इन कामों के लिए एसएमएस के जरिए उठा सकते हैं आधार सेवाओं का लाभ, जानिए पूरी डिटेल्स

Advertisements

इन कामों के लिए एसएमएस के जरिए उठा सकते हैं आधार सेवाओं का लाभ, जानिए पूरी डिटेल्स


भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने आधार कार्ड से संबंधित सेवा में एक नया बदलाव किया है। अब लोग एसएमएस से जरिए आधार सेवाओं को लाभ उठा सकते हैं। यूआईडीएआई की इस सर्विस का उद्देश्य उन उपयोगकर्ताओं को सहायता प्रदान करना है। जिनके पास इंटरनेट, रेसिडेंट पोर्टल या एमआधार एप तक पहुंच नहीं है।

यह सेवा लोगों को वर्चुअल आईडी जनरेशन या रिट्रीवल, आधार लॉकिंग और अनलॉकिंग के साथ बायोमेट्रिक लॉकिंग और अनलॉकिंग जैसे कई आधार संबंधित सेवाओं का इस्तेमाल करने का अवसर देती है। अब इन सभी सेवाओं का उपयोग यूआईडीएआई द्वारा जारी आधिकारिक हेल्पलाइन नंबर 1947 पर एसएमएस भेजकर किया जा सकता है।

वर्चुअल आईडी जनरेट

अपना वर्चुअल आईडी जनरेट करने के लिए GVID फिर स्पेस देकर अपने आधार नंबर के अंतिम चार अंक लिखकर 1947 पर एसएमएस भेजें।

दो तरीकों से ओटीपी प्राप्त कर सकते हैं, पहला आपके आधार नंबर या आपके वीआईडी ​​के उपयोग के माध्यम से।

आधार संख्या के साथ ओटीपी: GETOTP (स्पेस) और आपके आधार के अंतिम चार अंक।
वर्चुअल आईडी के साथ

ओटीपी: GETOTP (स्पेस) और एसएमएस के मुख्य भाग में आपकी आधिकारिक वर्चुअल
आईडी के अंतिम छह अंक।

एसएमएस के जरिए आधार को लॉक और अनलॉक करने का तरीका :

अपने आधार को लॉक करने के लिए, आपके पास वीआईडी ​​होना आवश्यक है। फिर लॉकिंग एसएमएस भेजकर की जा सकती है।

स्टेप 1: पहले एसएमएस में टेक्स्ट में GETOTP (SPACE) और आपके आधार नंबर के अंतिम चार अंक होने चाहिए।

स्टेप 2: दूसरा एसएमएस ओटीपी प्राप्त करने के तुरंत बाद भेजा जाना चाहिए। इसका फॉर्मेट LOCKUID (SPACE) अंतिम चार आधार अंक (SPACE) छह अंकों का OTP होना चाहिए।

अनलॉक करने का तरीका :

चरण 1: अपने VID के अंतिम छह अंक GETOTP (SPACE) के रूप में एक एसएमएस करें।

चरण 2: अपने वीआईडी ​​(स्पेस) के छह अंकों वाले ओटीपी के अंतिम छह अंकों को अनलॉक (स्पेस) के रूप में दूसरा एसएमएस भेजें।

Advertisements

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.