ग्राम वासियों ने जिला कलेक्टर से की शिकायत, आनन-फानन घटिया निर्माण कार्य शुरू

Advertisements

एक वर्ष पूर्व कागजों मे बनाई दी गौशाला

ग्राम वासियों ने जिला कलेक्टर से की शिकायत, आनन-फानन घटिया निर्माण कार्य शुरू


छिन्दवाड़ा, (दुर्गेश डेहरिया)। आये दिन ग्राम पंचायतों मे विकास कार्यों के लिए शासकीय मद मे भ्रष्टाचार के मामले प्रकाश में आ रहे है। लेकिन संबंधित अधिकारी कार्यवाही करने के बजाए भ्रष्टाचारियों पर अभयदान देकर बचाने का प्रयास करते नजर आने लगे है।

भारी भ्रष्टाचार से जुड़ा मामला जुन्नारदेव जनपद पंचायत की अधीनस्थ अंतिम छोर पर स्थित ग्राम पंचायत ढाकरवाडी से प्रकाश मे आया। मध्य प्रदेश मे पूर्व कमलनाथ सरकार द्वारा 27 लाख 72 हजार रुपये की लागत से निर्मित गौशाला की सौगात दी गई।

ग्राम पंचायत एजेंसी के माध्यम से गौशाला निर्माण कराया जाना था लेकिन भ्रष्टाचारियों ने यहां भी अपने हाथ की सफाई दिखाने मे देर नही की महात्मा गाँधी नेशनल रोजगार गारंटी योजना से निर्मित गौशाला निर्माण कार्य में ग्राम पंचायत ढाकरवाडी के निमोटी मे किया जाना स्वीकृत वर्ष 2018-19 था बैतूल जिले की सीमा के पास ग्राम पंचायत ढाकरवाडी के नागदेव मे गौशाला निर्माण कार्य बकायदा कागजों मे कराया गया।

निर्माण स्थल पर मटेरियल सामग्री डाले बिना बिल लगाकर एई सब इंजीनियर की मिलीभगत से सरपंच सचिव ने राशि आहरण की। गौशाला निर्माण कार्य कागजों में दिखाकर मजदूरों का पैमेंट दर्शाया गया।

जब इस भ्रष्टाचार की परते स्थानीय गांव वालों को सामने दूध का दूध ओर पानी का पानी की माफिक साफ हो गई ग्रामीणों ने कभी सपने में भी सोचा होगा की ग्राम पंचायत के सरपंच सचिव इतना बड़ा भ्रष्टाचार का कीर्तिमान स्थापित करेंगे।

जब ग्रामीणों ने भ्रष्टाचार के खिलाफ जिला कलेक्टर से शिकायत की तो मामला सामने आया आनन-फानन में भ्रष्टाचारी सरपंच सचिव ने गौशाला का गुणवत्ता हीन निर्माण प्रारंभ किया। वही ग्रामवासियों की शिकायत पर सीईओ ओर एई को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

Advertisements
No tags for this post.

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error:
WhatsApp chat