जिला चिकित्सालय के डीसीएचसी से एक मरीज एवं 21 वर्षीय युवक ने कोरोना को मात दी

Advertisements

जिला चिकित्सालय के डीसीएचसी से एक मरीज एवं 21 वर्षीय युवक ने कोरोना को मात दी


बैतूल। जिले के आठनेर निवासी 21 वर्षीय युवक 24 जून को 2020 को दिल्ली से आठनेर पहुँचा।  सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र आठनेर की टीम द्वारा उन्हें प्राथमिक जाँच कर तुरंत क्वारेंटाइन कर दिया गया। चंूकि युवक दिल्ली से आया था, इस कारण सैंपलिंग ली गई एवं रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई। रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर डॉ. सुमित पटैया द्वारा उन्हें तत्काल सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र आठनेर के कोविड केयर सेन्टर शासकीय छात्रावास में रखा गया एवं निरंतर स्वास्थ्य जाँच कर दवाइयां दी गईं। युवक की रिपोर्ट 06 जुलाई को निगेटिव आने पर स्वास्थ्य विभाग आठनेर के चिकित्सकों एवं कर्मचारियों द्वारा युवक की छुट्टी की गई। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. अरविंद भट्ट, बीएमओ डॉ. ऋषि माहोर, नोडल अधिकारी डॉ. सुमित पटैया एवं एसआरआरटी टीम के डॉ. प्रीति नरवरे, डॉ. सुशील सोनी, डॉ. शरद जितपुरे, फार्मासिस्ट श्री अमित सोनी, श्री नितेश घोटे एवं स्वास्थ्य विभाग के अन्य कर्मचारियों द्वारा पुष्प गुच्छ भेंट कर विदाई दी गई। युवक को 14 दिन होम क्वारेन्टाइन रहने की सलाह दी गई।


जिला चिकित्सालय के डीसीएचसी से एक मरीज कोरोना को हराकर घर पहुंचा

बैतूल। जिला मुख्यालय के विवेकानंद वार्ड निवासी 60 वर्षीय पुरूष को 07 जुलाई 2020 को कोरोना के संक्रमण से मुक्त होने पर उनके घर हेतु रवाना किया गया। पुरूष की रिपोर्ट पॉजीटिव आने पर उसे डीसीएचसी बैतूल में रखा गया था जहां उनकी नियमित जांच, उपचार एवं देखभाल डीसीएचसी स्टाफ द्वारा की गई। मंगलवार 07 जुलाई को जिला चिकित्सालय के सिविल सर्जन डॉ. अशोक बारंगा, चिकित्सकों एवं स्टाफ सदस्यों द्वारा शुभकामनाएं देकर पुरूष को घर रवाना किया गया, साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने, बार-बार हाथ धोनें तथा मास्क का उपयोग करने हेतु परामर्श प्रदाय किया गया। चिकित्सा विशेषज्ञ डॉ. ओ.पी. माहौर, डॉ. प्रमोद मालवीय, शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. जगदीश घोरे एवं स्टाफ नर्सेस द्वारा सतत् सेवाएं प्रदान की गईं, जिसके फलस्वरूप पुरूष स्वस्थ होकर खुशी-खुशी घर रवाना हुआ।

Advertisements

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error:
WhatsApp chat