विश्वस्तरीय 40 दिवसीय अनुष्ठान का पूर्णाहुति के साथ समापन

Advertisements

विश्वस्तरीय 40 दिवसीय अनुष्ठान का पूर्णाहुति के साथ समापन

सौंसर शक्तिपीठ में भी कार्यक्रम संपन्न


सौंसर, (गोपाल वंजारी)। नौ वर्षीय मातृशक्ति श्रद्धांजलि नवसृजन महापुरश्चरण, विश्वस्तरीय चालीस दिवसीय सामुहिक अनुष्ठान का आज गायत्री शक्तिपीठ सौंसर में पांच कुंडिय गायत्री महायज्ञ एवं पूर्णाहुति के साथ संपन्न हुआ।

ज्ञातव्य हो प्रतिवर्ष समापन पूर्णाहुति में पूरे क्षेत्र के साधक उपस्थित रहते थे किन्तु इस वर्ष कोरोना प्रोटोकॉल के चलते सिर्फ सौंसर नगर के ही साधकों को बुलाया गया था। शेष सभी साधकों ने अपने अपने ग्रामों में पूर्णाहुति कार्यक्रम संपन्न किया।

वसंत पंचमी 16 फरवरी से गायत्री तीर्थ शांतिकुंज हरिद्वार के संरक्षण में शुरू हुए इस अनुष्ठान के अंतर्गत साधना क्रम में उपासना, साधना, स्वाध्याय, समयदान, अखण्ड जप, अंशदान, अनुयाज, हर हर गंगे अभियान, वृक्षगंगा अभियान एवं मौन साधना की गई।

कार्यक्रम के सफलतार्थ किशोर किनकर, नरेन्द्र हिंगवे, ज्ञानेश्वर काले, शिवाजी ठाकरे, डॉ. गोपाल वंजारी, शंकरराव घोड़की, भरत प्रजापति, पी. डी. भकने, ज्ञानेश्वरी बिसेन, निशा काले, लक्ष्मी प्रजापति, हेमलता साहु, ममता वंजारी, नलुताई बेंडे, सुरेखा लोणारे आदी परिजनों नें सार्थक प्रयास किए।

Advertisements

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.