2018-19 में बजाज इलेक्ट्रिकल्स की आय में 48 फीसदी का इजाफा

Advertisements

NEWS IN HINDI

2018-19 में बजाज इलेक्ट्रिकल्स की आय में 48 फीसदी का इजाफा

नई दिल्ली । बिजली के घरेलू सामान बनाने वाली देश की प्रतिष्ठित कंपनी बजाज इलेक्ट्रिकल्स ने चालू वित्त वर्ष में बेहतर प्रदर्शन करते हुए अपने प्रतिसाद में बढ़ोतरी की है। कंपनी की आय 48 प्रतिशत उछलकर 7,000 करोड़ रुपये पहुंचने की उम्मीद है। इंजीनियरिंग, खरीद एवं निर्माण (ईपीसी) श्रेणी के मजबूत प्रदर्शन से कंपनी को आय में तेजी आएगी। कंपनी के एक शीर्ष अधिकारी ने यह जानकारी दी। इंजीनियरिंग, खरीद एवं निर्माण श्रेणी के चलते कंपनी की आय में वृद्धि हो रही है। कंपनी को उत्तर प्रदेश में बिजली वितरण और पारेषण लाइन परियोजनाओं के बड़े ठेके मिले हैं। बजाज इलेक्ट्रिकल्स के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक शेखर बजाज ने बताया, हमारे अनुमान के मुताबिक चालू वित्त वर्ष में कुल आय करीब 6,800 करोड़ रुपये से 7,000 करोड़ रुपये रहने का अनुमान है। पिछले वित्त वर्ष में बजाज इलेक्ट्रिकल्स की आय 4,716.39 करोड़ रुपये थी, इसमें ईपीसी का योगदान 2,500 करोड़ रुपये था। बजाज ने कहा, ईपीसी कारोबार से पिछले तीन तिमाहियों में हमारी आय करीब 2,900 करोड़ रुपये रही है और चौथी तिमाही में इसके 1,100 करोड़ रुपये के आसपास रहने की उम्मीद है। हमें ईपीसी कारोबार से करीब 4,000 करोड़ की आय होने का अनुमान है। उन्होंने कहा कि ईपीसी श्रेणी में अगले वित्त वर्ष में भी तेजी जारी रहने की उम्मीद है, हालांकि वृद्धि धीमी रह सकती है। कंपनी को अपने उपभोक्ता उत्पाद श्रेणी में भी दस प्रतिशत से अधिक की वृद्धि का अनुमान है। कंपनी को चालू वित्त वर्ष में इस श्रेणी से करीब 2,800 से 2,900 करोड़ रुपये की आय होने की उम्मीद है। इसके अलावा, बजाज का अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में असाधारण चीजों एवं कर (पीबीटी) से पहले मुनाफा 100.02 करोड़ रुपये दर्ज किया गया। उन्होंने कहा कि बजाज इलेक्ट्रिकल्स के इतिहास में यह पहली बार है जब हमारा पीबीटी 100 करोड़ रुपये के पार चला गया है।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके facebook page पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

NEWS IN ENGLISH

2018-19 में बजाज इलेक्ट्रिकल्स की आय में 48 प्रतिशत का इजाफा

नई दिल्ली। बिजली के घरेलू सामान बनाने वाली देश की प्रतिष्ठित कंपनी बजाज इलेक्ट्रिकल्स ने चालू वित्त वर्ष में बेहतर प्रदर्शन करते हुए अपने प्रतिसाद में वृद्धि की है।] कंपनी की आय 48 प्रतिशत उछाललकर 7,000 करोड़ रुपये पहुंचने की उम्मीद है। कंप्यूटर, खरीद और निर्माण (ईपीसी) श्रेणी के मजबूत प्रदर्शन से कंपनी को आय में तेजी से आगी। कंपनी के एक शीर्ष अधिकारी ने यह जानकारी दी। डीलर, खरीद और निर्माण श्रेणी के कारण कंपनी की आय में वृद्धि हो रही है। कंपनी को उत्तर प्रदेश में बिजली वितरण और पारेषण लाइन परियोजनाओं के बड़े अनुबंध मिले हैं। बजाज इलेक्ट्रिकल्स के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर शेखर बजाज ने बताया, हमारे अनुमान के मुताबिक चालू वित्त वर्ष में कुल आय लगभग 6,800 करोड़ रुपये से 7,000 करोड़ रुपये रहने का अनुमान है। पिछले वित्त वर्ष में बजाज इलेक्ट्रिकल्स की आय 4,716.39 करोड़ रुपये थी, जिसमें ईपीसी का योगदान 2,500 करोड़ रुपये था। बजाज ने कहा, ईपीसी कारोबार से पिछले तीन तिमाहियों में हमारी आय लगभग 2,900 करोड़ रुपये रही है और चौथी तिमाही में इसके 1,100 करोड़ रुपये के आसपास रहने की उम्मीद है। हमें ईपीसी कारोबार से लगभग 4,000 करोड़ की आय होने का अनुमान है। उन्होंने कहा कि ईपीसी श्रेणी में अगले वित्त वर्ष में भी तेजी जारी रहने की उम्मीद है, हालांकि वृद्धि धीमी रह सकती है। कंपनी को अपने उपभोक्ता उत्पाद श्रेणी में भी दस प्रतिशत से अधिक की वृद्धि का अनुमान है। कंपनी को चालू वित्त वर्ष में इस श्रेणी से लगभग 2,800 से 2,900 करोड़ रुपये की आय होने की उम्मीद है। इसके अलावा, बजाज का अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में अतिरिक्त चीजों और कर (पीबीटी) से पहले मुनाफा 100.02 करोड़ रुपये दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि बजाज इलेक्ट्रिकल्स के इतिहास में यह पहली बार है जब हमारा पीबीटी 100 करोड़ रुपये के पार चला गया है।

To get the latest updates, click on the link: facebook page Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error:
WhatsApp chat
%d bloggers like this: