नगर निगम के जोनल अधिकारियों का प्रशिक्षण हुआ संपन्न

Advertisements

NEWS IN HINDI

नगर निगम के जोनल अधिकारियों का प्रशिक्षण हुआ संपन्न

इन्दौर । लोकसभा निर्वाचन 2019 के मद्देनजर आज कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में चुनाव प्रशिक्षक डॉ. आर.के. पाण्डे ने जिले के नगर निगम के सभी जोनल ऑफिसर्स, सभी नगर पंचायतों के मुख्य नगर पालिका अधिकारी और जनपद पंचायत के अधिकारियों को आदर्श आचार संहिता के पालन करवाने का प्रशिक्षण दिया। इस अवसर पर अपर कलेक्टर श्री कैलाश वानखेड़े विशेष रूप से मौजूद थे। डॉ. पाण्डे ने इस अवसर पर कहा कि जिले में स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए जिले में आदर्श आचार संहिता का कड़ाई से पालन कराना जरूरी है। जिले में आचार संहिता के साथ कोलाहल नियंत्रण अधिनियम, यातायाता अधिनियम, आबकारी अधिनियम तत्काल प्रभाव से लागू होगा है। चुनाव आयोग से आचार संहिता इस लिये जारी की है कि स्वतंत्र और निष्पक्ष ढ़ंग से चुनाव हो सकें। सभी राजनैतिक दलों और अभ्यर्थियों को समान अवसर मिले। किसी के साथ भेदभाव न हो। इसी प्रकार उन्होने कहा कि मतदान के दिन मतदान शांतिपूर्ण और सुव्यवस्थित कराने के लिए यह जरूरी है कि किसी भी मतदाता को मतदान करने में कोई परेशानी न हो। निर्वाचन कर्तव्य पर लगे हुए अधिकारी मतदाताओं को सहयोग करें। अभ्यर्थी अपने प्राधिकृत कार्यकर्ता को उपयुक्त पहचान पत्र दें। राजनैतिक दलों और अभ्यर्थियों द्वारा मतदान केन्द्र के निकट कैम्पों के नजदीक अनावश्यक भीड इक्ट्ठी न हो, जिससे अभ्यर्थियों और राजनैतिक दलों के कार्यकर्ताओं और शुभचिंतकों के बीच आपस में तनाव व मुकाबला न होने पाये। आम जन से अपेक्षा है कि मतदान के दिन वाहन चलाने पर लगाये जाने वाले निबंधनों का पालन करने में प्राधिकारियों के साथ सहयोग करें और वाहनों के लिए परमिट प्राप्त कर लें। वाहनों पर ऐसा लगा दें कि परमिट साफ-साफ दिखाई दे। डॉ. पाण्डे ने कहा कि सत्ताधारी दल को चाहे वे केन्द्र में हो या संबंधित राज्य या राज्यों में हो यह सुनिश्चित करना चाहिए कि यह शिकायत करने का कोई मौका न दिया जाये कि उस दल ने अपने निर्वाचन अभियान के प्रयोजनों के लिए अपने सहकारी पद का प्रयोग किया है और विशेष रूप से मंत्रियों को अपने शासकीय दौरों को निर्वाचन से संबंधित प्रचार के साथ नहीं जोड़ना चाहिए और निर्वाचन के दौरान प्रचार करते हुए शासकीय मशीनरी अथवा कार्मिकों का प्रयोग नहीं करना चाहिए। सरकारी विमानों, गाड़ियों सहित सरकारी वाहनों, मशीनरी और कर्मिकों का सत्ताधारी दल के हित बढ़ावा देने के लिए प्रयोग नहीं होना चाहिए।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके facebook page पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

NEWS IN ENGLISH

Municipal officials completed training

Indore In the wake of the Lok Sabha election 2019, election instructor Dr. R.K. Pandey gave training to all the Zonal Officers of the Municipal Corporation of the district, the chief municipal officer of all the Nagar Panchayats and the officials of the Janpad Panchayat to follow the Model Code of Conduct. Additional Collector Shri Kailash Wankhede was present on this occasion. Dr. Pandey said on this occasion that in order to conduct free and fair elections in the district it is necessary to strictly follow the Model Code of Conduct in the district. In the district, the Babel Control Act, Traffic Act, Excise Act with the Code of Conduct will be implemented with immediate effect. Election Code of Conduct has been issued by the Election Commission so that elections can be conducted independently and fairly. All political parties and candidates get equal opportunities Do not discriminate with anyone. Similarly, he said that in order to make the polling peaceful and systematic on the day of voting, it is important that there is no problem in voting for any voter. Support the electorate engaged on election duty. Candidates should give appropriate identification card to their authorized worker. There is no unnecessary crowd near the camps near the voting center by political parties and candidates, so that there is no tension between the candidates and the well wishers of the candidates and the political parties. It is expected from the common people to cooperate with the authorities in adhering to the rules laid on the vehicle on the day of voting and get permits for vehicles. Let the vehicles feel clearly that the permit is clearly visible. Dr. Pandey said that the ruling party should be in the center or in the respective states or states to ensure that no opportunity should be given to complain that the party has given its cooperative post for the purposes of its election campaign. Used and specifically, ministers should not link their official visits to the publicity related to election and campaigning during the election. Civil machinery or personnel should not be used. Government vehicles, trains, including government vehicles, machinery and personnel, should not be used to promote the interests of the ruling party.

To get the latest updates, click on the link: facebook page Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error:
WhatsApp chat
%d bloggers like this: