अगर आप भी भरने जा रहे हैं ITR, तो पहले इन 5 डॉक्युमेंट का कर लें इंतजाम, नहीं तो हो सकती है परेशानी

Advertisements

अगर आप भी भरने जा रहे हैं ITR, तो पहले इन 5 डॉक्युमेंट का कर लें इंतजाम, नहीं तो हो सकती है परेशानी


अगर आप सैलरीड क्लास से हैं तो आईटीआर फाइल करने के लिए यह एक बेहद अहम डॉक्युमेंट है। फॉर्म 16 एक सर्टिफिकेट है, जिसमें कर्मचारी की सैलरी से काटे गए टीडीएस (TDS) की जानकारी होती है। इससे यह भी पता चलता है कि संस्थान ने टीडीएस काटकर सरकार को जमा कर दिया है।

आयकर रिटर्न को फाइल करने के लिए आपको Aadhaar की जानकारी देना जरूरी है। आयकर अधिनियम की धारा 139एए के मुताबिक, अपनी आय के रिटर्न को फाइल करते समय अपना आधार की डिटेल्स जरूरी है। तो आपना आधार भी निकाल कर रख लें।

इस साल रिटर्न फॉर्म में टैक्सपेयर्स को अपनी ब्याज से होने वाली इनकम के बारे में भी जानकारी देनी होगी। जैसे उन्‍हें बचत खाते, फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट या किसी अन्य सोर्स से होने वाली ब्‍याज से आय की जानकारी देनी है। धारा 80टीटीए के तहत 10 हजार रुपए तक की ब्‍याज आय पर छूट का फायदा लिया जा सकता है।

फाइनेंशियल ईयर 2019-20 के दौरान धारा 80सी, 80सीसीसी और 80सीसीडी (1) के तहत किए गए सभी निवेश और खर्च से आप टैक्स में छूट का फायदा ले सकते हैं। इनके तहत अधिकतम डेढ़ लाख रुपए की छूट मिल सकती है।

आईटीआर फाइल करते समय आपको अपने तमाम बैंक खातों के बारे में जानकारी देनी होगी। रिटर्न फाइल करते समय आपको बैंक का नाम, खाता संख्या, खाते का प्रकार और आईएफएससी कोड देना होगा।

Advertisements

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error:
WhatsApp chat