कैसे करें Google Maps Speed Limit फीचर का इस्तेमाल?

Advertisements

कैसे करें Google Maps Speed Limit फीचर का इस्तेमाल?


भारत जैसे देश में अगर आप ड्राइविंग लाइसेंस के लिए अप्लाई करते हैं, तो टेक्निकल प्रोसीजर के तहत आपको बेहद टफ एग्जामिनेशन से गुजरना पड़ता है। हालाँकि सच्चाई इससे उलट है और अगर आंकड़ों की बात करें तो हर साल लाखों की संख्या में लोग रोड एक्सीडेंट में अपनी जान गँवा देते हैं। सुरक्षा कारणों को ध्यान में रखते हुए देश भर में सड़कों के किनारे बहुत सारे सड़क के नियम और जानकारी संबंधित ‘साइन बोर्ड’ आपको देखने को मिल जाएंगे। 

लेकिन इन सारी सुविधाओं के बावजूद आए दिन हजारों की संख्या में रोड एक्सीडेंट पूरे देश भर में होते हैं। आंकड़े बताते हैं कि अधिकांश रोड एक्सीडेंट की वजह ‘ओवर स्पीड’ रहती है। महानगरों, हाईवे, नेशनल हाईवे और कुछ प्रमुख सड़कों पर स्पीड लिमिट भी तय की गई है, और उस स्पीड लिमिट को क्रॉस करने पर भारी भरकम फाइन के साथ-साथ सजा का भी प्रावधान सड़क परिवहन मंत्रालय द्वारा बनाया गया है।

ऐसे में फिर भी लोग कई बार अनजाने में ओवर स्पीड के शिकार हो जाते हैं और उन्हें पता ही नहीं चलता है कि उनकी गाड़ी लिमिटेड स्पीड से अधिक चल रही है। अगर आप भी इस तरीके के मुसीबत का सामना कर रहे हैं, तो हम आपको गूगल के एक ऐसे ही सर्विस के बारे में बताने वाले हैं, जिसके इस्तेमाल से आप आसानी से अपने गाड़ी की स्पीड को लिमिट में कर पाएंगे और स्पीड बढ़ते ही आपको गूगल मैप के द्वारा अलर्ट आने लग जाएगा। 

आइए जानते हैं क्या है Google Maps Speed Limit Feature

बता दें कि गूगल के गूगल मैप्स सर्विस द्वारा एस स्पीड लिमिट वार्निंग फीचर्स को बनाया गया है, जो अलर्ट भेजकर ड्राइवर को यह बताता है कि इस एरिया की स्पीड लिमिट क्या है? और वह स्पीड लिमिट से अधिक स्पीड में गाड़ी चला रहा है। आपके मोबाइल के स्क्रीन पर जब यह वार्निंग आता है, तो आप संभल जाते हैं और अपनी स्पीड को तुरंत ही कम कर लेते हैं। ऐसे में आप बेवजह के फाइन से बच पाते हैं। 

कैसे करें गूगल मैप स्पीड लिमिट फीचर को एक्टिवेट?

गूगल मैप स्पीड लिमिट फीचर को एक्टिवेट करने के लिए आप अपने गूगल मैप का लेटेस्ट वर्जन मोबाइल में इंस्टॉल करें। इसे आप गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं। इस सर्विस को एक्टिव करने के लिए आपको गूगल मैप के अपने प्रोफाइल में जाना है और  सेटिंग के ऑप्शन को क्लिक करना है। 

इसके बाद आपके सामने नेविगेशन का ऑप्शन दिखाई देगा उसको ओके करने के बाद नीचे स्क्रॉल करेंगे तो आपको ड्राइविंग का ऑप्शन दिखाई देगा, यहां से आप स्पीड लिमिट स्पीडोमीटर को ऑन कर दें।

सर्विस ऑन करने के बाद आपके एरिया में मौजूद स्पीड लिमिट की जानकारी गूगल मैप के द्वारा आप को दी जाएगी और स्पीड बढ़ाने के साथ ही आपको वार्निंग अलर्ट भी गूगल मैप के द्वारा भेजे जाना शुरू हो जाएगा। 

फीचर को इस्तेमाल करते हुए रखें सावधानी 

हालाँकि यह फीचर बहुत ही यूज़फुल है, बावजूद इसके इसे इस्तेमाल करते हुए आपको कुछ सावधानियों को ध्यान में रखने की आवश्यकता है। सबसे पहले आप गूगल मैप के लिस्ट को चेक कर लें कि आपका एरिया गूगल मैप के लिस्ट में अपडेट हुआ है या नहीं, क्योंकि अगर यह एरिया अपडेट नहीं हुआ है तो, आपके सामने गूगल मैप के द्वारा गलत डेटा पेश किया जा सकता है और आप अनजाने में ही फाइन के शिकार बन जाएंगे। 

इसके अलावा सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि स्पीडोमीटर चेक करने के चक्कर में बार बार फोन की तरफ ध्यान न दें, नहीं तो रोड पर से आपका ध्यान डाइवर्ट होगा और एक्सीडेंट होने की संभावना बढ़ जाएगी। सबसे बेहतर यह होगा कि आप गाड़ी में मौजूद किसी अन्य व्यक्ति को स्पीडोमीटर के ऊपर ध्यान देने की जिम्मेदारी सौंप दें। 

Source link

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.