28 Mar 2021

व्हाट्सएप इस्तेमाल करते हैं तो भूलकर भी ना करें ये सात गलती, हो सकती हैं परेशानी

Advertisements

व्हाट्सएप इस्तेमाल करते हैं तो भूलकर भी ना करें ये सात गलती, हो सकती हैं परेशानी


नई प्राइवेसी पॉलिसी के बाद से कंपनी को थोड़ा नुकसान हुआ है लेकिन यूजर्स बेस पर कुछ ज्यादा फर्क नहीं पड़ा है। आप में से कई लोग होंगे जो व्हाट्सएप इस्तेमाल कर रहे होंगे।

ऐसे में आप लोग तमाम तरह के फोटो-वीडियो और मैसेज एक-दूसरे को भेजते होंगे, लेकिन इन सबके बीच आप कई बार अनजाने में बड़ी गलतियां करते हैं जो आपको जेल की हवा भी खिला सकती है।

आज हम आपको इस रिपोर्ट में यही बताएंगे कि व्हाट्सएप इस्तेमाल करते समय किन-किन बातों का ख्याल रखना चाहिए।

पॉर्न क्लिक शेयर करना

पॉर्न को लेकर पुलिस काफी शख्त है। ऐसे में यदि आप व्हाट्सएप पर पॉर्न या अश्लील वीडियो शेयर करते पकड़े जाते हैं तो आपको जेल की सजा भी हो सकती है। इसके अलावा पुलिस आपके खिलाफ कड़े कदम भी उठा सकती है। साथ ही आपका व्हाट्सएप अकाउंट भी हमेशा के लिए ब्लॉक हो सकता है।
अनजान लोगों को मैसेज करने से रोकें
आपके व्हाट्सएप पर सिर्फ और सिर्फ आपका ही कंट्रोल होना चाहिए। ऐसे में व्हाट्सएप की सेटिंग और कॉन्टेक्ट लिस्ट की जांच समय-समय पर करते रहें। ऐसा ना हो कि कोई भी आपको व्हाट्सएप पर मैसेज कर दे। फालतू लोगों को ब्लॉक करें। उन नंबर को डिलीट कर दें जिन्हें अब जरूरत नहीं है।
प्रोफाइल फोटो के साथ ना दें पूरी जानकारी
कई लोगों की आदत होती है कि अपनी व्हाट्सएप प्रोफाइल में अपनी पूरी कुंडली डाल देते हैं। सुरक्षा के लिहाज से आपको ऐसा नहीं करना चाहिए। प्रोफाइल फोटो में पूरे परिवार की फोटो का भी इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। आमतौर पर प्रोफाइल फोटो में ग्रुफ फोटो लगाने से भी बचना चाहिए।
प्रोफाइल फोटो की प्राइवेसी के लिए तीन विकल्प भी मिलते हैं जिनकी सेटिंग आप कर सकते हैं। उसके बाद आपकी प्रोफाइल फोटो को वही लोग देखेंगे जिन्हें आप दिखाना चाहते हैं।
टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन ऑन ना करना
अधिकतर लोग व्हाट्सएप को इस्तेमाल करते हैं लेकिन टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन इस्तेमाल नहीं करते हैं, ऐसे में सिम स्वैप करके आपके नंबर से दूसरे व्हाट्सएप अकाउंट इस्तेमाल करने की संभावना बढ़ जाती है। व्हाट्सएप की सेटिंग्स में जाकर टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन को ऑन कर दें। इसके बाद कोई आपके नंबर से व्हाट्सएप इस्तेमाल नहीं कर पाएगा।
व्हाट्सएप एप को फिंगरप्रिंट या फेस आईडी से लॉक नहीं करना
व्हाट्सएप ने खासतौर पर एप को लॉक करने के लिए फिंगरप्रिंट और फेस आईडी लॉक दे दिया है, लेकिन इसका इस्तेमाल बहुत ही कम लोग करते हैं। इस सेटिंग के साथ व्हाट्सएप एप में ऑटोमेटिक लॉक का भी विकल्प मिलता है। इसकी सेटिंग आपको प्राइवेसी सेटिंग में मिल जाएगी। 
ग्रुप में एड करने से मना ना करना
व्हाट्सएप में यह भी सुविधा है कि आप अपने हिसाब से किसी ग्रुप में एड हो सकते हैं यानी कोई चाहकर भी आपको किसी व्हाट्सएप ग्रुप में एड  नहीं कर सकता, लेकिन इसके लिए आपको एक सेटिंग करनी होगी। किसी को भी ग्रुप में एड करने की सुविधा देने के बाद आपके साथ खतरा हो सकता है।
मान लीजिए किसी ग्रुप में कोई आपत्तिजन वीडियो आ गया और सभी लोगों ने ग्रुप छोड़ दिया तो आप अपने आप ही एडमिन हो जाएंगे और फिर पुलिस आप से ही पूछताछ करेगी। तो ग्रुप एड की सेटिंग जरूर करें।
ऑटो बैकअप बंद ना करना
यदि चेक किया जाए को अधिकतर लोगों का व्हाट्सएप ऑटो बैकअप पर होगा, जो कि नहीं होना चाहिए। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि व्हाट्सएप सिर्फ अपने प्लेटफॉर्म पर आपके मैसेज की प्राइवेसी की जिम्मेदारी लेता है, ना कि गूगल ड्राइव और आईक्लॉउड जैसे थर्ड पार्टी प्लेटफॉर्म पर।
बैकअप होने के साथ ही आपका चैट प्राइवेट नहीं रह जाता है। सुशांत सिंह राजपूत के मामले में आपने देखा ही होगा कि तीन साल पुराने चैट निकाल लिए गए थे।
Advertisements
No tags for this post.

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error:
WhatsApp chat