संकल्प पत्र में भारत के मन की बात: गोपाल भार्गव

Advertisements

NEWS IN HINDI

संकल्प पत्र में भारत के मन की बात: गोपाल भार्गव

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के संकल्प पत्र में भारत के मन की बात है। संकल्प पत्र 2019 में जनआकांक्षाओं के अनुरूप कार्ययोजना समाहित है। यह संकल्प पत्र घोषणा पत्र न होकर देश को आगे बढाने का विजन डाक्यूमेंट है। यह बात मध्यप्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने सोमवार को भारतीय जनता पार्टी के संकल्प पत्र 2019 पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कही।

– आतंकवाद पर जीरो टालरेंस नीति

भार्गव ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के लिए हमेशा राष्ट्र सर्वप्रथम रहा है। इस नीति को हमने संकल्प पत्र में व्यक्त किया है।आतंकवाद और उग्रवाद के विरूद्ध जीरो टालरेंस नीति को आगे बढाया है। संकल्प पत्र में सुरक्षा बलों को फ्री हेंड दिए जाने की बात प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मजबूत इरादों को इंगित करता है। संकल्प पत्र मे एनआरसी लागू करने की बात घुसपेठियों की समस्या का निदान होगा।

– हर वर्ग के लिए संकल्प पत्र में अलग कार्ययोजना

भार्गव ने कहा कि संकल्प पत्र में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण लोकसभा एवं विधानसभा में देने की बात महिला सशक्तिकरण के संकल्प को दर्शाती है। किसानों को क्रेडिट कार्ड पर एक लाख रूपए तक के लोन पर शून्य प्रतिशत ब्याज देने के साथ साठ साल की उम्र के बाद हर किसान को पेंशन सुविधा देने का संकल्प व्यक्त किया है। यह संकल्प किसानों को सुदृढ़ करने की दिशा में मील का पत्थर साबित होगा।

– आजादी के 75 साल के लिए 75 संकल्प से नया भारत उदय होगा

भार्गव ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने संकल्प पत्र 2019 के साथ भारत की आजादी के 75 साल के लिए 75 संकल्प लिए है। कृषि, युवा एवं शिक्षण, बुनियादी ढांचे को मजबूत करने साथ स्वास्थ्य, अर्थव्यवस्था, सुशासन और समावेशी विकास को लेकर व्यक्त किए गए इन 75 संकल्पों से नए भारत का उदय होगा।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके facebook page पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

NEWS IN ENGLISH

Talk of India’s mind in the resolution letter: Gopal Bhargava

Bhopal. Bharatiya Janata Party’s resolution letter is about the mind of India. Resolution Plan 2019 contains action plan according to the aspirations. This resolution letter is not a manifesto, but it is a vision document to go ahead with the country. This was stated by Leader of Opposition in the Madhya Pradesh Legislative Assembly Gopal Bhargava, on Monday, reacting to the Bharatiya Janata Party’s resolution paper 2019.

 – Zero Tolerance Policy on Terrorism

Bhargava said that for the Bharatiya Janata Party, the nation has always been the first. We have expressed this policy in the resolution paper. The Zero Tolerance policy against terrorism and militancy has progressed forward. The resolution of free hand to the security forces in the resolution letter indicates the strong intentions of Prime Minister Narendra Modi. The issue of implementing NRC in the resolution paper will be a diagnosis of the problem of intruders.

– Different plan of action plan for each category

Bhargava said that the resolution of giving reservation of 33 percent reservation to women in Lok Sabha and Vidhan Sabha in the resolution letter reflects the commitment of women empowerment. With a zero percent interest on loans on a credit card, the farmers have expressed their resolve to provide pension facility to every farmer after the age of sixty years. This resolution will prove to be milestone towards strengthening the farmers.

75 years of independence will be a new India emerging from 75th resolution

Bhargava said that Prime Minister Narendra Modi has taken 75 resolutions for 75 years of India’s independence with the resolution paper 2019. With the strengthening of agriculture, youth and education, infrastructure, health, economy, good governance and inclusive development, these 75 resolutions will be the emergence of a new India.

To get the latest updates, click on the link: facebook page Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error:
WhatsApp chat
%d bloggers like this: