पुलिस को झूठी सुचना देना पड़ा महंगा

Advertisements

पुलिस को झूठी सुचना देना पड़ा महंगा

Advertisements

खेड़ली बाजार, (सचिन बिहारिया)। एक ओर सरकार नागरिकों की सुविधा के लिए योजनाओं का लाभ आम जनता तक पहुंचाने में कोई कसर नही छोड़ रही है।वहीं दूसरी ओर पुलिस प्रशासन भी पूरी मुस्तैदी के साथ अपनी ड्यूटी निभा रही हैं, लेकिन आम जनता उन सुविधाओं का दुरूपयोग करने में कोई कसर नही छोड़ रही है।

ऐसा ही मामला आज बोरदेही थाने में सामने आया है।बोरदेही पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार बुधवार रात के समय लगभग 9 बजे डायल 100 पर सुचना मिलती है कि रामसु पिता गोमजी सलामे उम्र 38 साल निवासी ग्राम कुजबा द्वारा बताया गया की उसकी पत्नी की हत्या हो गई है।

सुचना मिलने पर आनन फानन में बोरदेही थाना मोबाइल वाहन से उपनिरीक्षक नेपालसिंह ठाकुर पुलिस बल के साथ मौके के लिए रवाना हो गये।पुलिस टीम मौके पर पहुचीं तो देखा कि डायल 100 पर फोन करने वाला व्यक्ति रामसु सलामे शराब के नशे में धुत था और उसकी पत्नी सही सलामत जीवित है।रामसु ने फर्जी फोन करके पुलिस को गुमराह किया।

जिसके चलते बोरदेही पुलिस रामसु सलामे को थाने लेकर आई तथा फटकार लगाई।थाने लाने के बाद रामसु सलामे के खिलाफ निरीक्षक प्रवीण कुमरे के निर्देशानुसार उपनिरीक्षक नेपाल सिंह ठाकुर द्वारा रामसु सलामे के विरुद्ध धारा 151,107,116 (3) सीआरपीसी के तहत कार्यवाही की, जिसमे सहायक उपनिरीक्षक शेरसिंह परते,आरक्षक विवेक चौरे,आरक्षक सुभाष,आरक्षक राजकुमार,चालक आरक्षक सेवाराम पंवार की अहम भूमिका रही।

सरकारी सुविधाओं का दुरुपयोग करने पर बोरदेही पुलिस द्वारा क्षेत्र वासियों से अपील की है कि सरकार द्वारा दी जाने वाली सुविधाओं का सदुपयोग करना चाहिए।गलत तरीके से अफवाह फैला कर भ्रमित करना,झूठी सूचना देना, फर्जी फोन कर पुलिस को गुमराह करना दंडनीय अपराध है।पुलिस आमजन की सुविधा के लिए है। भ्रामक स्थिति उत्पन्न हो ऐसा कोई भी कार्य जनता ना करें।


इनका कहना है।

आम जनता ने सरकार को सुविधाओं का दुरुपयोग नहीं करना चाहिए। डायल 100 पर फर्जी फोन करने वाले और गलत सुचना देने वाले पर वैधानिक कार्यवाही की जाऐगी।

प्रवीण कुमरे, थाना प्रभारी, बोरदेही


 

Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.