मुंबई में अभी भी 136 ब्रिज खतरनाक

Advertisements

NEWS IN HINDI

मुंबई में अभी भी 136 ब्रिज खतरनाक

मुंबई। गुरुवार शाम मुंबई में छत्रपति शिवाजी टर्मिनस स्टेशन से सटे हिमालय फुट ओवर ब्रिज (एफओबी) का अधिकांश हिस्सा अचानक ढह गया. आपको ये जानकर हैरानी होगी कि मुंबई में अब भी 136 ब्रिज खतरनाक स्थिति में हैं. इन ब्रिज पर वाहनों के साथ-साथ लोगों का आवागमन निरंतर जारी रहता है, जिससे भविष्य में यहां कोई बड़ी दुर्घटना होने की संभावनाएं से इंकार नहीं किया जा सकता है. गौरतलब हो कि वर्ष 2016 में मुंबई से सटे रायगढ़ जिला के महाड में हुए पुल हादसे के बाद मुंबई महानगरपालिका ने सभी जर्जर पुलों का सर्वेक्षण शुरु किया था. मनपा के अधीन आने वाले फ्लाईओवर, एफओबी, आरओबी सहित 374 पुलों में से 186 पुल जर्जर पाए थे, जिसमें से 18 पुलों के नए निर्माण, 61 पुलों की व्यापक स्तर पर मरम्मत और 107 पुलों की मामूली मरम्मत की सिफारिश की गई थी. पिछले वर्ष सौंपी गई 186 पुलों की इस ऑडिट रिपोर्ट के तहत मनपा प्रशासन ने विगत छह महीने में 50 पुलों की मरम्मत की अनुमति दी है. पुराने पुल को तोड़कर नए बनाए जानेवाले 18 पुलों में से पांच फुट ओवर ब्रिज है. 50 पुलों की मरम्मत पर करीब 76 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे. शेष 136 पुलों की स्थिति और दयनीय होती जा रही है.

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके facebook page पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

NEWS IN ENGLISH

136 bridge still dangerous in Mumbai

Mumbai. On Thursday evening, most of Himalaya Foot Over Bridge (FOB) adjacent to Chhatrapati Shivaji Terminus Station collapsed in Mumbai. You will be surprised to know that even 136 bridges are in dangerous condition in Mumbai. The traffic on these bridges continues with the movement of people, so that the possibility of a major accident can not be ruled out in the future. It is to be noted that in the year 2016, after the bridge accident in Mahad of Raigad district adjacent to Mumbai, the Mumbai Municipal Corporation started the survey of all barren bridges. Of the 374 bridges, including flyovers, FOBs, ROBs, which were covered under the NMC, 186 bridges were found, out of which 18 new bridges were constructed, 61 bridges were repaired and minor bridges of 107 bridges were recommended. Under this audit report of 186 bridges submitted last year, the NMC administration has allowed 50 bridges to be repaired in the last six months. Breaking the old bridge is a five-foot over bridge from the 18 newly built 18 bridges. About 73 crore rupees will be spent on the repair of 50 bridges. The remaining 136 bridges are becoming more and more pathetic.

To get the latest updates, click on the link: facebook page Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.