व्यापारी कर रहे हैं ग्राहकों का इंतजार

Advertisements

व्यापारी कर रहे हैं ग्राहकों का इंतजार

साप्ताहिक हाट बाजार के दिन भीड़ भाड़ तो है लेकिन धंधा मंदा


जुन्नारदेव, (दुर्गेश डेहरिया)। नगर के व्यापारियों को अंदाजा था कि दीपावली के बाद से ही मार्केट में उठाओ देखा जाएगा लेकिन यह अवधारणा गलत साबित हो रही है। ठंड के दिनों में लोग अपने जरूरी सामान की खरीदी करने ही बाजार पहुंच रहे है। लेकिन बेरोजगारी भी कुछ कम नहीं है। जहां देखा गया कि लोगों को रोजगार के अभाव में इधर-उधर भटकना पड़ रहा है।

लेकिन उन्हें काम नहीं मिल पा रहा जिसका नतीजा हाट बाजारों में अब देखा जाने लगा है। आज दिन रविवार अवकाश के दिन मार्केट में चहल-पहल भी नजर आ रही लेकिन व्यापार ठप है। जिसके कारण कई व्यापारी मायूस नजर आ रहे है।

कोयलांचल क्षेत्र में काले सोने के नाम पर पहचाने जाने वाला जुन्नारदेव अब धीरे-धीरे अपनी पहचान भी कोयलांचल से खोते जा रहा है यहां पर संचालित कोयला खदान धीरे-धीरे बंद हो गई है जिससे यहां के मजदूरों का बड़े स्तर पर पलायन हो गया है क्षेत्र की दुर्गति देखते ही बन रही है अब उजालों वीरान पड़ा जुन्नारदेव में राजनेता पहल करके किसी बड़े उद्योग को लगवा कर लोगों को रोजगार मुहैया कराने के लिए कब आएंगे आएंगे इस पर अभी तक कोई भी नहीं था चर्चा करने के लिए आगे नहीं आता है।

Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.