कोरोना के आगे हुई जीत, पति-पत्नी और पुत्र, खेड़ीरामोसी निवासी युवती, मोखामाल निवासी युवती के साहस से हारा कोरोना

Advertisements

कोरोना के आगे हुई जीत, पति-पत्नी और पुत्र, खेड़ीरामोसी निवासी युवती, मोखामाल निवासी युवती के साहस से हारा कोरोना


बैतूल। विकासखंड घोड़ाडोंगरी की ग्राम पंचायत रतनपुर के ग्राम शोभापुर में विगत दिनों मुम्बई से आये एक परिवार के पति-पत्नी एवं पुत्र की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोविड केयर सेंटर घोड़ाडोंगरी में उपचार प्रदाय किया गया, बाद में उच्च उपचार हेतु जिला चिकित्सालय बैतूल एवं हमीदिया अस्पताल भोपाल में रैफर कर उपचार प्रदाय किया गया। स्वस्थ होने पर पति-पत्नी एवं पुत्र को उनके गृह ग्राम शुभाकामनाओं के साथ विदा किया गया।

विकासखंड घोड़ाडोंगरी के ग्राम शोभापुर निवासी परिवार (उम्र क्रमश: 34, 27, डेढ वर्ष ) को मुम्बई से लौटकर आने पर 15 मई 2020 को कोविड-केयर सेंटर घोड़ाडोंगरी के अंग्रेजी छात्रावास में क्वारेंटाइन किया गया एवं 16 मई 2020 को सेम्पल लिया गया। इसके पश्चात् 19 मई 2020 को परिवार का सेम्पल पॉजीटिव आया। छोटे बच्चे के आवश्यक उपचार हेतु परिवार को जिला चिकित्सालय बैतूल रैफर किया गया। जिला चिकित्सालय में 23 मई 2020 तक परिवार को उपचार प्रदाय किया गया, बच्चे का सिकलसेल एवं थैलीसीमिया स्क्रीनिंग टेस्ट पॉजीटिव आने पर उच्चतम उपचार हेतु हमीदिया अस्पताल भोपाल रैफर किया गया। परिवार के सदस्यों की द्वितीय सेम्पल रिपोर्ट निगेटिव आने पर भोपाल से छुट्टी देकर घोड़ाडोंगरी भेजा गया, जहां से 05 जून 2020 को स्वस्थ एवं संक्रमण मुक्त होने पर उनके गृह ग्राम शोभापुर रवाना किया गया एवं 14 दिन होम क्वारेंटाइन की सलाह दी गई। मरीजों के साथ ही उनके परिजनों को स्वच्छता का ध्यान रखने, मास्क लगाने एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने हेतु समझाईश दी गई। स्वस्थ होकर घर लौट रहे मरीजों को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र घोड़ाडोंगरी के खंड चिकित्सा अधिकारी डॉ. संजीव शर्मा एवं स्टाफ द्वारा हम होंगे कामयाब गीत से संदेश देकर एवं पुष्पहार भेंट कर आगामी स्वस्थ जीवन की शुभकामनाएं दी गईं।

शोभापुर निवासी परिवार की देखरेख सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र घोड़ाडोंगरी के साथ-साथ बैतूल एवं भोपाल में भी की गई। परिवार की दृढ़ इच्छाशक्ति एवं चिकित्सकों तथा स्टाफ के सामूहिक प्रयासों से कोरोना के विरूद्ध इस जंग को जीत ही लिया गया।  परिवार के सदस्यों ने कहा कि कोरोना पर विजय प्राप्त करने में उपचार के साथ-साथ हमारे अपने साहस का भी बहुत योगदान होता है।


कोरोना योद्धा- खेड़ीरामोसी निवासी युवती कोरोना को मात देकर घर पहुंची

विकासखंड प्रभात पट्टन के ग्राम खेड़ीरामोसी निवासी युवती मुम्बई से 17 मई 2020 को लौटीं, नर्सिंग कोर्स की हुई युवती ने स्वयं को ग्राम के बाहर बने मकान में एहतियात के तौर पर क्वारेंटाईन कर लिया। एम.एम.यू. टीम द्वारा युवती की लगातार जांच एवं निगरानी की गई। इसके पश्चात् 21 मई 2020 को युवती का कोरोना वायरस का प्रथम सेम्पल लिया गया, 23 मई 2020 को जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

पॉजीटिव रिपोर्ट आते ही युवती को तुरंत कोविड केयर सेंटर अनुसूचित जाति सीनियर कन्या छात्रावास प्रभातपट्टन में रखकर उपचार प्रारंभ किया गया। इसके पश्चात् 02 जून 2020 को युवती का दूसरा सेम्पल लिया गया, जिसकी रिपोर्ट निगेटिव आई। शुक्रवार 5 जून 2020 को स्वस्थ होने पर खेड़ीरामोसी निवासी युवती को उनके गृह ग्राम शुभकामनाओं के साथ विदा किया गया। चिकित्सकों द्वारा युवती को आगे भी होम क्वारेंटाइन की सलाह दी गई। स्वस्थ होकर घर लौट रही युवती को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र प्रभात पट्टन के चिकित्सकों एवं स्टाफ द्वारा हम होंगे कामयाब गीत से संदेश देकर एवं पुष्पहार भेंट कर आगामी स्वस्थ जीवन की शुभकामनाएं दी गईं।

इस प्रकार स्वास्थ्य विभाग के खंड चिकित्सा अधिकारी डॉ. जितेन्द्र अत्रे, डॉ. आकांक्षा जोशी, स्टाफ नर्स श्रीमती सरिता बाड़बुदे, श्रीमती पूजा गायकवाड के उपचार एवं प्रयत्नों से खेड़ीरामोसी निवासी युवती कोरोना को मात देकर घर पहुंची।


कोरोना योद्धा- मोखामाल निवासी युवती ने भय को हावी न होने दिया

कोरोना को हराकर सामान्य जीवन में लौट आई युवती

विकासखंड शाहपुर के ग्राम मोखामाल निवासी युवती मुम्बई के पालघर से लौटीं। युवती  का कोरोना वायरस का प्रथम सेम्पल 20 मई 2020 को लिया गया, 22 मई 2020 को जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

पॉजीटिव रिपोर्ट आते ही युवती को 22 मई को कोविड केयर सेंटर बालक छात्रावास शाहपुर में रखकर उपचार प्रारंभ किया गया। इसके पश्चात् 01 जून 2020 को लिये गये द्वितीय सेम्पल की रिपोर्ट 04 जून 2020 को निगेटिव आई। शुक्रवार 5 जून 2020 को स्वस्थ होने पर मोखामाल निवासी युवती को उनके गृह ग्राम शुभकामनाओं के साथ विदा किया गया। चिकित्सकों द्वारा युवती को 14 दिन होम क्वारेंटाईन की सलाह दी गई। स्वस्थ होकर घर लौट रहे मरीज को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र शाहपुर के चिकित्सकों एवं स्टाफ द्वारा हम होंगे कामयाब गीत से संदेश देकर, वैदिक मंत्रोच्चार कर एवं पुष्पहार भेंट कर आगामी स्वस्थ जीवन की शुभकामनाएं दी गईं। मरीज के साथ ही उनके परिजनों को स्वच्छता का ध्यान रखने, मास्क लगाने एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने हेतु समझाइश दी गई।

कोरोना योद्धा मोखामाल निवासी युवती ने बीमारी के भय को अपने ऊपर हावी नहीं होने दिया और कोरोना को हराकर सामान्य जीवन में लौट आई, इनके साहस को बैतूल स्वास्थ्य विभाग नमन करता है। 14 दिनों तक कोविड केयर सेंटर शाहपुर में रखकर इनका पूर्ण उपचार किया गया। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र शाहपुर के खंड चिकित्सा अधिकारी डॉ. शैलेन्द्र साहू, डॉ. गजेन्द्र यादव, डॉ. विजय सिंह, स्टाफ नर्स श्रीमती शशि माला लाजरस, सुश्री एश्वर्या राज, मेल स्टाफ नर्स श्री राजेश श्रीवास, लेब टेक्नीशियन श्री राधागोविन्द शुक्ला, श्रीमती कविता ठाकुर, रसोईया श्री बनवारी एवं सफाईकर्मी श्री संजय बागडे का विशेष सहयोग रहा। बीईई श्री भगतसिंह उइके एवं बीपीएम श्री बलदेव नागले ने भी सहयोग दिया।
चिकित्सालय से मोखामाल निवासी युवती को 108 एम्बुलेंस में घर तक छोड़ा गया, जैसे ही वे अपने गृह ग्राम पहुंचीं तो परिजनों एवं नगरवासियों ने पुष्पों की बौछार की। युवती ने चर्चा में बताया कि वह जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग में उपचार दे रहे चिकित्सकों, नर्सेस एवं अन्य स्टाफ की आभारी हैं। उनके द्वारा स्वास्थ्य विभाग की खान-पान की उचित व्यवस्थाओं एवं देखरेख तथा चिकित्सकीय स्टाफ के व्यवहार की प्रशंसा की गई।

Advertisements

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error:
WhatsApp chat