महाराष्ट्र: 8 लाख 64 हजार का बिजली बिल आने से परेशान सब्जी बेचने वाले ने की खुदकुशी

Advertisements

NEWS IN HINDI

महाराष्ट्र: 8 लाख 64 हजार का बिजली बिल आने से परेशान सब्जी बेचने वाले ने की खुदकुशी

औरंगाबाद औरंगाबाद शहर में महाराष्ट्र राज्य विद्युत वितरण कंपनी मर्यादित के एक अधिकारी की लापरवाही के कारण शहर में सब्जी बेचने वाले शख्स ने खुदकुशी कर ली. दरअसल इस शख्स के घर 8 लाख 64 हजार रुपये का बिजली का भेजा गया था, जिससे परेशान होकर इस शख्स ने आत्महत्या कर ली. खुदकुशी करने वाले शख्स का नाम भागिनाथ शेळके था.

इस साल बारिश कम होने के कारण खरीप की फसल ठीक नहीं हुई जिसके चलते राज्य सरकार ने राज्य में तकरीबन 16 हजार गांव को सूखाग्रस्त घोषित किया, इसमें अधिकतर सूखाग्रस्त इलाके मराठवाड़ा और विदर्भ इलाके में हैं. सूखाग्रस्त घोषित किए जाने के चलते इन इलाकों के लोगों को और खासकर किसानों को बिजली के बिल में 35 % राहत देने की बात कही गई.

एक तरफ सरकार ने सूखाग्रस्त इलाके में लोगों को बिजली के बिल में राहत देने की तो वहीं दूसरी तरफ महाराष्ट्र राज्य विद्युत वितरण कंपनी मर्यादित के एक अधिकारी ने औरंगाबाद के भारत नगर गांव में रहने वाले भागिनाथ शेळके को 2,803 रुपये बिल की जगह 8 लाख 64 हजार रुपये का बिल सौंप दिया. दरअसल भागिनाथ शेलके को इसी वर्ष जनवरी महीने में नया मीटर मिला था, उस समय उनके मीटर की रीडिंग 6117 यूनिट थी, लेकिन रीडिंग लिखने वाले कर्मचारी ने गलती की और 61178 यूनिट लिख दी, यानि असल यूनिट से 55061 यूनिट ज्यादा लिख दी गई.

इस बात की शिकायत शेळके ने कई बार औरंगाबाद के महाराष्ट्र राज्य विद्युत वितरण कंपनी के दफ्तर में जाकर की लेकिन किसी ने भी उसकी शिकायत पर ध्यान नहीं दिया, बिजली का बिल इतना ज्यादा होने के कारण सब्जियों का ठेला लगाने वाले भागिनाथ शेळके परेशान रहने लगा. फरवरी महीने से भागिनाथ शेळके, गारखेड़ा के महाराष्ट्र राज्य विद्युत वितरण कंपनी के दफ्तर में चक्कर काट रहा था लेकिन कोई भी उसकी बात सुनने को तैयार नहीं था. भगिनाथ के रिश्तेदार ने ‘आजतक’ को बताया कि जूनियर अकाउंटेंट ने भागिनाथ को पूरा 8 लाख 64 हजार रुपये का बिल अदा करने के लिए कहा था जिससे वो और अधिक परेशान हो गया था.

भागिनाथ शेळके का परिवार औरंगाबाद के भारत नगर इलाके में टीनशेड में रहता है. गुरवार सुबह पांच बजे जब भगिनाथ के घर पर कोई नहीं था. उनकी पत्नी गांव से बाहर गई हुए थी और बेटा आंगन में सोया था इसी दौरान भागिनाथ ने खुदखुशी कर ली. जानकारी के मुताबिक फांसी लगाने से पहले भागिनाथ ने सुसाइड नोट लिखा था जिसमें उसने महाराष्ट्र राज्य विद्युत वितरण कंपनी को अपना मौत के लिए जिम्मेदार ठहराया.

गुरुवार दोपहर 12 बजे तक, महावितरण के अधिकारीयों को इस बारे में कोई जानकारी नहीं थी. शुरुआत में अधिकारियों का कहना था कि ऐसी कोई बात नहीं है. लेकिन सुसाइड नोट के सामने आने के बाद एमएसईडी के अधिकारियों ने पूछताछ का फैसला लिया. इस मामले में, पुंडलिक नगर पुलिस स्टेशन में केस दर्ज किया गया है. भागिनाथ के रिश्तेदारों का कहना है कि जब तक दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होती वो भगिनाथ का अंतिम संस्कार नहीं करेंगे. जानकारी के मुताबिक महाराष्ट्र राज्य विद्युत वितरण कंपनी ने प्रेस नोट के जरिए अपनी गलती मान ली और एक असिस्टेंट अकाउंटेंट को निलंबित भी कर दिया गया है.

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

NEWS IN ENGLISH

Maharashtra: 8 lakh 64 thousand rupees of electricity bill coming from the vegetable seller who suicides

In Aurangabad city of Aurangabad, due to the negligence of an official of Maharashtra State Electricity Distribution Company Limited, a person selling vegetable in the city committed suicide. In fact, 8 lakh 64 thousand rupees was sent to the house of this person, which disturbed the person committed suicide. The person who committed suicide was named by Bhagwanath Shelke.

Due to the decrease in rainfall this year, the Kharif crop has not been cured due to which the state government declared nearly 16 thousand villages in the state as drought-prone; most of the drought-affected areas are in Marathwada and Vidarbha areas. Due to being declared drought-prone, it was said that 35% relief was given to the people of these areas and especially to the electricity bills.

On one side, the government has given relief to people in the drought-hit areas, while on the other hand, an officer of the Maharashtra State Electricity Distribution Company Limited, Bhagyanath Shelke, who lives in Aurangabad’s Bharat Nagar village, has Rs 8,643 Billed the bill of Rs. Indeed, in the same year, the new meter was found in the month of January this year, in the month of January this year, the reading of his meter was 6117 units, but the staff writing the writing made a mistake and wrote 61178 unit, i.e. 55061 units were written more than the actual unit.

Complaining about this, Shelke has visited the office of Maharashtra State Electricity Distribution Company, Aurangabad many times, but no one has paid any attention to his complaint, due to excessive electricity bills, he was troubled by vegetable pruning, Bhagyanath Shel. In February, Bhagyath Shelke was walking around the office of Maharashtra State Electricity Distribution Company, but no one was ready to listen to him. The relatives of Bhagnanath told ‘Aajtak’ that the junior accountant had asked Bhagyannath to pay a full bill of Rs 8 lakh 64 thousand which he got more worried.

The family of Bhagwanath Shelke lives in Tinshed in the Indian town of Aurangabad. At five o’clock in the morning, nobody at the house of Bhagvanath was there. His wife had gone out of the village and the son slept in the courtyard, during this time, Bhagvanath had self-sacrifice. According to the information, before hanging, Bhagyath had written suicide note in which he held the Maharashtra State Electricity Distribution Company responsible for his death.

By Thursday 12 noon, the officials of Mahavitaran had no information about this. Initially officials said that there is no such thing. But after the suicide note appeared, the MSED officials took the decision to inquire. In this case, the case has been registered in Pundalik Nagar police station. The relatives of Bhagwanath say that unless the action against the guilty officials is taken, they will not make the last rites of Bhagvanath. According to the information, the Maharashtra State Electricity Distribution Company accepted its mistake through press note and an assistant accountant has also been suspended.

To get the latest updates, click on the link: https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error:
WhatsApp chat
%d bloggers like this: