प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने K9 वज्र टैंक देश को सौंपने के बाद की इसकी सवारी, चारो तरफ दुश्मन को करेगा ढेर

Advertisements

NEWS IN HINDI

Advertisements

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने K9 वज्र टैंक देश को सौंपने के बाद की इसकी सवारी, चारो तरफ दुश्मन को करेगा ढेर

सूरत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को सूरत के हजीरा एलएंडटी में तैयार सेना के लिए सबसे शक्तिशाली के9 वज्र टैंक देश को समर्पित कर दिया। इसके बाद खुद प्रधानमंत्री ने इस टैंक की सवारी कर इसका जायजा भी लिया। मेक इन इंडिया के तहत बने इस टैंक से सेना की ताकत बढ़ेगी। यह टैंक बेहद शक्तिशाली है और हम आपको बताते हैं क्या है इसकी खासियतें।

इस टैंक की सबसे बड़ी खासियत यह है कि यह टैंक दुश्मन को ढूंढ-ढूंढकर मारेगी। अब तक सेना के पास जो टैंक हैं वो एक जगह पर स्थिर होकर वार करते हैं लेकिन के9 वज्र चारों तरफ घूम-घूमकर हमला करने में सक्षम है। टैंक नुमा ‘K9 वज्र’ तोप रेगिस्तानी इलाकों के लिए तैयार की गई है। 2017 में एलएंडटी और हानवा टेकविन की साझेदारी में इसका निर्माण शुरू हुआ था। इस सौदे की कुल कीमत करीब 4300 करोड़ रुपए है।

के9 वज्र बेहद दमदार है और डायरेक्ट फायरिंग में एक किलोमीटर दूरी पर बने दुश्मन के बंकर और टैंकों को भी तबाह करने में सक्षम है। इस टैंक को किसी भी वातावरण में चलाने के लिए डिजाइन किया गया है। टैंक का वजन 47 टन है जबकि टैंक की लंबाई 12 मीटर है और ऊंचाई 2.73 मीटर है। टैंक में चालक के साथ पांच लोग सवार हो सकते हैं। K-9 वज्र 21 वीं सदी के किसी भी युद्ध में दुश्मन के दांत खट्टे करने में सक्षम है।

रक्षा विशेषज्ञों के अनुसार, इस टैंक में 155X39 कैलेबर की वज्र एक सेल्फ प्रोपेलड ट्रेक्ड तोप है। K-9 वज्र एक स्व-चालित एंटाल्या प्रणाली से चलती है, जिसकी मारक क्षमता 40 किलोमीटर से 52 किलोमीटर है। इसकी ऑपरेशनल रेंज 480 किमी है। यह पहली ऐसी तोप है जिसे इंडियन प्राइवेट सेक्टर ने बनाया है। यह तोप तीन मिनट में 15 राउंड की भीषण गोलाबारी कर सकती है और 60 मिनटों में लगातार 60 राउंड की फायरिंग भी कर सकती है।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके facebook page पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

NEWS IN ENGLISH

After handing over the K9 thunderstorm to the country, Prime Minister Narendra Modi will ride his rider on the four sides of the pile
face. Prime Minister Narendra Modi on Saturday dedicated the 9 mighty tanks of the most powerful army to the army prepared in Hazira L & T of Surat. After this, the Prime Minister himself also took stock of this tank and reviewed it. The tank built under Make in India will increase the strength of the army. This tank is extremely powerful and we tell you what its features are.

The biggest feature of this tank is that this tank will find the enemy and find it. Tanks that are still in force by the army till now are stationed in one place, but 9 of them are able to roam around and attack. The tank ‘K9 Vajra’ has been prepared for canoe desert areas. In 2017, it was started in partnership with L & T and Hanva Techwin. The total value of this deal is around Rs 4300 crores.

The 9 thunderbolt is very strong and capable of destroying enemy bunkers and tanks at one kilometer in direct firing. This tank is designed to run in any environment. The weight of the tank is 47 tons, while the tank length is 12 meters and the height is 2.73 meters. Five people can board the driver with the driver in the tank. K-9 Vajra is capable of souring the enemy’s teeth in any 21st century war.

According to the defense experts, this tank has a self-propelled tracked cannon of 155X39 caliber. The K-9 Vajra runs from a self-propelled antalya system, whose firepower is 40 kilometers to 52 kilometers. Its operational range is 480 km. This is the first such gun made by the Indian private sector. The cannon can fire fierce rounds of 15 rounds in three minutes and can also firing 60 rounds in 60 minutes.

To get the latest updates, click on the link: facebook page Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. YoutubeNEWS IN HINDI

Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.