मुंबई की लाइफलाइन से बदलहाली का दौर देख रही है BEST

Advertisements

NEWS IN HINDI

मुंबई की लाइफलाइन से बदलहाली का दौर देख रही है BEST

मुंबई। BEST – मतलब होता है कि वृहंद मुंबई इलेक्ट्रिक सप्लाई एंड ट्रांसपोर्ट. बेस्ट की बिजली सप्लाई करने वाली कंपनी तो फायदे में हैं, लेकिन बस की सेवा खटारा हो चुकी है ये कहना गलत नही होगा. एक समय मुंबई की दूसरी लाइफ लाइन कही जाने वाली बेस्ट की बसे हड़ताल के कारण सड़कों से नदारत हैं. बेस्ट के कर्मचारियो की मांग है कि बेस्ट के बजट को बीएमसी के बजट मे शामिल किया जाए जिससे उनके फंड़ की कमी मे परेशान बेस्ट को राहत मिले इसके साथ ही उसकी कुछ और दूसरी मांगे हैं. लेकिन जरा उन कारणो पर नजर डालते है कि जिस कारण से बेस्ट के आज इस हालत मे पहुंचना पड़ा.

रोजाना 25 लाख यात्री करते हैं सवारी
एक समय था जब मुंबई की सड़कों पर बेस्ट की बसों का राज चलता था बेस्ट की बसें रोजाना 35-40 लाख यात्रियों को लाने और ले जाने के काम करती थी लेकिन समय के साथ अपने को नहीं बदलने के कारण आज बेस्ट की बसों में रोजाना सिर्फ 25 लाख यात्री ही सफर कर पाते हैं. लगातार घट रही यात्रियों की संख्या के कारण बेस्ट की बसों को हर महीने हजारों रुपये का नुकसान हो रहा है.

आमदनी कम, खर्चा हो रहा है ज्यादा
एक समय बेस्ट की पास 4000 से ज्यादा बसे सड़कों पर होती थी लेकिन आज वो संख्या 3000 तक पहुंच गई है. इन बसो में सैकड़ो की संख्या मे ऐसी बसें है जो खटारा हो चुकी हैं जिनसे आमदनी कम और खर्चा ज्यादा हो रहा है, लेकिन किसी प्रशासन मे बैठों लोगों को कोई परवाह नहीं

बेस्ट के पास हैं 33 हजार कर्मचारी
बेस्ट के कर्मचारियों की संख्या 33 हजार बताई जाती है जो बेस्ट की मांग से कही ज्यादा हैं. ऐसे में कमाई से ज्यादा खर्च हैं. इसके साथ ही बेस्ट के कर्मचारियों की काम को लेकर अन प्रोफेशनल होना यानि काम कम राजनीति ज्यादा है. बेस्ट के अधिकारियों का कहना है कि 10-15 प्रतिशत बेस्ट के कर्मचारी रोजाना काम पर ही नहीं आते ऐसे में आप समझ सकते हैं बेस्ट के कर्मचारी अपने काम को लेकर कितने गंभीर हैं.

बेस्ट को लेकर कई सारे राजनीतिक फैंसले किए गए जैसे, स्टूडेट के लिए आधा टिकट, बुजुर्गो के लिए कम दाम मे टिकट, महिलाओं के लिए अलग सेवा. ये सब ऐसे निर्णय थे जो बदहाली मे चल रहे बेस्ट को और बदहाल बनाने का काम किया. इसके साथ कुछ और भी कारण है जैसे कुछ इलाको में टैक्सी वालो ने लोकल सेवा देनी शूरु कर दी जैसे एक टैक्सी मे एक साथ 4 लोगों को बैठना और सभी से 10-15 रुपये लेना. क्योंकि टैक्सी या आटो जल्दी भरते है इसलिए लोगो को बेस्ट की जहग उसे तरजीह देना शूरु कर दिया. इसके अलावा बेस्ट की बसे अगर जाम में ज्यादा देर तक फंसी होती है जबकि टैक्सी या आटो जल्द निकल जाते है ये भी एक कारण है लोगो ने बेस्ट की जहग टैक्सी या आटो को चुना.

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके facebook page पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

NEWS IN ENGLISH

BEST is looking at a change of life from Mumbai’s Lifeline

Mumbai. BEST – means that the large Mumbai Electric Supply and Transport The company that supplies the power of BEST is in the best interests, but it will not be wrong to say that the service of the bus has been sacked. One time Mumbai’s second life line is said to be the reason behind the best strike. Best employees are demanding that the budget of the BEST be included in the budget of BMC, so that due to their shortage of funds, the best of relief to the troubled, there is some other demand for it. But just look at those reasons that for the reason that Best had to reach this position today.

RAILWAYS 25 MILLION PEOPLE ARE RAIL
There was a time when the buses of Best buses were running on the streets of Mumbai. Best buses used to carry and carry 35-40 lakh passengers daily but due to not changing their time, 25 lakh passengers are able to travel Due to the number of passengers falling continuously, the best buses are losing thousands of rupees every month.

Less income, spending more
At one time the BEST had more than 4000 buses on the roads but today it has reached 3000. There are hundreds of buses in these buses which have been sacked, which have less income and more expenses, but people who sit in any administration do not care

BEST has 33 thousand employees
Number of employees of BEST is said to be 33 thousand, which is much more than the demand for BEST. There are more expenses than earning. At the same time, being a professional with the work of best employees means more work is less politics. Best executives say that 10-15 percent of the best employees do not come to work everyday; in such a way, you can understand how serious the employees of the BEST are about their work.

Various political decisions were made about the best, half tickets for the studded, low ticket tickets for the elderly, separate service for women. These were all those decisions that made the best of the worst, and made a bad name. There is some other reason for this: Like taxi areas in some areas started giving local services like sitting in 4 cos with a taxi and taking 10-15 each. Because taxis or autos fill up quickly, therefore the people started giving preference to the best. Apart from this, if the best is settled, the jam is trapped for a long time, while the taxi or auto comes out soon. This is also one of the reasons why people chose the best cab or auto.

To get the latest updates, click on the link: facebook page Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.