बेदखली नहीं-कब्जाधारियों को पट्टा दे सरकार : नकुलनाथ

Advertisements

बेदखली नहीं-कब्जाधारियों को पट्टा दे सरकार : नकुलनाथ

डब्ल्यूसीएल भूमि से हटाने की कार्यवाही पर सांसद ने लिया संज्ञान


छिन्दवाड़ा, (दुर्गेश डेहरिया)। वेस्टर्न कोलफील्ड लिमिटेड पेंच क्षेत्र के लगभग 325 हेक्टेयर अनुपयोगी क्षेत्र में विगत 70-80 वर्षों से निवास कर रहे आमजनों को उनके घरों से बेदखल किए जाने की जारी कार्यवाही को संज्ञान में लेते हुए जिले के सांसद नकुलनाथ ने उक्त भूमि पर निवासरत आमजनों को सरकार द्वारा पट्टा दिए जाने की बात कही है।

गौरतलब है कि मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने पर तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ के समक्ष भी यह बात उठाई गई थी तथा उनके समक्ष यह प्रस्ताव रखा गया था कि डब्ल्यूसीएल लीज समाप्त कर कब्जेधारियों को पट्टा वितरित करें, सरकार बदलने के बाद वर्तमान प्रदेश सरकार ने भी इस ओर ध्यान नहीं दिया और लीज वाली जमीन से लोगों को हटाने की कार्यवाही की जा रही है।

सांसद ने जानकारी प्राप्त करने के उपरान्त वेकोलि महाप्रबंधक द्वारा एस.डी.एम राजस्व परासिया द्वारा की जा रही कार्यवाही पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि परासिया विधानसभा क्षेत्र का बहुत बड़ा भू क्षेत्र वेकोलि के अंतर्गत तो आता है। लेकिन यहां कुछ स्थानों पर ही कोयला खदान संचालित है, तथा कुछ भू भाग ऐसे भी है जहां कोयला खदानें बंद हो चुकी हैं।

वेकोलि महाप्रबंधक पेंच क्षेत्र परासिया द्वारा ऐसी अनुपयोगी जमीन पर निवासरत ग्रामीणों एवं नगरीय क्षेत्र के हजारों नागरिकों को इस भूमि से हटाने व बेदखल किए जाने का पत्र एस.डी.एम परासिया को लिखा गया है, जो पूर्णतः अव्यावहारिक है।

सांसद नकुलनाथ ने अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि विगत 100 वर्षों से अधिक समय से पेंच क्षेत्र में कोयला खदानें संचालित है।

Advertisements

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.