पांचो श्रमिक संगठनों ने संयुक्त रूप से मुख्य महाप्रबंधक को सौंपा ज्ञापन

Advertisements

पांचो श्रमिक संगठनों ने संयुक्त रूप से मुख्य महाप्रबंधक को सौंपा ज्ञापन


सारनी, (ब्यूरो)। वेकोलि के संयुक्त मोर्चे के द्वारा 8 अक्टूबर को विरोध दिवस को लेकर अध्यक्ष कोल इंडिया के नाम मुख्य महाप्रबंधक के नाम ज्ञापन सौंपा गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार कोल इंडिया में 23 एवं 4 जुलाई 2020 के 3 दिवसीय सफल हड़ताल के पूर्व कोयला सचिव को 1 अगस्त के हड़ताल नोटिस के नीतिगत मांगों में अतिरिक्त मांगों को जोड़ते हुए पांच केन्द्रीय मजदूर संगठन संयुक्त रूप से 30 सितंबर को वेकोलि के पाथाखेडा क्षेत्र में मांग-पत्र प्रेषित किया गया।

जिसमें 9 सूत्रीय मांगे शामिल हैं। इस ज्ञापन के दौरान संयुक्त मोर्चे ने कहा कि यदि इन मांगों पर उचित कार्यवाही नहीं हुई तो पांचों श्रमिक संगठन क्षेत्रीय मुख्यालय पर 8 अक्टूबर को संयुक्त धरना प्रदर्शन द्वारा “विरोध दिवस” मनायेंगे।

जिनमें कोल ब्लाकों की कामर्शियल माईनिंग हेतु प्रस्तावित नीलामी को रद्ध किया जाने। कोल इंडिया के शेयरों के विनिवेश अथवा बाई बैक पर तत्काल रोक लगाई जाये और कोल इंडिया को कमजोर करने के किसी भी कदम को तुरंत रोका जाने। सीएमपीडीआई को कोल इंडिया से अलग करने की योजना पर तत्काल रोक लगाई जाने।

कोल इंडिया में ठेका मजदूरों के लिए कोल इंडिया की हाई पावर कमेटी द्वारा निर्धारित वेतन भुगतान लागू करना सुनिश्चित किया जाने (Ref.:CIL परिपत्र संख्या C-B/JBCCVHPC/566 दिनांक 18.02.2013)। कोल वेज एग्रीमेन्ट की धारा 9.3.0, 9.4.0, 9.50 का कार्यान्वयन सुनिश्चित किया जाने, आई.आई.76 के
अन्तर्गत आयु सुधार – 01.01.2017 से 20 लाख ग्रेच्युटी एवं पेंशन (CMPS-1998) में बढ़ोत्तरी
इत्यादि का अमलीकरण किया जाये की मांग शामिल हैं।

इसके अलावा संयुक्त मोर्चे ने चालू खदानों के बंद करने का निर्णय वापस लिया जाये एवं बंद खदानों को पुनः चालू किया जाने। 30 वर्ष की सेवा या 55 वर्ष की आयु के बाद मजदूरों के जबरन छंटनी करने का निर्णय वापस लिया जाने। भू-आश्रितों को कानूनन भू-मुआवजा एवं भू-आश्रितों को नौकरी की व्यवस्था को पूर्ववत चलाते हुए
Annuity के निर्णय को अविलंब वापस लिया जाने।

कोयला मजदूरों को दुर्गा पूजा के पूर्व Bonus/Ex-gratia के भुगतान पर जल्द से जल्द निर्णय लिया जाने की अतिरिक्त मांग शामिल हैं।

जिसमें बीएमएस से प्रकाश रॉव, बिजेन्दर सिंह, एटक से लक्ष्मण झरबड़े, हबीब अंसारी, राकेश वाईकर, इंटक से आशिक खान, भरत सिंह, एचएमएस अमृतलाल रघुवंशी, अशोक नामदेव, सीटू से कालिका प्रसाद, अशोक बुंदेला, जगदीश डिगरसे, चंदन राय, अंचिन्त डे समेत अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहे।

Advertisements

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error:
WhatsApp chat