चिचोली पुलिस ने किया अंधे कत्ल का पर्दाफाश

Advertisements

चिचोली पुलिस ने किया अंधे कत्ल का पर्दाफाश


बैतूल। 19 जून को फरियादी दीनू पिता मन्नू यादव उम्र 35 वर्ष निवासी ग्राम नांदा ने अपनी माँ मृतिका शांता बाई पति मन्नू यादव उम्र 50 साल निवासी ग्राम नांदा की किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा किसी धारदार हथियार से गर्दन पर वार कर के हत्या करने के संबंध में रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

फरियादी की रिपोर्ट पर थाना चिचोली मे अपराध क्रमांक 330/21 धार 302 भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया था। घटना स्थल का पुलिस अधीक्षक, अनुविभागीय अधिकारी व एफएसएल टीम द्वारा निरीक्षण कर विवेचना के संबंध मे आवश्यक निर्देश दिये गये थे।

वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन एवं मार्गदर्शन में अपराध विवेचना के दौराने अज्ञात आरोपी एवं मुख्य संदेही मृतिका का पति मन्नू यादव पिता मनोहरी यादव निवासी ग्राम नांदा जो घटना के बाद से ही घर से फरार था, कि संदेह के आधार पर तलाश पतारसी की गई जो 26 जून को ग्राम नांदा के जंगल किनारे खेत मे बनी झोपड़ी मे छिपा मिला।

जिसे पुलिस अभिरक्षा मे लेकर घटना के संबंध मे हिकमत अमली से पूछताछ करने पर बताया कि दोनो पति-पत्नि मे आपसी पारिवारिक विवाद होता रहता था एवं आरोपी द्वारा अपनी पत्नि पर किसी अन्य व्यक्ति से अवैध संबंध होने की शंका करने की बात पर से घटना 18 जून को सुबह 5 बजे करीबन लड़ाई झगड़ा कर लोहे की धारदार कुल्हाड़ी से मृतिका शान्ता बाई की गर्दन पर वार कर हत्या करना स्वीकार किया।

आरोपी से घटना मे प्रयुक्त कुल्हाडी व घटना वक्त पहने रक्त युक्त कपडे जप्त किये गये है तथा आरोपी को गिरफ्तारी उपरान्त न्यायिक अभिरक्षा मे भेजा गया है।

आरोपी मन्नू यादव पिता मनोहरी यादव उम्र 57 वर्ष निवासी ग्राम नांदा की गिरफ्तारी व अंधी हत्या के खुलासे मे वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन मे थाना प्रभारी चिचोली निरीक्षक अजय कुमार सोनी, चौकी प्रभारी भीमपुर उप निरी. संदीप कुमार परतेती, आर. 394 आलोक पटेल, आर. 22 छोटेलाल, सैनिक 177 अशोक नरें की विशेष भूमिका रही।

Advertisements

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.