9 Apr 2018

दिग्विजय सिंह की नर्मदा परिक्रमा यात्रा का समापन कार्यक्रम जारी

Advertisements

NEWS IN HINDI

दिग्विजय सिंह की नर्मदा परिक्रमा यात्रा का समापन कार्यक्रम जारी

नरसिंहपुर। 30 सितम्बर 2017 को शुरू हुई राजनेता दिग्विजय सिंह की धार्मिक नर्मदा परिक्रमा का समापन समारोह नरसिंहपुर जिले के बरमान घाट पर सोमवार सुबह शुरू हो गया। दिग्विजय ने मां नर्मदा की आरती कर इसकी शुरुआत की।

नर्मदा परिक्रमा यात्रा के समापन पर बरमान घाट पर पहुंचने वालों का सिलसिला शुरू हो गया है। इनमें ज्यादातर भीड़ कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं की है। समापन कार्यक्रम में जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंदजी और आध्यात्मिक संत देवप्रभाकर शास्‍त्री ‘दद्दाजी’ शामिल हो रहे हैं। छह महीने राजनीति से दूर रहने के बाद दिग्विजय सिंह के मैदान में आने से कांग्रेस में सरगर्मी बढ़ गई है। वहीं भाजपा में भी दिग्विजय की परिक्रमा समाप्त होने के कारण हलचल दिखाई दे रही है। दमोह सांसद प्रहलाद पटेल, राज्य मंत्री जालम सिंह, तेंदूखेड़ा विधायक संजय शर्मा यहां पहुंचे।

दिग्विजय सिंह की नर्मदा परिक्रमा दशहरा के दिन 30 सितंबर 2017 को शुरु हुई थी। करीब 3325 किलोमीटर की नर्मदा परिक्रमा में दिग्विजय सिंह की पत्नी अमृता सिंह के अलावा कांग्रेस के पूर्व सांसद द्वय रामेश्वर नीखरा व नारायण सिंह आमलावे पूरी यात्रा में उनके साथ रहे।

कमलनाथ से लेकर बाबरिया बरमान में

दिग्विजय सिंह की परिक्रमा के समापन अवसर पर बरमान घाट पर कांग्रेस के नेताओं का जमावड़ा है। परिक्रमा समापन कार्यक्रम में शामिल होने के लिए सांसद कमलनाथ दिल्ली से पहुंच रहे हैं तो प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव, नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह, एआईसीसी महासचिव व प्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया भी बरमानघाट कार्यक्रम में शामिल होने पहुंच रहे हैं।

राजनीतिक सरगर्मी बढ़ी

दिग्विजय सिंह ने नर्मदा परिक्रमा शुरू करने के पहले संकल्प लिया था कि वे परिक्रमा के दौरान राजनीति से जुड़ी कोई बात नहीं करेंगे। अपने संकल्प पर अडिग रहते हुए वे राजनीतिक बयानबाजी से पूरी तरह दूर रहे। जिन बयानों के कारण वे देश-प्रदेश की राजनीति चर्चाओं में बने रहते हैं, इस दौरान न तो सुनाई दिए और नहीं पढ़ने में आए। अब उनकी परिक्रमा समाप्त होने के बाद फिर उनकी राजनीतिक सक्रियता से कांग्रेस में सरगर्मी बढ़ी है।

 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

 

NEWS IN ENGLISH

Digvijay Singh’s concluding program of Narmada Parikrama Yatra continues

Narsinghpur The closing ceremony of the religious Narmada Parikrama of the politician Digvijay Singh, which started on 30th September, 2017, started on Monday morning on the Beraman Ghat of Narsinghpur district. Digvijay initiated it by making an aarti of Mother Narmada.

On the conclusion of the Narmada Parikrama Yatra, there has been a continuation of those who arrived at Berman Ghat. Most of them are from Congress leaders and workers. In the closing ceremony, Jagatguru Shankaracharya Swami Swaroopanandji and spiritual saint Devaprabhakar Shastri ‘Daddaji’ are joining. After being away from politics for six months, the enthusiasm in the Congress has increased due to the arrival of Digvijay Singh. At the same time, there is a bustle in the BJP due to the completion of Digvijay’s Parikrama. Damoh MP Prahlad Patel, Minister of State Jamal Singh, Tendukha MLA Sanjay Sharma arrived here.

Digvijay Singh’s Narmada Parikrma started on 30th September 2017 on the day of DusSehra. Apart from Amrita Singh, wife of Digvijay Singh in the Narmada Parikrama, about 3325 Kms, former Congress MP Dwivedi Rameshwar Nikhara and Narayan Singh Amlava will be with them during the whole trip.

From Kamalnath to Barbaria Beraman

On the closing ceremony of Digvijay Singh’s Parikrama, there is a gathering of Congress leaders at Burman Ghat. MP Kamal Nath is arriving from Delhi to join the Parikrama closing ceremony, then state Congress President Arun Yadav, Leader of Opposition Ajay Singh, AICC general secretary and state in charge Deepak Babariya are also joining the Baranaghat program.

Political stirring increased

Digvijay Singh had taken a resolution before starting the Narmada Parikrama that he will not talk about politics during the orbiting. While remaining firm on his resolve, he remained completely away from political rhetoric. Because of the statements that they remain in the state’s political discussions, neither heard nor read during this period. Now after his orbital expanse, his political activism has increased stirring in the Congress.

 

To get the latest updates, click on the link: https://www.facebook.com/samacharokiduniya/Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

 

Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error:
WhatsApp chat