बच्चों से दुष्कर्म करने वाले होते हैं पीडोफाइल

Advertisements

NEWS IN HINDI

बच्चों से दुष्कर्म करने वाले होते हैं पीडोफाइल

नई दिल्ली। अमेरिकन साइकलॉजिकल असोसिएशन के मुताबिक, अगर किसी बच्चे और उसके साथ दुष्कर्म करने वाले व्यक्ति के बीच 5 साल या इससे ज्यादा का अंतर होता है, तो इस स्थिति में दुष्कर्म करने वाले व्यक्ति को पीडोफाइल कहा जाता है। यह लोग बच्चों के साथ यौन शोषण के लिए अट्रैक्ट होते हैं। ऐसे व्यक्तियों में इसे मानसिक बीमारी के तौर पर भी परिभाषित किया जाता है। कई बार तो पीडोफाइल को बच्चों के साथ संपर्क की जरूरत ही नहीं पड़ती। वह इंटरनेट पर या अन्य जगह बच्चों के यौन शोषण की तस्वीरें देखकर ही खुश हो जाते हैं। पुरुष ही पीडोफाइल हो यह जरूरी नहीं है, महिलाएं भी पीडोफाइल होती हैं। हालांकि उनका आंकड़ा पुरुषों से काफी कम है। डॉक्टर्स के मुताबिक पहले माना जाता था कि महिलाएं पुरुषों के साथ इस काम में शामिल होती थीं, लेकिन अब ऐसा नहीं है। अब महिलाएं भी बच्चों के साथ गंदे काम करती हैं। यह बात अलग है कि ऐसे मामले कम ही निकलकर सामने आते हैं। साइकायट्रिस्ट और साइकलॉजिस्ट्स के मुताबिक, अक्सर वे पीडोफाइल बनते हैं, जिनके साथ बचपन में किसी तरह का दुष्कर्म हुआ हो। किसी ने कोई गंदा काम किया हो। ऐसी घटनाओं के बाद अक्सर लोगों के दिल-दिमाग में वह चीजें बैठ जाती हैं, जिनका परिणाम यह होता है कि या तो वह व्यक्ति हमेशा डर में जीता है या फिर वह दूसरे बच्चों के साथ भी वैसा ही करने की कोशिश करता है। कुछ लोगों में यह जेनेटिक भी होता है। इसके अलावा हार्मोन्स का असामान्य होना और किसी तरह की दिमागी बीमारी भी पीडोफाइल बनने का कारण हो सकती है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, देश के करीबन 25 प्रतिशत बच्चे ऐसे हैं, जो कभी न कभी इन पीडोफाइल का शिकार हो चुके हैं। यह पीडोफाइल पुरुष और महिलाएं दोनों थीं। जिनके साथ दुर्व्यवहार हुआ, उनमें भी लड़के-लड़कियां दोनों शामिल हैं। डॉक्टर्स का कहना है कि बच्चों के साथ होने वाला अपराध दिन-प्रतिदिन बढ़ रहा है। ऐसे में इसे कंट्रोल करने की जरूरत है, अन्यथा यह ग्राफ काफी बढ़ जाएगा, जिसे संभालना मुश्किल हो सकता है। मालूम हो कि रोजाना अखबारों, टीवी चैनलों और सोशल मीडिया पर आपके सामने ऐसी कई खबरें आती हैं, जिसमें बच्चों के साथ दुष्कर्म होने की बात कही जाती है। कई मामलों में तो हैवानियत के सारे स्तर टूट जाते हैं। जो लोग बच्चों के साथ गंदे काम करते हैं, ये छोटे लड़कियां-लड़कों दोनों को अपना शिकार बनाते हैं।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके facebook page पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

NEWS IN ENGLISH

Pedophiles who are raping children

new Delhi. According to the American Psychological Association, if a person has a difference of 5 years or more between a child and a person who has been raped with him, then the person doing the same thing is called pedophile. These people are attracted for sexual abuse with children. In such individuals it is also defined as mental illness. Many times, pedophiles do not need to contact children. He is happy to see pictures of sexual abuse of children on the internet or elsewhere. It is not necessary for men to be pedophiles, women are also pedophiles. Although their figure is much lower than men. According to the doctors, it was believed that women were involved in this work with men, but now it is not so. Now women also do dirty work with children. It is a different matter that such cases are rarely exposed. According to psychiatrists and psychologists, they often become pedophiles, who have had some kind of rape in childhood. Someone has done some dirty work After such incidents, those things are settled in people’s heart and mind, which results in either that person has always won in fear or he tries to do the same with other children. Some people are also genetic. Apart from this, abnormalities of hormones and any kind of brain sickness can also be the cause of pedophiles. According to a report, about 25 percent of the country’s children are those who have never been victims of these pedophiles. This pedophile was both men and women. Those who have been abused include both boys and girls. Doctors say that crime against children is increasing day by day. In this case, it needs to be controlled, otherwise this graph will increase, which can be difficult to handle. It is known that on daily basis newspapers, TV channels and social media, you have many such news reports, in which children are reported to have been raped. In many cases, all levels of harmony are broken. Those who do dirty work with children, make these little girls and boys both their victims.

To get the latest updates, click on the link: facebook page Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!
WhatsApp chat
%d bloggers like this: