ग्राम लाखापुर में हुए अंधेकत्ल का आमला पुलिस ने किया 24 घंटे के अंदर खुलासा

Advertisements

ग्राम लाखापुर में हुए अंधेकत्ल का आमला पुलिस ने किया 24 घंटे के अंदर खुलासा


बैतूल। 18 जुलाई को 100 डायल पर सूचना प्राप्त हुई कि ग्राम लाखापुर मे बीड़ नाला के पास एक अज्ञात व्यक्ति का शव पड़ा मिला उक्त सूचना तस्दीक कर मौके पर पहुचने पर ज्ञात हुआ कि ग्राम मोरडोंगरी मे संतु उईके के खेत के पास स्थित बीड़ नाला के पास एक अज्ञात व्यक्ति की लाश पड़ी है।

उक्त सूचना पर तत्परता से आमला पुलिस द्वारा मौके की कार्यवाही कर मृतक की पहचान की गयी जो बस स्टैंड आमला निवासी सूरज पिता इलु उर्फ अशोक काछेवार उम्र 20 साल का होना पाया गया।

जिसकी मृत्यु पर थाना आमला मे मर्ग पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। प्रकरण में अज्ञात आरोपी की तलाश पतारसी हेतु श्रीमान् पुलिस अधीक्षक महोदय बैतूल के निर्देशन में तत्काल टीम का गठन किया जाकर अज्ञात आरोपी की तलाश पतारसी की गयी।

इसी तारतम्य में घटना स्थल का निरीक्षण व घटना की तस्दीक और गांव वासियों से पूछताछ में यह तथ्य सामने आये कि 17 जुलाई की रात मे गाँव मे आमला का एक लड़का उसके मित्र के साथ ग्राम लाखापुर मे महिला मित्र से मिलने आया था और मिलने के बाद वापस आमला को जा रहा था जो महिला मित्र के परिजन उसके पिता किशोरी उईके पिता इमरत उईके उम्र 40 साल नि- ग्राम लाखापुर एवं अपचारी बालक के द्वारा देखने पर उन.दोनों लड़को का पीछा कर उनकी गाड़ी मे टक्कर मारी।

इन तथ्यों के आधार पर संदेही आरोपी किशोरी पिता इमरत उईके उम्र 40 साल निवासी ग्राम लाखापुर एवं एक अपचारी बालक को अभिरक्षा में लेकर पूछताछ करने पर पूछताछ दौरान यह तथ्य सामने आये कि संदेही किशोरी की लडकी से मिलने उसका मित्र आमला से अपनी स्कूटी से लाखापुर गांव आया था जिससे मिलने किशोरी की लडकी गांव के पास मंदिर तरफ गयी थी और लौटकर वापस अपने घर आ रही थी तभी किशोरी और उसके लडके ने घर में लडकी को न पाकर घर के ईधर उधर लडकी की तलाश की जो गांव के मंदिर के पास मृतक और उसके दोस्त के साथ स्कूटी पर बैठी हुई दिखी तो किशोरी और उसका बेटा अपनी मोटर साईकिल पर थे।

जिन्होने उन दोनो लडको का पीछा करते हुए उनकी स्कूटी को टक्कर मारी जिससे दोनों लड़के रोड किनारे ढलान मे गिर गए और भागे जिसमें से एक लड़के को संतु उईके के खेत के पास बीड़ नाला किनारे किशोरी उईके एवं अपचारी बालक द्वारा घेरकर उसके साथ कुल्हाड़ी एवं डंडे से मारपीट की जिससे मृतक के सर पर कंधे पर , वाईटल पार्ट पर वार कर उसकी निर्मम हत्या कर दी गयी जिस पर आरोपी किशोरी उईके एवं अपचारी बालक के विरुद्ध हत्या का प्रकरण पंजीबद्ध किया गया।

प्रकरण मे हत्या के आरोपी किशोरी पिता इमरत उईके उम्र 40 साल निवासी ग्राम लाखापुर एवं एक अपचारी बालक को गिरफतार किया गया है।

उपरोक्त अंधे कत्ल के खुलासे में थाना प्रभारी आमला सुनील लांटा, उनि उत्तम गरतकार, सहायक उपनिरीक्षक पंचम उइके, प्रधान आरक्षक अनंतराम लोधी, प्रधान आरक्षक दिलीप झरबडे, प्रधान आरक्षक बलराम सरेयाम, प्रधान आरक्षक मनोज डेहरिया, प्रधान आरक्षक विनय जैसवाल, प्रधान आरक्षक बसंत उइके, आरक्षक विनय प्रताप, आरक्षक रामकिशन नागोतिया, आरक्षक बलदेव की विशेष भूमिका रही है।

Advertisements

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.