पेमेंट के पूरा होने की जानकारी दी जाएगी। पैसे भेजने वाले और रिसीव करने वाले, दोनों को नोटिफाई किया जाएगा।

व्हाट्सएप देगा अन्य एप्स को कड़ी चुनौती

भारत में व्हाट्सएप से पहले भी UPI के क्षेत्र में कई प्रतिस्पर्धी मौजूद हैं। दिसंबर 2016 में भीम UPI के लॉन्च होने के बाद से इसे इस्तेमाल करने का चलन बढ़ा। व्हाट्सएप का UPI प्लेटफार्म पहले से मौजूद पेमेंट एप्स जैसे पेटीएम और गूगल तेज के लिए बड़ा खतरा हो सकता है। इसके अलावा यह उन मैसेजिंग एप्स के लिए भी बड़ी चुनौती साबित होगी, जो मैसेजिंग सेवा के जरिए बाजार में अपनी जगह बनाने की जुगत में हैं, जैसे की ट्रूकॉलर और हाइक।

ऊपर बताई गई एप्स के पास अपने-अपने UPI प्लेटफार्म हैं। नीचे हम आपको इसकी डिटेल्स बताने जा रहे हैं की इन एप्स से UPI के जरिए किस तरह पैसे भेजे और रिसीव किए जा सकते हैं।

पेटीएम: भारत में पेटीएम बड़े मोबाइल वॉलेट्स में से एक है। खासकर नोटबंदी के बाद से पेटीएम के बिजनेस में बड़ा बूम देखने को मिला है। पेटीएम की शुरुआत डिजिटल वॉलेट के रूप में हुई थी, लेकिन अब यह एक बड़े प्लेटफार्म का रूप ले चुका है।

पेटीएम में अब पेटीएम मॉल, पेटीएम बैंक समेत कई अन्य फीचर्स भी दिए जा रहे हैं। इसमें भीम UPI भी इंटीग्रेटेड है। इससे UPI पर आधारित ट्रांजैक्शंस की जा सकती हैं। व्हाट्सएप से प्रतिस्पर्धा करते हुए पेटीएम ने पिछले नवम्बर इनबॉक्स सेवा का आरम्भ किया। पेटीएम इनबॉक्स में यूजर्स चैट, नोटिफिकेशन्स, ऑर्डर्स और गेम्स आदि ढूंढ सकते हैं। चैट में ही पैसे भेजे और रिसीव किए जा सकते हैं।

गूगल तेज: गूगल ने भारतीय डिजिटल पेमेंट सेवा में पिछले सितम्बर तेज लॉन्च करके एंट्री की। सर्च दिग्गज गूगल की मोबाइल पेमेंट सेवा गूगल तेज आईओएस और एंड्रॉयड पर उपलब्ध है। गूगल तेज के जरिए यूजर्स अपने बैंक अकाउंट और अन्य सेवाएं जैसे- UPI, क्यूआर कोड और फोन नंबर से पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं।

इसके अलावा गूगल तेज में कैश मोड का दिलचस्प फीचर भी मौजूद है। इस फीचर की मदद से यूजर्स अपने आस-पास के लोगों को पैसे भेज पाते हैं। इस फीचर में यूजर्स को पैसे ट्रांसफर करते समय बैंक अकाउंट नंबर या फोन नंबर भरने की जरुरत नहीं होती।

हाइक: इन-हाउस मैसेजिंग ऐप हाइक, व्हाट्सएप को सीधी टक्कर देता है। पिछले कुछ महीनों में हाइक ने कई नए फीचर्स पेश किए हैं। इसमें से कुछ- स्नैपचैट-लाइक स्टोरीज, टाइमलाइन फॉर पोस्ट्स और सबसे जरुरी हाइक वॉलेट है। 2017 जून में लॉन्च हुए हाइक की भी पेटीएम की तरह अपनी वॉलेट सर्विस है। हाइक वॉलेट के जरिए यूजर्स पैसे भेज और रिसीव कर सकते हैं और मोबाइल नंबर रिचार्ज करा सकते हैं। हाइक वॉलेट में ही UPI का विकल्प मौजूद है।

ट्रूकॉलर: ट्रूकॉलर एक ऐसी एप है, जिसने अपने प्लेटफार्म पर कई अलग-अलग फीचर्स उपलब्ध करवाने की कोशिश की है। इस ऐप की शुरुआत एक कॉलर आईडी की तरह हुई थी। इस फोन नंबर ढूंढ़ने वाली ऐप में ऑफर करने के लिए कई टूल्स मौजूद हैं। ट्रूकॉलर अपना कस्टम डाइलर, कांटेक्ट लिस्ट और मैसेजिंग इनबॉक्स ऑफर करता है। ट्रूकॉलर का UPI तीन अलग-अलग तरीकों से कार्य करता है। इसमें पैसे भेजना, स्कैन करके पे करना और मोबाइल बिल्स रिचार्ज करना सम्मिलित है।

 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

 

NEWS IN ENGLISH

Whatsapp brought send to UPI feature, may be difficult for other payment app

new Delhi. Instant Messaging App Whatsapp has started its payment feature. However, this feature has not yet been made available to all users. Hopefully this update will be available to all users soon. Now users will be able to take advantage of the Send to UPA ID feature in WhatsAppSet. That is, you will now get rid of the frills of putting bank details and following the entire process.

How to use the feature?

Users can now send money directly to the user ID. Now users will be able to use Send to UP directly. There is no need to go to chat to use it anymore. You will find this new feature in WhatsApp settings. Go to Payments in Settings. Then tap on Send Payment. Select Send to UPI ID in it. Just so easily you can pay in just 4 steps.

Let us know, before this, users had to go to chat and use the plus button. Now, the number will not be attached, but it can be made directly by putting the user ID. If you do not have a UPI ID, then it can be obtained from any government or private payment bank.

Which version of this app is available on this feature?

This new feature is V2.18. Available on 31stable version. For the time being, it has been made available to iOS users only. This feature is available for Android users on beta version V2.18.75.

In addition to this feature, notification buttons have also been added to the app. This will give the user information about the completion of the payment. Both the sender and the receiver will be notified.

Whatsapp will challenge other apps

There are many competitors in the field of UPI even before the whitespace in India. In December 2016, after the launch of Bhima UPI, the trend of using it. Whatsapp’s UPI platform can be a major risk for pre-existing payment apps such as PettyM and Google Teas. Apart from this, it will also prove to be a big challenge for messaging apps, which are in the process of making their place in the market through messaging services, such as the tractor and hike.

The above mentioned apps have their own UPI platforms. Below we are going to tell you its details how money can be sent and received through UPI through UPI.

Peti M: PetiM is one of the largest mobile walts in India. Particularly after the ban on paper, there is a big boom in the business of Patyam. PettyM was introduced in the form of digital wallet, but now it has taken the form of a big platform.

There are now many other features, including Peti M Mall, Patyme Bank, in Patmi. In this Bhima UPI is also integrated. This can be done through transactions based on UPI. While competing with Whatsapp, Patyam started the previous November Inbox service. Users can find chats, notifications, orders and games in the box in Inbox. Money can be sent and received in chat only.

Google Fast: Google enters Indian Digital Payment Service by launching it fast last September. Search giant Google’s mobile payment service is available on Google Bright iOS and Android. Through Google Fast, users can transfer money from their bank accounts and other services such as UPI, QR code and phone number.

In addition, there is also an interesting feature of cash mode in Google Fast. With this feature, users can send money to people around them. In this feature, users are not required to enter bank account number or phone number while transferring money.

Hike: In-House Messaging App Hike gives direct competition to What’sapp. Hike has introduced many new features in the past few months. Some of this – Snapchat-Like Stories, Timeline for Posts, and the Most Needed Hike Wallet. Launching hike in June 2017 also has its own wallet service like Patmium. Users can send and receive money through Hike Wallet and recharge mobile numbers. Hike wallet has the option of UPI only.

TrueCollar: The tractor is an app that has tried to provide many different features on its platform. This app started like a caller ID. There are several tools available to offer this phone number in the app. The tractor offers its custom dialer, contact list and messaging inbox. The Tracker’s UPI works in three different ways. This includes sending money, scanning and recharging mobile bills.

 

To get the latest updates, click on the link: https://www.facebook.com/samacharokiduniya/Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements

 

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.