उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव एवं प्रभारी मंत्री परमार ने बैतूल, मुलताई एवं भैंसदेही के शासकीय कॉलेज में अतिरिक्त अध्ययन कक्षों एवं नवीन भवन का वर्चुअल लोकार्पण किया

Advertisements

उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव एवं प्रभारी मंत्री परमार ने बैतूल, मुलताई एवं भैंसदेही के शासकीय कॉलेज में अतिरिक्त अध्ययन कक्षों एवं नवीन भवन का वर्चुअल लोकार्पण किया


बैतूल। प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव, जिले के प्रभारी एवं स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) एवं सामान्य प्रशासन मंत्री श्री इंदरसिंह परमार द्वारा मंगलवार को वर्चुअल कार्यक्रम के माध्यम से जयवंती हॉक्सर शासकीय महाविद्यालय बैतूल में उच्च शिक्षा विभाग द्वारा 353.09 लाख की लागत से नवनिर्मित छ: अतिरिक्त अध्ययन कक्षों का लोकार्पण किया गया।

जेएच कॉलेज में आयोजित इस कार्यक्रम में सांसद श्री डीडी उइके, पूर्व सांसद एवं पूर्व जनभागीरदारी समिति अध्यक्ष श्री हेमंत खंडेलवाल, जिला भाजपा अध्यक्ष श्री आदित्य शुक्ला, पूर्व जनभागीदारी समिति सदस्य श्री मोहन नागर, जिला सहकारी नागरिक बैंक के अध्यक्ष श्री अतीत पंवार, श्री विकास मिश्रा, श्री विक्रम वैद्य, जेएच कॉलेज की प्राचार्य डॉ. विजेता चौबे सहित कॉलेज स्टाफ एवं विद्यार्थी उपस्थित रहे।

कलेक्टर श्री अमनबीर सिंह बैंस इस कार्यक्रम से वर्चुअल माध्यम से जुड़े। इस दौरान मंत्रीद्वय द्वारा शासकीय महाविद्यालय भैंसदेही में मुख्यमंत्री अधोसंरचना विकास योजनांतर्गत 663.47 लाख की लागत से निर्मित भवन एवं शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय मुलताई में 663.47 लाख की लागत निर्मित अतिरिक्त कक्षों का भी वर्चुअल माध्यम से लोकार्पण किया गया।

महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ.विजेता चौबे ने अपने स्वागत भाषण में बताया कि वर्तमान में महाविद्यालय के छात्रों की संख्या दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है, ऐसे समय में अतिरिक्त कक्ष विद्यार्थियों के अध्ययन अध्यापन के लिये मील का पत्थर साबित होंगे।

पूर्व सांसद श्री हेमन्त खण्डेलवाल ने कहा कि यह महाविद्यालय मप्र का दूसरा सबसे बड़ा महाविद्यालय है। बैतूल जिले के आदिवासी अंचल के विद्यार्थी बड़ी संख्या में अध्ययनरत हैं। उन्होंने कहा कि महाविद्यालय में बन रहे ऑडिटोरियम का अधूरा कार्य जनभागीदारी समिति के अध्यक्ष की अनुमति एवं निर्देशन में पुन: पूर्ण किया जाएगा। जिला भाजपा अध्यक्ष श्री आदित्य शुक्ला ने कहा कि महाविद्यालय में अध्ययनरत विद्यार्थियों की हर प्रकार से सहायता के लिये तत्पर हूं।

कार्यक्रम का संचालन डॉ. अलका पांडे एवं डॉ. मीनाक्षी चौंबे द्वारा किया गया। अंत में एवं महाविद्यालय परिवार की ओर से डॉ. राकेश तिवारी द्वारा अतिथियों का आभार व्यक्त किया गया।

Advertisements

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.