बैंक कर्मचारी बनकर ठग ने महिला से 28 बार जाना OTP, फिर लगाया लाखों का चूना

Advertisements

NEWS IN HINDI                            

बैंक कर्मचारी बनकर ठग ने महिला से 28 बार जाना OTP, फिर लगाया लाखों का चूना

मुंबई। फोन पर धोखाधड़ी की इतनी खबरें सामने आने के बाद भी लोग सतर्क नहीं हुए हैं और लापरवाही की वजह से बड़ा नुकसान उठा रहे हैं।

फोन पर धोखाधड़ी का ऐसा ही एक मामला मुंबई में सामने आया है। जब नवी मुंबई के नेरूल में रहने वाली चालीस साल की एक महिला से एक शातिर ठग ने फोन पर ओटीपी जानकर सात लाख का चूना लगा दिया।

महिला से फोन पर इस शातिर जालसाज ने हफ्ते में एक दो बार नहीं, बल्कि पूरे 28 बार ओटीपी हासिल किया। अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर की मानें तो इस जालसाज ने महिला को बैंक कर्मचारी बनकर फोन किया था।

रिपोर्ट की मानें तो तसनीम मुज्जाकर मोदक नाम की इस महिला के बैंक खाते में 7.20 लाख रुपए थे। उन्हें 17 मई को एक फोन कॉल आया, दूसरी तरफ से बात करने वाले शख्स ने खुद को बैंक कर्मचारी बताया और डेबिट कार्ड ब्लॉक होने की जानकारी दी। उस शख्स ने महिला को कार्ड अनब्लॉक कराने के लिए कुछ जानकारियां मांगी।

पुलिस की मानें तो महिला इस ठग के झांसे में आ गई और उसे अपनी बैंक से जुड़ी तमाम जानकारियां उसे दे दीं, जिसमें 16 अंकों के डेबिट कार्ड नंबर से लेकर तीन अंकों का सीवीवी नंबर तक शामिल है। जबकि ये नंबर किसी को नहीं बताए जाते हैं, फिर चाहें बैंक से ही क्यों न फोन आया हो।

एक हफ्ते के भीतर इस महिला ने 28 बार ओटीपी बताए और इसका फायदा उठाते हुए इस जालसाज ने उसे 6,98,973 रुपए का चूना लगा दिया। ठगी का शिकार हुई महिला ने 29 मई को नेरूल पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज कराई। महिला ने पुलिस को बताया कि उसे ऑनलाइन बैंकिंग के बारे में कुछ नहीं पता है।

शुरुआती जांच में पुलिस को पता चला है कि डेबिट कार्ड के जरिए मुंबई, नोएडा, गुरुग्राम, कोलकाता और बैंगलुरू में खरीदी की गई है।

                                                                                                                                        

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

NEWS IN ENGLISH

By becoming a bank employee, thugs go to women 28 times OTP, then lime lime lime

Mumbai. Despite so many news reports of fraud on the phone, people have not been cautious and are taking big loss due to negligence.

One such case of fraud on the phone has surfaced in Mumbai. When a vicious thug of a forty-year-old woman living in Nerul, Navi Mumbai, knew the OTP on the phone and lent him seven lakhs.

From the woman on the phone, this vicious fraudman did not receive the OTP once a week, but not 28 times. If the news of the English newspaper Times of India is believed, this fraudster called the woman as a bank employee.

According to the report, this woman named Tasneem Mujjakkar Modak was 7.20 lakh rupees in the bank account. He received a phone call on 17th May, the person talking on the other side told himself as a bank employee and informed about the debit card block. The man asked for some information for the woman to unblock the card.

When the police believed that the woman came in the hoax and she gave him all the information related to her bank, which included up to 16 digit debit card number up to three digit CVV number. While these numbers are not disclosed to anyone, then why did not the phone come from the bank?

Within a week, this woman told OTP 28 times and taking advantage of this, the frauder lipped her Rs 6,98,973. The victim, who was victimized by the thug, lodged an FIR in the Nerul police station on May 29. The woman told the police that she does not know anything about online banking.

In the initial investigation, the police have come to know that Debit Card has been purchased in Mumbai, Noida, Gururgram, Kolkata and Bangalore.

To get the latest updates, click on the link: https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.