जनजातीय महासम्मेलन का भव्य आयोजन, भोपाल के जंबूरी मैदान पर जुटेंगे लाखों आदिवासी

Advertisements

जनजातीय महासम्मेलन का भव्य आयोजन, भोपाल के जंबूरी मैदान पर जुटेंगे लाखों आदिवासी

15 नवंबर को भोपाल में विशाल जनजातीय महासम्मेलन का भव्य आयोजन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे आदिवासियों के हितार्थ कई बड़ी घोषणाएं


जुन्नारदेव, (दुर्गेश डेहरिया)। सोमवार को बिरसा मुंडा जयंती के अवसर पर जनजातीय गौरव दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। इस अवसर पर भोपाल के जंबूरी मैदान पर आदिवासियों का महासम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है। इस महासम्मेलन में छिंदवाड़ा जिले से लगभग 5000 से अधिक आदिवासियों के इस जनजातीय महासम्मेलन में भाग लेने की संभावनाएं बताई जा रही है। इस हेतु जिला प्रशासन सहित जुन्नारदेव के आला प्रशासनिक अधिकारी व्यवस्था बनाने में जुटे हुए हैं।

गौरतलब है कि इस विशाल जनजातीय महासम्मेलन में देश के संवेदनशील प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संबोधित करेंगे। ऐसा माना जा रहा है कि इस जनजातिय सम्मेलन में आदिवासी वर्ग के हितार्थ प्रधानमंत्री मोदी कई बड़ी घोषणाएं कर सकते हैं। इस विशाल जनजातीय महासम्मेलन को लेकर स्थानीय आदिवासी वर्ग में खासा उत्साह का माहौल देखा जा रहा है।

छिंदवाड़ा के 5000 आदिवासियों की मेजबानी करेगा रायसेन जिला प्रशासन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा संबोधित किए जाने वाले इस विशाल जनजातीय महासम्मेलन के लिए प्रशासनिक स्तर पर वृहत तैयारियां की जा रही है।

इस हेतु मध्यप्रदेश शासन के जनजातीय कार्य विभाग, मंत्रालय, वल्लभ भवन के द्वारा रायसेन जिला प्रशासन को छिंदवाड़ा जिले के 5000 से अधिक सहभागियों के रोकने हेतु आवासीय व्यवस्था बनाए जाने के निर्देश प्राप्त हुए हैं। यहां मिली जानकारी के अनुसार रायसेन जिले के बाड़ी, सुल्तानपुर, औबेदुल्लागंज एवं मंडीदीप में इन सहभागीयों के आवास की व्यवस्था की गई है। इस हेतु जुन्नारदेव अनुविभाग से लगभग 18 से अधिक बसों का रूट होशंगाबाद, ओबैदुल्लागंज से मंडीदीप की तरफ होगा।

आवासीय स्थलों पर रुकने की क्षमता के अनुसार बस के दलों की मैपिंग विधिवत रूप से की जा रही है। इस हेतु छिंदवाड़ा जिला एवं रायसेन में जिला प्रशासन के बीच अधिकारियों एवं कर्मचारियों के मध्य दलों के प्रस्थान करने के पूर्व से ही मोबाइल फोन आधारित संपर्क रहेगा। इस हेतु दोनों जिला प्रशासन के द्वारा परस्पर समन्वय से विधिवत तैयारियों को आज अंतिम रूप दे दिया गया है।

केंद्र एवं राज्य की भाजपा सरकार के द्वारा आदिवासी तुर्क बिरसा मुंडा की जयंती को जनजातीय गौरव दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। इस हेतु जंबूरी मैदान में जनजातीय महासम्मेलन का आयोजन भी किया जा रहा है। भोपाल में ढोल-मांदल पर पारंपारिक वेशभूषा में बड़ी संख्या में आदिवासी पहुंचेंगे। यहां पर मध्य प्रदेश शासन के द्वारा भोपाल में 52 डोम और 90 मेगा स्क्रीन लगाए जा रहे हैं, जिसमें प्रधानमंत्री मोदी को आसानी से संबोधित करते हुए देखा जा सकेगा।

इसके अतिरिक्त आदिवासी समाज के लगभग प्रत्येक जनजाति और बोली वाले समुदाय के लोग एक साथ बड़ी संख्या में पहली बार इकट्ठे हो रहे हैं। मध्य प्रदेश शासन के द्वारा इस सम्मेलन स्थल पर जनजातियों के प्रमुख जननायको की गौरवगाथा को सीसी टीवी के माध्यम से सुनाया जाएगा और इन आदिवासी जननायको के होल्डिंग्स और कटआउट भी लगाए जा रहे हैं।

आदिवासी संस्कृति की झलक को प्रदर्शित करने हेतु मंच पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी पारंपरिक आदिवासी पगड़ी पहन कर ही मंच पर पहुंचेंगे.

Advertisements
Advertisements

Related posts

One Thought to “जनजातीय महासम्मेलन का भव्य आयोजन, भोपाल के जंबूरी मैदान पर जुटेंगे लाखों आदिवासी

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.