पुलिस को बड़ी कामयाबी, 6 साल के अक्षत को अपहरणकर्ता के पास से छुड़ाया

Advertisements

NEWS IN HINDI

पुलिस को बड़ी कामयाबी, 6 साल के अक्षत को अपहरणकर्ता के पास से छुड़ाया

इंदौर । इंदौर से अपहृत हुए 6 साल के अक्षत को पुलिस ने सागर से बरामद कर लिया है। इंदौर पुलिस अक्षत को लेकर हीरा नगर थाने पहुंच गई है। बच्चे को सही सलामत पाकर परिजनों में खुशी है। इस पूरे मामले में सीएम कमलनाथ ने तत्परता दिखाने पर पुलिस को बधाई दी है। सीएम ने पुलिस महकमे को मामले में दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। पुलिस के अनुसार 500 से ज्यादा सीसीटीवी, 2 दर्जन कॉल डिटेल और एक दर्जन संदिग्धों से पूछताछ के बाद हीरानगर थाना इलाके से अपह्रत अक्षत को ढूंढ़ने में पुलिस को सफलता मिली। पुलिस के अनुसार अक्षत के अपहरण की वजह आपसी विवाद भी हो सकता है।

दरअसल इंदौर डीआईजी हरिनारायण चारी मिश्रा ने बताया कि रविवार को बच्चों के साथ बगीचे में खेल रहे 6 साल के बच्चे का दिनदहाड़े अपहरण हो गया था।अपहरणकर्ता ने कुछ देर बाद बच्चे के पिता को फोन कर बच्चे की रिहाई के बदले में 10 लाख की फिरौती मांग की। इस मामले में उधर पुलिस ने भी तत्काल कार्रवाई शुरु कर दी। पुलिस को सीसीटीवी कैमरे से दो बदमाशों के फुटेज मिले थे, जिसके बाद पुलिस ने फोन नंबर और फुटेज के आधार पर आरोपियों की तलाश की। इस मामले में अब तक दो आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है और पुलिस बाकी आरोपियों की तलाश कर रही है। पुलिस के अनुसार मामले के तार उत्तरप्रदेश से भी जुड़े हो सकते हैं।

डीआईजी मिश्रा ने बताया कि मीडिया में लगातार बच्चे के अपहरण की खबरों से आरोपियों पर दबाव बना और वे बच्चे को बड़ोदिया चौकी के पास छोड़कर भाग खड़े हुए। डीआईजी के अनुसार आरोपी बच्चे को ललितपुर ले जाने की योजना में थे। अपहरण में उत्तरप्रदेश के बदमाशों के शामिल होने की जानकारी सामने आई है। पुलिस ने रविवार को ही करीब पांच लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की थी, जिसके बाद पुलिस के हाथ कुछ सूत्र लगे और बच्चे का रेस्क्यू किया गया। बच्चे के पिता रोहित ने पुलिस को बताया कि अक्षत रोज की तरह दोपहर करीब दो बजे खेलने गया था। करीब तीन बजे उसके पास एक फोन आया और बच्चे को छोड़ने के बदले में में 10 लाख रुपये की मांग की।इसके बाद उसने पत्नी शिल्पा को अक्षत की तलाश में भेजा। लेकिन अक्षत पार्क में नहीं मिला। इसके बाद बच्चे के अपहरण की सूचना से कॉलोनी में सनसनी फैल गई।

प्रत्यक्षदर्शी बच्चों ने पुलिस को बताया कि बाइक पर दो लड़के आए थे, जिनमें से एक ने मास्क पहन रखा था। बदमाशों ने बच्चों के अक्षत के बारे में पूछा और कहा कि उस उसकी दादी बुला रही है, जिसके बाद वे अक्षत को उठाकर ले गए। रोहित बदमाशों के फोन के बाद अपने दोस्त के साथ थाने पहुंचा और अपहरण की शिकायत दर्ज करवाया। शिकायत के बाद पुलिस ने पूरे शहर में नाकाबंद कर दी। पुलिस का कहना है आरोपी पुलिस के दबाव के चलते दहशत में आ गए और बच्चे को पुलिस चौकी के पास छोड़कर भाग खड़े हुए, लेकिन पुलिस अब तक यह भी बताने की स्थिति में नहीं है कि आरोपियों की संख्या कितनी थी और इसके पीछे क्या वजह रही थी, लेकिन पुलिस दबी जुबान से आरोपियों में विवाद होने की आशंका जाहिर कर रही है।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके facebook page पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

NEWS IN ENGLISH

Police rescue big success, 6-year-old Akath from the abductor

Indore Police has recovered the 6-year-old Akshat, who was abducted from Indore, from the sea. Indore has reached Hirana Nagar police station regarding police intrusion. The children are happy with the family after getting them right. In this entire case, CM Kamal Nath has congratulated the police on showing the readiness. CM has directed the police chief to take strict action against the culprits in the matter. According to the police, more than 500 CCTVs, 2 dozen call reports and interrogation of a dozen suspects, the police got success in finding Akshat abducted from Hiranagar police station area. According to the police, due to the abduction of Akshat can also be mutual dispute.

In fact, Indore DIG Harinarayan Chari Mishra told that a six-year-old child was kidnapped on Sunday in the garden along with the children. The abductor then called the child’s father after a ransom of Rs 10 lakh for the release of the child. demanded. In this case, the police also started immediate action. The police had received two crooks footage from the CCTV camera, after which the police searched for the accused on the basis of phone numbers and footage. In this case, two accused have been arrested so far and the police is searching for the other accused. According to the police, the strings of the case can also be linked to Uttar Pradesh.

DIG Mishra said that the media continued to pressurize the accused due to the news of abduction of the child and left the child with Barodiya Chaki and stood away. According to the DIG, the accused were in the plan to take the child to Lalitpur. Information about the involvement of Uttar Pradesh crooks has been reported in the kidnapping. On Sunday, police had questioned about five people in custody, after which the police took some form of arms and the child was rescued. The father of the child, Rohit, told the police that Akshat used to play everyday at around two o’clock in the afternoon. At about three o’clock he got a phone call and demanded Rs 10 lakh in return for leaving the child. After this he sent wife Shilpa to seek Akshat. But not found in Akshat Park. After this the sensation spread in the colony with the kidnapping of the child.

Eyewitnesses told the police that two boys had come on the bike, one of whom was wearing a mask. The miscreants asked about the children’s integrity and said that her grandmother was calling, after which she picked up Akshat. Rohit reached the police station with his friend after phone of the miscreants and lodged a complaint of abduction. After the complaint, the police blocked the entire city. The police say the accused came under panic because of the pressure of the police and left the child near the police post, but the police is still not in a position to tell how much the number of accused was and what was the reason behind it. But the police is expressing the possibility of a dispute between Jabab and Jaban.

To get the latest updates, click on the link: facebook page Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!
WhatsApp chat
%d bloggers like this: