अनलॉक 4.0 गाइडलाइंस की घोषणा,जानिए 1 सितंबर से क्या-क्या खुला, किस पर रोक

Advertisements

अनलॉक 4.0 गाइडलाइंस की घोषणा,जानिए 1 सितंबर से क्या-क्या खुला, किस पर रोक


नई दिल्ली। अनलॉक 4.0 गाइडलाइंस की घोषणा कर दी गई है। 7 सितंबर से चरणबद्ध तरीके से मेट्रो चलाने की मंजूरी दी गई है। सरकार की ओर से जारी गाइडलाइंस में कहा गया है कि गृह मंत्रालय के परामर्श के साथ शहरी विकास मंत्रालय/ रेलवे मंत्रालय के द्वारा मेट्रो ट्रेनों को 7 सितंबर से चरणबद्ध तरीके से चलाया गया जाएगा। कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए लागू लॉकडाउन की वजह से 22 मार्च से ही देशभर में मेट्रो परिचालन बंद है। 

मेट्रो सेवा शुरू होने से दिल्ली एनसीआर के लोगों को बड़ी राहत मिलेगी जो दफ्तर या अन्य जगहों पर जाने के लिए मेट्रो की सवारी पसंद करते हैं। कोरोना काल में मेट्रो को सुरक्षित तरीके से चलाने के लिए खास तैयारी की गई है। इस बीच डीएमआरसी ने कहा है कि गृह मंत्रालय द्वारा अनलॉक-4 के तहत जारी हालिया दिशा-निर्देशों के मुताबिक दिल्ली मेट्रो की सेवा 7 सितंबर से क्रम बद्ध तरीके से बहाल होगी। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि मेट्रो का संचालन शुरू किए जाने की अनुमति मिलने से खुश हूं। 

दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) ने पिछले सप्ताह कहा था कि उसे जब भी सरकार से निर्देश प्राप्त होगा, वह अपना परिचालन बाहल करने के लिए तैयार रहेगी। सुरक्षा के सारे उपाय तैयार कर लिए गए। 

अधिकारियों ने बताया कि मेट्रो स्टेशनों और ट्रेनों में मास्क लगाना अनिवार्य होगा और बिना मास्क वालों को मेट्रो परिसर में घुसने नहीं दिया जाएगा। साथ ही एक दूसरे के बीच दूरी का भी पालन किया जाएगा।  सूत्र ने कहा, ” ट्रेनें यात्रियों के चढ़ने उतरने के लिए नियमित दिनों की तुलना में अधिक देर तक रूकेंगी ताकि सवारी ऐसा करते समय एक दूसरे से दूरी बनाकर रख पाएं। साथ ही लिफ्ट में प्रवेश करने वालों की संख्या सीमित की जाएगी और सटीक संख्या पर अभी विचार विमर्श चल रहा है।”

अब ऑटो टॉप अप के नये स्मार्ट कार्ड से लेकर सीटों और प्लेटफार्म के फ्लोर पर स्टिकर चिपकाए जाएंगे ताकि एक दूसरे के बीच दूरी बनी रहे। हाल ही में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली मेट्रो की बहाली की मांग की थी।

केन्द्र सरकार की तरफ से अनलॉक 4.0 को लेकर शनिवार को जारी गाइडलाइंस में कोविड-19 को लेकर लगे देशव्यापी प्रतिबंधों में कई छूट देते हुए बड़ी राहत दी गई है। अब राज्य जहां कंटेनमेंट जोन के बाहर लॉकडाउन अपनी मर्जी से नहीं लगा पाएंगे तो वहीं मेट्रो सेवा 7 सितंबर से चरणबद्ध तरीके से शुरू होने जा रही है। केन्द्र सरकार की तरफ से शनिवार की शाम को अनलॉक 4.0 की घोषणा करते हुए मेट्रो, खेल, मनोरंजन, धार्मिक, राजनीतिक कार्यक्रमों की इजाजत दे दी गई।

हालांकि, 21 सितंबर से यह आदेश प्रभावी होगी। केन्द्र सरकार की तरफ से इसके लिए अधिकतम 100 लोगों के एक साथ इकट्ठा होने की इजाजत दी गई है। कोरोना वायरस महामारी के चलते बंद पड़ी मेट्रो सेवा को 7 सितंबर से चरणबद्ध तरीके से चलाने की इजाजत दी गई है। लेकिन, केन्द्र ने कहा है कि कंटेनमेंट जोन में 30 सितंबर तक कड़ाई के साथ लॉकडाउन के नियमों का पालन कराया जाएगा।

अनलॉक 4.0 के दौरान स्कूल, कॉलेज, शैक्षिणक और कोचिंग संस्थानों को छात्रों और नियमित क्लास गतिविधियों के लिए 30 सितंबर तक बंद रखना होगा।

सरकार ने कहा कि ऑनलाइन/ डिस्टेंस लर्निंग को जारी रखा जाएगा और उसे बढ़ावा दिया जाएगा। केन्द्र ने कहा कि 9 से 12वीं कक्षा तक के छात्रों को कंटेनमेंट जोन के बाहर स्कूलों में अपने शिक्षकों से मार्ग दर्शन के लिए जाने की इजाजत दी जा सकती है। लेकिन, सरकार ने कहा कि यह छात्रों की माता-पिता की लिखित सहमति का पर निर्भर होगा।

ओपन एयर थिएटर्स को 21 सितंबर से खोलने की इजाजत दी गई है। सिनेमा हॉल, स्विमिंग पुल, मनोरंज पार्क, थिएटर्स (ओपन थिएटर को छोड़कर) और ऐसी जगहों पर बंद रखने का आदेश दिया गया है।

अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा की इजाजत नहीं दी गई है।

कंटेनमेंट जोन के अंदर कड़ाई से लॉकडाउन के नियमों का पालन होगा और सिर्फ आवश्यक गतिविधियों की ही इजाजत दी जाएंगी।

एडवाइजरी में यह भी कहा गया है कि कोई भी राज्य या केन्द्र शासित प्रदेश स्थानीय स्तर पर कोई लॉकडाउन नहीं लगाएगा।

पिछले हफ्ते में भारत में कोविड-19 के 69,558 औसत मामले सामने आए हैं। इसके बाद अमेरिका में 25 जुलाई को खत्म हुए सप्ताह के दौरान आए रिकॉर्ड 39,339 के औसत केस को भी भारत पार कर गया ह। शुक्रवार को भारत में कोरोना के 76,139 नए मामले आने के बाद यहां पर कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 34 लाख 58 हजार 186 हो गई है।

Advertisements

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error:
WhatsApp chat