इस शहर में बना है ‘भारत माता’ का इकलौता मंदिर

Advertisements

NEWS IN HINDI

इस शहर में बना है ‘भारत माता’ का इकलौता मंदिर

वाराणसी भारत का 5000 साल पुराना एक प्राचीन है। गंगा नदी पर बसे इस शहर का जिक्र महाभारत तथा रामायण तक में किया गया है। मगर क्या आप जानते हैं इस प्राचीन शहर ही में ‘भारत माता’ का इकलौता मंदिर बना हुआ है। जी हां, वाराणसी शहर में ही अनोखा ‘भारत माता मंदिर’ बना हुआ है, जिसे देखने के लिए विदेशी टूरिस्ट भी आते हैं। आइए जानते हैं इस मंदिर से जुड़ी कुछ खास बातें।

वाराणसी में स्थित इस मंदिर के बीचो-बीच नक्शा बनाया गया है, जिसो संगमरमर के पत्थर पर रखा गया है। अपनी इस अनोखी खासियत के कारण यह मंदिर विदेशी टूरिस्ट की भी पसंद बनता जा रहा है।

महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ परिसर में स्थित इस मंदिर का निर्माण बाबु शिव प्रसाद गुप्ता ने 1918 से 1924 के बीच कराया था। इसका उद्घाटन 25 अक्तूबर,1936 को महात्मा गांधी ने ही किया था। मंदिर के बीचो-बीच संगमरमर के पत्थर पर भारत के साथ बर्मा, अफगानिस्तान, बलूचिस्तान, पाकिस्तान, बांग्लादेश और श्रीलंका आदि कई अविभाजित देशों के मानत्रिच बने हुए हैं।

इस मंदिर की खासियत यह है कि इसमें 450 पर्वत श्रृंखलाओं एवं चोटियों, मैदानों, जलाशयों, नदियों, महासागरों और पठारों की ऊंचाई और गहराई के नक्शे भी बने हुए हैं। गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस के मौके पर इस मंदिर को बेहद खास तरीके से सजाया जाता है। इन दिनों में नक्शे में दिखाए गए जलाश्यों में पानी और मैदानी इलाकों को फूलों से सजाया जाता है। अगर आप भी स्वतंत्रता दिवस के मौके पर कहीं जाने की सोच रहे हैं तो यह आपके लिए परफेक्ट जगह है।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके facebook page पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

NEWS IN ENGLISH

This is the only temple of ‘Bharat Mata’ built in this city

Varanasi is an ancient 5000 years old of India. The town on the river Ganges has been mentioned in Mahabharata and Ramayana. But do you know that this ancient city has remained the only temple of ‘Bharat Mata’. Yes, the ‘Bharat Mata Mandir’ is unique in the city of Varanasi, which also comes to see foreign tourists. Let us know some special things related to this temple.

Located in Varanasi, this temple has been built in the middle, which is placed on the marble stone. Due to its unique characteristic, this temple is becoming a favorite of foreign tourist.

Located in Mahatma Gandhi Kashi Vidyapeeth Complex, this temple was constructed by Babu Shiv Prasad Gupta from 1918 to 1924. It was inaugurated by Mahatma Gandhi on October 25, 1936. In the center of the temple, on the marble stones Burma, Afghanistan, Balochistan, Pakistan, Bangladesh and Sri Lanka are the main destinations of many undivided countries.

The specialty of this temple is that it has maps of height and depth of 450 mountain ranges and peaks, plains, reservoirs, rivers, oceans and plateaus. This temple is decorated very specially on the occasion of Republic Day and Independence Day. In these days water and plains in the reservoirs shown on the map are decorated with flowers. If you are thinking of going somewhere on the occasion of Independence Day then this is a perfect place for you.

To get the latest updates, click on the link: facebook page Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.