पटवारी संघ की वर्षों से लंबित मांगों के निराकरण के लिए सौंपा ज्ञापन

Advertisements

पटवारी संघ की वर्षों से लंबित मांगों के निराकरण के लिए सौंपा ज्ञापन


घोड़ाडोंगरी, (विशाल घोड़की)। पटवारी संघ की वर्षों से लंबित मांगों का निराकरण कर आदेश प्रसारित किये जाने के संबंध मे मुख्यमंत्री के नाम तहसीलदार घोड़ाडोंगरी को पटवारी संघ द्वाराज्ञापन सौंपा गया।

पटवारी संघ के अध्यक्ष रामलाल कुमरे ने बताया कि मध्यप्रदेश के पटवारी वर्ग निरंतर किसानों व शासन के मध्य में कड़ी के रूप में कार्य कर शासन की अधिकांश योजनाओं का सफलता पूर्वक क्रियान्वयन कर रहा है।

यह कि अल्प संसाधनों के बावजूद प्रदेश का पटवारी शासन व किसान हित के प्रति हृढ़संकल्पित होकर विभिन्न प्रकार के तकनीकी सॉफ्टवेयर मोबाइल ऐप, वेब पोर्टल, टीएसएम मशीन, तकनीकी उपकरणों आदि पर तकनीकी व विभागीय कार्यों का कुशल संपादन कर रहा है साथ ही शासन के 56 विभागों का कार्य कर रहा हैं।

जिससे कृषकों में शासन की उत्वल छवि निर्मित होकर उनका आर्थिक व सामाजिक सशक्तिकरण होने के साथ ही राजस्व विभाग म.प्र शासन को भारत सरकार द्वारा निरंतर सम्मान प्राप्त हो रहा है।

यह कि चौबीसों घंटे सातों दिवस निरंतर कार्यों के संपादन किये जाने के उपरान्त भी आज तक वर्षों से पटवारी संघ की न्यायोचित मांगे के सम्बन्ध में निरंतर ज्ञापन देने व अवगत कराने के उपरांत भी शासन द्वारा निराकरण नहीं किया गया है।

शासन द्वारा विगत कई वर्षों से केवल आश्वासन ही दिया जाता रहा है किन्तु कोई मांग पूर्ण नहीं की गयी है जिससे प्रदेश के पटवारियों में निराशा का भाव होकर मनोबल प्रभावित हो रहा है व आये दिन पटवारियों की मौते हो रही है।

पटवारी संवर्ग की प्रमुख मांगों को स्वीकृत
करने व तत्संबंध में आदेश प्रसारित करने का निवेदन करता है। यदि शासन द्वारा आगामी 15 दिवसों में पटवारियों की उक्त सभी मांगे पूरी नहीं की जाती है तो मध्यप्रदेश पटवारी संघ प्रदेशव्यापी आन्दोलन करने कि तैयारी करेंगा।

ज्ञापन सौंपने में पटवारी रामलाल कुमरे, देवीदास कुरील, हरिओम चौरे, नीतू विश्वकर्मा, वंदना भूमरकर, रूपेश सलामे, केतन पटेल, भारती सरयाम, कमलेश धुर्वे आदि पटवारी संघ के लोग उपस्थित थे।

Advertisements

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.