पीएम आवास की राशि निकालने दर-दर भटक रहे हितग्राही

Advertisements

पीएम आवास की राशि निकालने दर-दर भटक रहे हितग्राही


सारनी, (ब्यूरो)। पीएम आवास की किस्त का आहरण करने हितग्राहियों को दर -दर भटकना पड़ रहा है। कभी बैंक अपने नियमों का हवाला दे रहे है, तो कभी हितग्राही पंचायतों के सचिव, रोजगार सहायक की मनमानी का शिकार हो रहे है।

ऐसा ही एक मामला विक्रमपुर पंचायत के ग्राम मोरडोंगरी का सामने आया है, जहां पीएम आवास की किस्त तो हितग्राहियों के खाते में आ गई, लेकिन आहरण से पहले ही सचिव ने खातों को होल्ड करवा दिया, जिसके बाद अब राशि निकलने के लिए हितग्राही दर-दर की ठोंकरे खा रहे हैं।

विक्रमपुर पंचायत के ग्राम मोरडोंगरी निवासी हितग्राही सुनीता लोबानसे और सुखवंती सेलुकर ने बताया कि पीएम आवास स्वीकृत हुआ था।

पहली किस्त आने पर प्लेंथ का काम कर लिया और दूसरी किस्त खाते में आते ही मटेरियल भी खरीद लिया, लेकिन मटेरियल भुगतान की राशि आहरण करने बैंक पहुंचे तो सचिव द्वारा खाता होल्ड करवाये जाने की जानकारी दी गई। अब खाता पुन: चालू कराने के लिए उन्हें बार-बार पंचायत के चक्कर काटने पड़ रहे है। वहीं मटेरियल के भुगतान के लिए दुकानदार द्वारा भी परेशान किया जा रहा है।

हितग्राहियों का कहना है कि सचिव और रोजगार सहायक से खाता चालू करने के लिए कहा जाता है तो वे टालामटोली करते है। हितग्राहियों ने घोड़ाडोंगरी जनपद पंचायत सीईओ से शीघ्र खाता चालू करवाने की मांग की हैं।


इनका कहना हैं।

मैं इसकी जानकारी लेता हूं कि किस कारण से हितग्राहियों के खाते होल्ड हुए है। सचिव और रोजगार सहायक द्वारा हितग्राहियों को परेशान किया जा रहा है तो इस संबंध में जांच की जायेगी।

दानिश अहमद खान, सीईओ जनपद पंचायत, घोड़ाडोंगरी


हितग्राहियों द्वारा बेवजह ही राशि निकालकर खर्च कर दी जाती है। जवाब तो हमें देना है इसलिए खाता होल्ड करवाया है। हितग्राही आवेदन कर दे हम खाता चालू करवा देंगे।

सोनू उइके, रोजगार सहायक, विक्रमपुर, पंचायत


 

Advertisements
No tags for this post.

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error:
WhatsApp chat