अफ्रीकी देशों में तूफान से 750 से ज्यादा की मौत, हैजा-मलेरिया नई चुनौती

Advertisements

NEWS IN HINDI

अफ्रीकी देशों में तूफान से 750 से ज्यादा की मौत, हैजा-मलेरिया नई चुनौती

बैरा । तीन अफ्रीकी देशों में आए इदाई तूफान से 10 दिनों में मरने वालों की संख्या 750 तक पहुंच चुकी है। इसके चलते मोजाम्बिक, जिम्बाब्वे और मालावी में प्रभावित बिजली और पानी की व्यवस्थाएं दुरुस्त करने का काम चल रहा है। अधिकारियों का कहना है कि हैजा-मलेरिया जैसी बीमारियां अब हमारे सामने नई चुनौती हैं।मोजाम्बिक में 446, जिम्बाब्वे में 259 और मालावी में 56 से ज्यादा लोगों की मौत हुई है। मोजाम्बिक के पर्यावरण मंत्री सेल्सो कोरेया ने कहा कि मौतों का आंकड़ा शुरुआती है। जलस्तर घटेगा तो और शव बरामद हो सकते है। तब यह आंकड़ा 1000 तक पहुंच सकता है। सेल्सो ने बताया कि अभी 1.10 लाख लोग कैंपों में रह रहे हैं। बाढ़ में फंसे लोगों को बचाने का काम धीमा पड़ा है क्योंकि राहतकर्मी संक्रामक बीमारियों को फैलने से रोकने के उपाय कर रहे हैं। हैजा और मलेरिया फैल रहा है। इसे रोक पाने में मुश्किलें आ रही हैं। मोजाम्बिक के बैरा और डोंडो शहरों में पानी की व्यवस्था बहाल हो गई है और लोगों को पीने के लिए साफ पानी मुहैया कराया जा रहा है। बैरा के इलाकों और कुछ दूसरी जगहों पर रेलवे लाइनें दोबारा खोली गई हैं।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके facebook page पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

NEWS IN ENGLISH

More than 750 deaths due to cyclone in African countries, Cholera-Malaria new challenge

Waiter Idi hurricane in three African countries has reached 750 deaths in 10 days. Due to this, work is being done to repair the impact of power and water in Mozambique, Zimbabwe and Malawi. Officials say that diseases such as cholera and malaria are now a new challenge to us. 446 deaths in Mozambique, 259 in Zimbabwe and more than 56 people in Malawi have died. Mozambique’s Environment Minister Celso Corea said that the figure of deaths is the starting point. If the water level will decrease, the body can be recovered. Then this figure could reach 1000. Celso said that 1.10 lakh people are now living in camps. The task of saving the people trapped in the flood has slowed down because the relief workers are taking measures to prevent infectious diseases from spreading. Cholera and malaria are spreading. There are difficulties to stop it. Water system has been restored in the Beera and Dondo towns of Mozambique and people are being provided with clean water for drinking. Railway lines have been re-opened in Beera areas and elsewhere.

To get the latest updates, click on the link: facebook page Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error:
WhatsApp chat