नगर पालिका में बैठा है, अपना आदमी तो किस बात की है, टेंशन

Advertisements

NEWS IN HINDI

नगर पालिका में बैठा है, अपना आदमी तो किस बात की है, टेंशन

युवा स्वभिमान योजना के अंतगर्त 11 बजे की जगह कई सिर्फ शाम को उपस्थिति लगाने हो रहे है, नगर पालिका सारनी में उपस्थित

बैतूल/सारनी (ब्रजकिशोर भारद्वाज) । नगर पालिका प्रशासन की अनदेखी से युवा स्वाभिमान योजना को लग रहा है पलीता। जिससे शासन द्वारा चलाई गई किस योजना में 100 दिन का रोजगार मिलने की जगह केवल खाना पूर्ति की जा रही है। और शासन की राशि को डकार आ जा रहा है। जबकि कई युवा ऐसे हैं जो दिन भर अनुपस्थित तरह का शाम 4:00 बजे केवल इलेक्ट्रॉनिक थम्भ लगाने के लिये उपस्थित होते है। जबकि इस बात की जानकारी शाखा प्रभारी से लेकर अन्य कर्मचारियों को भी है। फिर भी इन बातों का अनदेखा कर ऐसे लापरवाह युवाओं को मुफ्त की तनख्वाह देने का शर्मनाक प्रयास किया जा रहा है। और तो और सुबह के समय युवाओं की उपस्थिति मौजूद रजिस्टर में कम होती है। लेकिन शाम को उपस्थिति अपने आप बढ़ जाती है। जो इस बात की ओर खुलेआम इशारा कर रहा है। कि नपा प्रशासन के किसी कर्मचारी की मिलीभगत से युवाओं की इस लापरवाही को बढ़ावा मिल रहा है। जबकि इस बात की जानकारी मुख्य नगर पालिका अधिकारी को नहीं है। शासन द्वारा शुरू की गई युवा स्वाभिमान योजना के अंतगर्त सारनी नगर पालिका में आये दिनों बड़ी लापरवाही देखने को मिल रही है। इस लापरवाही की जानकारी जब संवाददाता को सूत्रों से मिली तो संवाददाता ने सच्चाई जानने हेतु नगर पालिका सारनी में उपस्थित होकर देखा कि युवा स्वाभिमान योजना के अंतर्गत 100 दिन का रोजगार शासन के द्वारा दिया जाना है। परंतु इस योजना को नपा के कुछ कर्मचारी और अभ्यर्थियों के माध्यम से पलीता लगाया जा रहा है। जहाँ नगर पालिका में कुछ अभ्यार्थी समय से आकर अपना कार्य दी गयी शाखा में करना शुरू कर देते है। वही कुछ ऐसे आलसी और काम से बचने वाले या इन्हें काम से बचाने वाले कर्मचारी की देन से ये शासन की राशि को डकारने का काम कर रहे है। इन कर्मचारियों की शय पर कुछ अभ्यार्थी ऐसे है। जो कि सीधे शाम को चार बजे नगर पालिका में उपस्थित होकर अपना अंगूठा लगाकर उपस्थिति लगा रहे है। परंतु नपा के किसी भी जिम्मेदार अधिकारी या कर्मचारी के माध्यम से इस और कोई ध्यान नही दिया जा रहा है। जबकि जो युवा सुबह 11:00 बजे से अपनी सेवा दे रहा है। उन युवाओं का क्या उनकी मेहनत बेकार है। क्या? , क्या उन युवाओं को भी बाकी लापरवाह लोगों जैसे शाम 4:00 बजे आकर केवल खानापूर्ति कर शासकीय की राशि हासिल करना चाहिए।


हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके facebook page पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

 

Advertisements

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error:
WhatsApp chat
%d bloggers like this: