अन्तर्राष्ट्रीय पर्यटकों का पंसदीदा स्थल बना गुरुद्वारा बंगला साहिब

Advertisements

NEWS IN HINDI

अन्तर्राष्ट्रीय पर्यटकों का पंसदीदा स्थल बना गुरुद्वारा बंगला साहिब

राष्ट्रीय राजधनी दिल्ली में सिखों का सबसे बड़ा धर्मिक स्थल गुरुद्वारा बंगला साहिब अन्तर्राष्ट्रीय पर्यटकों के लिए सबसे पसंदीदा स्थान बनकर उभर रहा है। वह इस गुरुद्वारे में आत्मिक शांति के भारत आते हैं। वर्ष 2017 में लगभग 12 लाख अन्तर्राष्ट्रीय पर्यटक पवित्र गुरुद्वारा बंगला साहिब पहुंचे थे।

4 महीने में ही आ चुके हैं 6 लाख विदेशी

इन्होंने गुरु ग्रन्थ साहिब को माथा टेका तथा अरदास की साथ ही प्रसाद स्वरूप लंगर ग्रहण किया। इस साल पहले चार महीनों में 6 लाख विदेशी पर्यटक आ चुके हैं। दिल्ली के पर्यटक स्थलों पर किए गए सर्वे 2017 में गुरुद्वारा बंगला साहिब को राष्ट्रीय राजधनी में अन्तर्राष्ट्रीय पर्यटकों का सर्वाधिक पंसदीदा स्थल माना गया है। जहां अन्तर्राष्ट्रीय पर्यटक स्वच्छ वातावरण में आत्मिक शान्ति, आध्यात्मिक अनुभूति तथा धार्मिक तथा ऐतिहासिक ज्ञानसवंर्द्धन के लिए एकत्रित होते हैं।

पर्यटकों के लिए 7 गाइड किए गए हैं तैयार

सिखों के आठवें गुरू हरकिशन साहिब जी से जुड़े गुरुद्वारा बंगला साहिब में अन्तर्राष्ट्रीय पर्यटकों की सुविध तथा सहायता के लिए दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने एक सूचना केंद्र स्थापित किया है। इसमें अन्तर्राष्ट्रीय भाषाओं के 7 माहिर पर्यटक गाइड तैनात किए हैं, जो कि विभिन्न अन्तर्राष्ट्रीय भाषाओं में विदेशी पर्यटकों को इस धर्मिक स्थल की सांस्कृतिक तथा ऐतिहासिक महत्व के बारे में जानकारी प्रदान करते हैं।

सिख धर्म पर रिसर्च करते हैं पर्यटक

ज्यादातर अन्तर्राष्ट्रीय पर्यटक विभिन्न ट्रेवल एजेंसियों के माध्यम से 15 से 25 पर्यटकों के ग्रुप में धर्मिक स्थल का दौरा करते हैं। इनमें अनेक अन्तर्राष्ट्रीय पर्यटक सिख धर्म के विभिन्न पहलुओं पर रिसर्च करने के लिए पावन स्थल का दौरा करते हैं।

10 अंतर्राष्ट्रीय भाषाओं में सिख साहित्य प्रकाशित

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष मंजीत सिंह ने बताया कि अन्तर्राष्ट्रीय पर्यटकों को सिख धर्म के विभिन्न पहलुओं की विस्तृत जानकारी प्रदान करने के लिए कमेटी ने 10 अन्तर्राष्ट्रीय भाषाओं में सिख साहित्य प्रकाशित किया है ताकि अन्तर्राष्ट्रीय पर्यटक अपनी मातृभाषा में सिख धर्म के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकें। उन्होंने बताया कि चालू वर्ष के दौरान अब तक लगभग एक लाख पुस्तकों का मुफ्त वितरण किया जा चुका है।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके facebook page पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

NEWS IN ENGLISH

Gurudwara Bungalah Sahib becomes the preferred destination for international tourists

Gurdwara Bangla Sahib, the largest religious place of Sikhs in the national capital Delhi, is emerging as the most preferred destination for international tourists. They come to India in the spiritual peace of this gurus. In the year 2017, about 12 lakh international tourists had arrived at the Holy Gurudwara Bangla Sahib.

6 million foreigners have arrived in 4 months

He accepted Guru Granth Sahib as an anchor with Pratha as well as Pradaad as well as Aradas. Six lakh foreign tourists have arrived in the first four months of this year. Gurdwara Bangla Sahib has been considered as the most preferred destination for international tourists in the national capital in the year 2017. Where international tourists are gathered in a clean environment for spiritual peace, spiritual perception and religious and historical knowledge.

7 guides for tourists have been prepared

For the convenience and assistance of international tourists in Gurdwara Bangla Sahib associated with the eighth Guru Harkishan Sahib, Sikhs have established an information center, Delhi Sikh Gurudwara Management Committee. In this, 7 expert tourist guides of international languages ​​have been provided, which provide information about the cultural and historical significance of this religious site to foreign tourists in various international languages.

Tourists do research on Sikhism

Most international tourists visit religious sites in 15 to 25 tourists groups through various travel agencies. Many of these international tourists visit the holy site for research on different aspects of Sikhism.

Sikh literature published in 10 international languages

Manjit Singh, President of Delhi Sikh Gurudwara Management Committee, told that in order to provide detailed information of various aspects of Sikhism to the international tourists, the committee has published Sikh literature in 10 international languages ​​so that international tourists are aware of Sikh religion in their mother tongue Can get. He informed that during the current year, about one lakh books have been distributed free of cost so far.

To get the latest updates, click on the link: facebook page Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.