भारत के इस हिस्से में 2 घंटे में भूकंप के 9 झटके, थर्राए लोग

Advertisements

NEWS IN HINDI

भारत के इस हिस्से में 2 घंटे में भूकंप के 9 झटके, थर्राए लोग

नई दिल्ली। अंडमान निकोबार द्वीप समूह में सोमवार सुबह दो घंटे के भीतर मध्यम दर्जे की तीव्रता वाले भूकंप के नौ झटके महसूस किए गए. राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केन्द्र ने यह जानकारी दी. भूकंप का पहला झटका सुबह 5.14 बजे आया जिसकी तीव्रता 4.9 थी इसके कुछ ही मिनटों के भीतर पांच तीव्रता वाले अन्य झटके महसूस किए गए.

भूकंप का अंतिम झटका सुबह 6.54 बजे महसूस किया गया जिसकी तीव्रता 5.2 बताई गई है. गौरलतब है कि अंडमान निकोबार द्वीप समूह भूकंप की दृष्टि से बेहद संवेदनशील क्षेत्र है.

भूकंप के दौरान इन चीजों को करने से बचे
– भूकंप के दौरान आपको लिफ्ट का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए.
– बाहर जाने के लिए लिफ्ट की बजाय सीढ़ियों का इस्तेमाल करें.
– कहीं फंस गए हों तो दौड़ें नहीं. इससे भूकंप का ज्यादा असर होगा.
-अगर आप गाड़ी या कोई भी वाहन चला रहे हो तो उसे फौरन रोक दें.
– वाहन चला रहे हैं तो बिल्डिंग, होर्डिंग्स, खंभों, फ्लाईओवर, पुल से दूर सड़क के किनारे गाड़ी रोक लें.
-भूकंप आने पर तुरंत सुरक्षित और खुले मैदान में जाएं. बड़ी इमारतों, पेड़ों, बिजली के खंभों से दूर रहें.
– भूकंप आने पर खिड़की, अलमारी, पंखे, ऊपर रखे भारी सामान से दूर हट जाएं ताकि इनके गिरने से चोट न लगे.

भूकंप के दौरान क्या करें
– टेबल, बेड, डेस्क जैसे मजबूत फर्नीचर के नीचे छिप जाएं.
– किसी मजबूत दीवार, खंभे से सटकर सिर, हाथ आदि को किसी मजबूत चीज से ढककर बैठ जाएं.
-किसी मजबूत दीवार, खंभे से सटकर सिर, हाथ आदि को किसी मजबूत चीज से ढ़ककर बैठ जाएं.

बता दें कि रिक्‍टर स्‍केल पर जितना ज्‍यादा भूकंप मापा जाता है, जमीन में उतना ही अधिक कंपन होती है. मसलन, रिक्टर पैमाने पर 7.9 तीव्रता का भूकंप आने पर इमारतें तक गिर जाती हैं. वहीं, 2.9 रिक्टर स्केल पर भूकंप आने पर हल्का कंपन होता है. दरअसल, रिक्टर पैमाना भूकंप की तरंगों की तीव्रता मापने का एक गणितीय पैमाना है. किसी भूकंप के समय भूमि के कंपन के अधिकतम आयाम और किसी आर्बिट्रेरी छोटे आयाम के अनुपात के साधारण गणित को ‘रिक्टर पैमाना’ कहते हैं.

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके facebook page पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

NEWS IN ENGLISH

In this part of India, 9 earthquake tremors in 2 hours, threw people

new Delhi. In the Andaman Nicobar Islands, nine shocks of moderate intensity earthquake were felt within two hours on Monday morning. National Earthquake Science Center gave this information The first shock of the earthquake came at 5.14 in the morning, whose intensity was 4.9, within a few minutes, five intensity shocks were felt.

The final shock of the earthquake was felt at 6.54 in the morning, which was described as 5.2. It is important that the Andaman Nicobar Islands are very sensitive in terms of earthquake.
 

Avoid doing these things during an earthquake
– You should not use lift during earthquake.
– Use the stairs instead of the elevator to go out.
– If you get caught somewhere then do not run. This will have a lot of impact on earthquake.
If you are driving a car or any vehicle, stop it immediately.
– If you are driving, stop the carriage by building, hoardings, pillars, flyover, road away from the bridge.
– Get into the safe and open ground immediately after the earthquake. Stay away from big buildings, trees, electric pillars.
– When the earthquake comes, the window, cupboards, fans, move away from the heavy stuff kept up so that they do not hurt by falling.

What to do during earthquake
– Hide under strong furniture such as table, bed, desk
– A strong wall, with a pillar of stone, head, hands, etc., cover with a strong thing.
-Bring a strong wall, sticking straight from the pillars, head, hands, etc. with some strong stuff.

Tell that the more earthquake is measured on the Richter scale, the more vibrations in the ground. For example, 7.9 intensity earthquakes on the Richter scale fall to the buildings. At the same time, there is a slight vibration when the earthquake occurs at 2.9-meter scale. Actually, the Richter scale is a mathematical scale to measure the intensity of earthquake waves. At the time of an earthquake, the maximum dimension of the vibrations of the earth and the general mathematics of the proportion of an arbitrary small dimension is called ‘Richter Scale’.

To get the latest updates, click on the link: facebook page Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error:
WhatsApp chat
%d bloggers like this: