दाऊद के शार्पशूटर राशिद के बेटे ने रची थी रासायनिक हमले की साजिश

Advertisements

NEWS IN HINDI

दाऊद के शार्पशूटर राशिद के बेटे ने रची थी रासायनिक हमले की साजिश

ठाणे । ठाणे और औरंगाबाद से पिछले दिनों गिरफ्तार किए गए आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (इस्लामिक स्टेट) के आतंकियों से पूछताछ में बड़ा खुलासा हुआ है। महाराष्ट्र आतंकवाद निरोधक दस्ता (एटीएस) के अनुसार अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के शार्पशूटर राशिद मालबारी के बेटे मजहर (21 वर्ष) ने युवकों को कट्टरपंथ की ओर मोड़ने में अहम भूमिका निभाई थी। उसने ही कुंभ मेले के दौरान रासायनिक हमले की साजिश रची थी।

एटीएस ने शनिवार को इस मामले में मुंबई के निवासी तलाह पोट्रिक नाम के शख्स को गिरफ्तार किया था। ठाणे के मुंब्रा इलाके की अलमास कॉलोनी में रहने वाला मजहर उन 8 लोगों में शामिल है, जिन्हें एटीएस ने पिछले सप्ताह ताबड़तोड़ छापेमारी के दौरान गिरफ्तार किया था। एटीएस ने इस दौरान ठाणे के मुंब्रा और औरंगाबाद जिले में पांच ठिकानों पर छापेमारी की थी। इस दौरान एक नाबालिग को भी हिरासत में लिया गया था। एटीएस का दावा है कि युवक आईएस से जुड़े हुए थे और आतंकी हमले की योजना बना रहे थे। पकड़े गए संदिग्ध रासायनिक बम बनाने के अलावा आईईडी और यहां तक कि केमिकल अटैक में जहर का भी इस्तेमाल करने की कोशिश में थे। रासायनिक हमले के बाद इनकी योजना नेपाल के रास्ते ईरान जाने की थी। इसके बाद उनकी अफगानिस्तान में प्रवेश करने या फिर सीरिया जाने की योजना थी। इस योजना को पूरा करने केलिए हर संदिग्ध ने 3 से 4 लाख रुपए अपने पास जमा किए थे।

सूत्रों के अनुसार मैनेजमेंट ग्रेजुएट पोट्रिक (24) एक शिपिंग कंपनी में डॉक्युमेंटेशन ऑफिसर के रूप में काम कर रहा था। इंटरनेट के जरिए युवाओं को भड़काने के लिए उसने 90 जीबी की आपत्तिजनक सामग्री अपने पास इकट्ठा कर रखी थी। 2014 से ही वह युवाओं का ब्रेनवॉश करने में जुटा हुआ था। एटीएस ने तलाशी अभियान के बाद 8 लोगों को गिरफ्तार किया है। छापे की कार्रवाई के दौरान कुछ केमिकल, पाउडर, मोबाइल फोन, हार्ड ड्राइव, सिमकार्ड, ऐसिड बोतल और चाकू बरामद किए गए हैं। यूएपीए (गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम कानून-1967) के तहत गिरफ्तार आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। इस मामले में जांच अभी जारी है। एटीएस ने बताया पकड़े गए सभी संदिग्ध सीरिया जाने वाले थे, जहां उन्हें फिदायीन प्रशिक्षण दिया जाना था।

पकड़े गए पांच संदिग्ध औरंगाबाद और चार ठाणे जिले के मुंब्रा के रहने वाले हैं। एटीएस ने ठाणे में जिन संदिग्धों को पकड़ा है, वे सभी पॉप्युलर फ्रंट ऑफ इंडिया की औरंगाबाद शाखा के सलमान के संपर्क में थे। औरंगाबाद के सलमान के बारे में बताया जा रहा है कि वह आईएस के स्लीपर सेल का सदस्य हो सकता है। पता चला है कि सलमान कुछ दिन पहले फहद शेख के घर पर आया था और उसके परिवार को अपने निकाह में बुलाया था।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके facebook page पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

NEWS IN ENGLISH

Dawood’s son-in-law Rashid’s son created plot for chemical attack

Thane In the interrogation of militants of the Islamic State (Islamic State), a terrorist organization arrested from Thane and Aurangabad last days, has revealed a great deal. According to the Maharashtra Anti-Terrorism Squad (ATS), Majhar (21 years), son of underworld don Dawood Ibrahim, Sharshshooter Rashid Malbari, played a key role in turning youth towards radicalism. He had planned a chemical attack during the Kumbh Mela.

ATS arrested a man named Talhah Potric, resident of Mumbai in this case on Saturday. The worker who lives in Almas Colony of Mumbra area of ​​Thane is among the 8 people who had been arrested by ATS during the raiding last week. During this time, ATS had raided five bases in Mumbra and Aurangabad district of Thane. A minor was also detained during this period. The ATS claims that the youth were associated with the IS and were planning a terrorist attack. In addition to making the suspected chemical bomb caught, the IED and even the chemical attack were trying to use poison. After the chemical attack, their plans were to go to Iran via Nepal. After this he had plans to enter Afghanistan or go to Syria. In order to fulfill this plan, every suspect had deposited Rs 3 lakh to 4 lakhs.

According to sources, management graduate Potric (24) was working as a documentation officer in a shipping company. To provoke youth through internet, he had gathered objectionable content of 90 GB. Since 2014, he was involved in brainwashing the youth. ATS has arrested 8 people after the search operation. During the raid, some chemicals, powders, mobile phones, hard drives, SIM cards, acid bottles and knives have been recovered. The case has been registered against the accused arrested under the UAPA (Illegal Activity Prevention Act -1967). In this case the investigation is still going on. ATS told that all the suspects caught were going to Syria, where they had to be trained for fidayeen training.

The five suspects arrested are from Aurangabad and four Thane districts of Mumbra. The suspects who were arrested by ATS in Thane were in contact with Salman of Aurangabad branch of Popular Front of India. Aurangabad’s Salman is being told that he may be a member of the sleeper cell of the IS. It is learned that Salman came to Fahad Sheikh’s house a few days ago and had called his family in his marriage.

To get the latest updates, click on the link: facebook page Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.