मराठा आरक्षण: आंदोलन जारी, मुंबई बंद, जबरन गिराए जा रहे दुकानों के शटर

Advertisements

NEWS IN HINDI

मराठा आरक्षण: आंदोलन जारी, मुंबई बंद, जबरन गिराए जा रहे दुकानों के शटर

मुंबई। मराठा आरक्षण को लेकर चल रहे आंदोलन की आंच मुंबई तक पहुंच गई है। बुधवार को मुंबई में बंद के दौरान ठाणे से हिंसा की घटनाएं सामने आ रही हैं। ठाणे के वेगल एस्टेट इलाके में नगर परिवगहन की एक बस पर तोड़फोड़ की गई। वहीं गोखले रोड खुली दुकानों के जबरन शटर गिरा दिए गए। इसके अलावा मजीवाड़ा पुल पर टायर जलाने की तस्वीरें सामने आ रही हैं। जबकि मराठा क्रांति मोर्चा शांतिपूर्ण प्रदर्शन की बात कर रहा है।

ठाणे के गोखले रोड स्थित कुछ खुली दुकानें देखकर मराठा क्रांति मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने जबरन शटर गिरा दिए। जबकि मराठा क्रांति मोर्चा का कहना है कि वह शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहा है। एक कार्यकर्ता ने कहा, ‘हम कोई सड़क ब्लॉक नहीं कर रहे हैं। हम शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे हैं। हमने अपने कार्यकर्ताओं को बता दिया है कि हमारे प्रदर्शन की वजह से पुलिस और सरकार को कोई असुविधा नहीं होनी चाहिए। हम लोगों ने अपनी दुकानें बंद करने का आग्रह कर रहे हैं।’

बता दें कि मुंबई, ठाणे, पालघर और रायगड में बंद का ऐलान किया गया है। इससे पहले मंगलवार को आंदोलन के दौरान 5 लोगों ने जान देने की कोशिश की। हालांकि पुलिस ने इन मामलों के पीछे वजह के रूप में मराठा आरक्षण को स्पष्ट नहीं किया है। वहीं एक कॉन्स्टेबल की ऑन ड्यूटी हृदय गति रुकने से मौत हो गई।

5 लोगों ने जान देने की कोशिश की

देवगांव रंगरी निवासी एक किसान ने औरंगाबाद ग्रामीण इलाके में जहर पीकर जान देने की कोशिश की। किसान का नाम जगन्नाथ सोनावणे (50) बताया जा रहा है। बताया जा रहा है कि उनका खेत उस पुल के बगल में स्थित था जहां आंदोलन चल रहा था। जगन्नाथ के परिवार का दावा है कि उन्होंने मराठा आरक्षण आंदोलन के चलते जान देने की कोशिश की जबकि औरंगाबाद एसपी आरती सिंह ने कहा कि अभी इस बात की पुष्टि नहीं हुई है कि यह मामला आंदोलन से जुड़ा था या नहीं।

एक दूसरे किसान जयेंद्र सोनवणे (28) ने शिवना नदी के पास स्थित कुएं में कूदकर जान देने की कोशिश की। उनके दोनों पैर में कई फ्रैक्चर हो गए हैं। बीड में अपनी मांगों के साथ तहसीलदार के पास पहुंचे शिष्टमंडल के दो सदस्यों ने छत से कूदकर आत्महत्या का प्रयास किया। हालांकि पुलिस ने उन्हें रोकने में कामयाब रही। वहीं लातूर के शिवाजी चौक पर एक मराठा युवक ने खुद पर पेट्रोल छिड़क जान देने की कोशिश की।

बंद में मेडिकल कॉलेज ऐंबुलेंस शामिल नहीं

मराठा क्रांति मोर्चा समन्वय समिति द्वारा बुलाए गए बंद का असर मुंबई में देखने को मिल रहा है। सड़कें पूरी तरह खाली हैं, ऑटोरिक्शा भी नहीं चल रहे हैं।मंगलवार दादर के राजर्षि शाहू सभागृह में मराठा क्रांति मोर्चे की बैठक में फैसला किया गया कि बंद में स्कूल-कॉलेजों, मेडिकल स्टोर, ऐंबुलेंस और मूलभूत सुविधाओं को शामिल नहीं किया गया है।

बंद के दौरान किसी प्रकार की हिंसा या तोड़फोड़ नहीं होगी। बता दें कि सोमवार को प्रदर्शन के दौरान नदी में कूदकर एक शख्स की खुदकुशी के विरोध में मंगलवार को महाराष्ट्र बंद बुलाया गया। नवी मुंबई और पनवेल में सब्जी और फल बाजार को छोड़कर बाकी सभी प्याज, आलू, मसाला और अनाज मंडी आदि बंद रखे जाएंगे। मोर्चे ने बंद के लिए जनता से समर्थन मांगा है।

स्कूल-कॉलेजों पर भ्रम

मराठा आंदोलन के कारण बुधवार को मुंबई में स्कूल और कॉलेज बंद होने पर स्थिति साफ नहीं हुई है। शिक्षा मंत्री विनोद तावडे ने कहा कि मराठा समाज ने बुधवार को बंद का आह्वान किया है। स्कूल और कॉलेजों को बंद रखने के लिए स्थानीय पुलिस और जिला प्रशासन निर्णय लेंगे।

पुलिस हाई अलर्ट पर

बुधवार के बंद को लेकर मुंबई पुलिस हाई अलर्ट पर है। मुंबई पुलिस के प्रवक्ता दीपक देवराज ने कहा कि सभी पुलिस स्टेशनों के कर्मियों को बुधवार को सड़क पर रहने को कहा गया है। पुलिस की स्पेशल ब्रांच के लोग अपने स्तर पर खुफिया जानकारी जुटा रहे हैं।

महाराष्ट्र की फडणवीस सरकार में शामिल शिवसेना ने मराठा आरक्षण का समर्थन किया है। मंगलवार को मंत्रालय में उद्योग मंत्री सुभाष देसाई ने कहा कि मराठा आरक्षण में बहुत देरी हो चुकी है। अदालत के फैसले को ध्यान में रखना होगा। जिन लोगों ने आरक्षण का वादा किया था, उन्हें मामले को हल करने के लिए सामने आना चाहिए।

कॉन्स्टेबल की मौत

इससे पहले मंगलवार को मराठा आंदोलनकारियों के बंद के दौरान औरंगाबाद और नांदेड में कुछ जगहों पर हिंसा हुई। सड़क पर टायर जलाकर रास्ते रोके गए। कुछ जगहों पर पुलिस को कार्रवाई करनी पड़ी। कई जगहों पर स्कूल-कॉलेजों में छुट्टी कर दी गई थी। औरंगाबाद में पुलिस बंदोबस्त के दौरान कॉन्स्टेबल लक्ष्मण पाटगांवकर की हृदय गति रुकने से मौत हो गई। एक पुलिसकर्मी के घायल होने की खबर भी आई है। मंगलवार को दो और युवकों ने नदी में कूदकर जान देने की कोशिश की। कुछ प्रदर्शनकारियों ने विरोध में अपने सिर मुंडवा लिए।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

 NEWS IN ENGLISH

Maratha Reservation: Movement Continues, Mumbai Shutters, Shutter Shutters Shop

Mumbai. The movement of the movement against the Maratha reservation has reached Mumbai. The incident of violence is coming out from Thane during the bandh on Wednesday in Mumbai. A bus of suburb of suburban area was subdued in the Vagal Estate area of ​​Thane. On the other hand, forced shutters of Gokhale Road open shops were dropped. Apart from this, photographs of tire burning on the Majhiwada bridge are coming out. While the Maratha Revolution Front is talking about peaceful demonstrations.

Seeing some of the open shops located at Gokhale Road in Thane, workers of the Maratha Kranti Front have forcibly shot down. While the Maratha Revolution Front says it is performing peacefully. A worker said, “We are not blocking any roads. We are performing peacefully. We have told our workers that due to our performance the police and the government should not have any inconvenience. We are urging people to shut down their shops. ‘

Let us know that the bandh has been announced in Mumbai, Thane, Palghar and Raigad. Earlier on Tuesday, during the agitation, 5 people tried to give life. However, the police has not clarified the Maratha reservation as the reason behind these matters. One Constable’s On Duty died due to heart failure.

5 people tried to give life

A farmer from Devgaon Rangari tried to give life by drinking poison in Aurangabad rural area. The name of the farmer Jagannath Sonawane (50) is being told. It is being told that his farm was located next to the bridge where the movement was going on. Jagannath’s family claims that he tried to give life due to the Maratha Reservation movement while Aurangabad SP Aarti Singh said that it is not yet confirmed whether this matter was related to the movement or not.

Another farmer Jayendra Sonawane (28) jumped into the well near the Shivna river and tried to give life. There have been many fractures in both legs. Two members of the delegation who reached the tehsildar with their demands in Beed attempted suicide by jumping from the roof. Although the police managed to stop them, they were able to stop them. At the same time, a Maratha youth on the Shivaji Chowk at Latur tried to give him a sprinkling of petrol.

Medical College Ambulance not included in the shutdown

The impact of the bandh called by the Maratha Kranti Morcha Coordination Committee is being seen in Mumbai. Roads are completely empty, autorickshaws are not functioning. It was decided in the meeting of the Maratha Revolutionary Front, in Rajarshi Shahu Auditorium in Dadar on Tuesday that the school-colleges, medical stores, ambulances and basic amenities have not been included in the shutdown.

There will be no violence or subversion during the shutdown. Let us know that on Monday, in protest against the suicide of a man by jumping into the river on Tuesday, Maharashtra was called off. All the onions, potatoes, masala and cereal gardens will be kept off except vegetables and fruit markets in Navi Mumbai and Panvel. The morcha has sought public support for the shutdown.

Confusion about school-colleges

Due to the Maratha movement, the situation is unclear when schools and colleges closed in Mumbai on Wednesday. Education Minister Vinod Tawde said that the Maratha community has called for a shutdown on Wednesday. Local police and district administration will decide to keep schools and colleges closed.

Police on high alert

The Mumbai Police is on high alert about Wednesday’s closure. Mumbai Police spokesman Deepak Devraj said that all the police stations personnel have been asked to stay on the road on Wednesday. The people of the Special Branch of the Police are collecting intelligence on their level.

Shiv Sena in the Fadnavis government of Maharashtra has supported the Maratha reservation. Industry Minister Subhash Desai in the Ministry on Tuesday said that the delay in the Maratha reservation has been delayed. The court’s decision must be kept in mind. Those who had promised the reservation should come face to face the matter.

Constable’s death

Earlier on Tuesday, there were violence in some places in Aurangabad and Nanded during the closing of Maratha agitators. The roads were blocked by burning tires on the road. In some places the police had to take action. In many places, the school-colleges were discharged. Constable Laxman Patgaonkar died of heart failure after police settlement in Aurangabad. A policeman’s wound has also been reported. On Tuesday, two more youths jumped into the river and tried to give life. Some protesters shave their heads in protest.

To get the latest updates, click on the link: https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.