बिजली के झूलते तारों से ग्रामीण परेशान, लापरवाह बिजली विभाग है सुस्त

Advertisements

बिजली के झूलते तारों से ग्रामीण परेशान, लापरवाह बिजली विभाग है सुस्त


खेड़ली बाजार, (सचिन बिहारिया)। मध्यप्रदेश मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी बोरदेही के अंतर्गत आने वाले ग्राम हरन्या में रेलवे स्टेशन जाने वाले मार्ग पर बिजली के तार इस कदर भूल गए हैं कि कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है। विगत कई वर्षों से ये तार यूं ही झूल रहे हैं जिससे आने जाने वाले लोगों को और उस मार्ग से आने जाने वाले वाहनों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। समय-समय पर बिजली विभाग द्वारा लापरवाही कि घटनाएं सामने आती रहती है। कभी कभी यह लापरवाही किसी भी आम जन की मौत का सबब बन जाती है। ऐसी ही एक लापरवाही बोरदेही के बिजली विभाग के कर्मचारियों द्वारा की जा रही है,मुख्य मार्ग से पर झूलते बिजली के तारों से ग्रामीण परेशान हैं,यह तार इतने झूल गए हैं कि आसानी से कोई भी इन्हें छू सकता है।

ग्राम हरन्या में घनी आबादी वाले क्षेत्र में बिजली विभाग की लापरवाही के चलते रेलवे स्टेशन जाने वाले मार्ग पर बिजली के तार झूलने के कारण कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है। विगत कई वर्षों से यह तार नीचे आ गऐ है लेकिन विभाग के किसी भी अधिकारी कर्मचारी द्वारा इन झूलते बिजली के तार की कोई उचित व्यवस्था नहीं की और ना ही इसके लिए कोई प्रयास किए।

बिजली विभाग द्वारा लापरवाही की स्थिति यह है कि उस ग्राम में लोगों का प्रतिदिन उस मार्ग से का रेलवे स्टेशन की ओर आना जाना लगा रहता है,फिर भी किसी भी जिम्मेदार ने इसके निराकरण हेतु कोई ठोस प्रयास नही किया,सभी इसकी अनदेखी कर आगे बढ़ जाते हैं। इस समस्या के लिए ग्राम वासियों द्वारा जिम्मेदार उच्च अधिकारियों को सूचित भी किया तब भी लाइन नहीं सुधारी गई।बिजली के तार जमीन के करीब झूलने लगे जिससे कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है, बिजली की लाइन के पास से प्रतिदिन सैकड़ों छोटे बड़े वाहन गुजरते हैं तार झूलने के कारण आने जाने वाले वाहनों को भी काफी मुश्किल हो जाती है।आखिर इतनी बड़ी लापरवाही का कारण क्या है ??

बोरदेही के बिजली आफिस में पदस्थ जे ई जो कि अपने मुख्यालय बोरदेही में रहते हैं, फिर भी उन्होंने इस समस्या पर अब तक ध्यान क्यों नहीं दिया, जबकि उस मार्ग पर प्रतिदिन आवागमन रहता है।इस तरह की लापरवाही खामियाजा गांव के बेकसूर लोगों को भूगतना पड़ेगा, इन झूलते हुए बिजली के तारों से ग्राम में यदि किसी प्रकार से जन हानि होती है तो उसका जिम्मेदार कौन रहेगा? इस संबंध में जब मध्यप्रदेश मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के जे.ई. विनोद कुमार कोकाड़े से बात करनी चाही तो उन्होंने उचित जवाब नहीं दिया फोन पर जानकारी देने का टाइम नहीं है कहा और ए.ई.आमला से बात करने का कहकर फोन काट दिया।

मध्य प्रदेश मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के कर्मचारीयों के ग्रामीण क्षेत्रों में इतनी लापरवाही के मामले लगातार सामने आते हैं, आखिर इन पर किसका वरदहस्त है जिस कारण किसी से नहीं डरते। इसके पूर्व में भी बोरदेही क्षेत्र में बिजली के खंभों पर काम करते हुए अचानक लाइन चालू हो जाने से कर्मचारी की मृत्यु हो चुकी थी जिसमें भी बिजली विभाग की लापरवाही सामने आई थी। कभी ना कभी किसी ना किसी मामले में ग्रामीण क्षेत्र के विद्युत कर्मचारी सुर्खियों में बने रहते हैं। ग्राम वासियों ने जल्द ही इस समस्या का निराकरण करने की मांग की है अन्यथा समस्या को लेकर आमला विधायक , जिले के सांसद सहित उच्च अधिकारियों को शिकायत करने की तैयारी कर ली है।


इनका कहना है।

आप ऑफिस आ कर जानकारी ले लो, फोन पर जानकारी देने का टाइम नहीं है। नहीं तो ए.ई. आमला से बात कर लो।

विनोद कुमार कोकाड़े (जे.ई.), मध्यप्रदेश मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी, बोरदेही


आपके माध्यम से जानकारी प्राप्त हुई है, बिजली के तार झूलने लगे हैं तो जल्द ही समस्या का समाधान कर दिया जाएगा।

ए ई आमला (ग्रामीण), मध्य प्रदेश मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी, आमला


 

Advertisements

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error:
WhatsApp chat