न्यायालय की स्थापना तथा सारनी में लगने वाली तहसील को लेकर मुख्यमंत्री को सौपा ज्ञापन

Advertisements

न्यायालय की स्थापना तथा सारनी में लगने वाली तहसील को लेकर मुख्यमंत्री को सौपा ज्ञापन


सारनी, (ब्यूरो)। सतपुड़ा न्याय मंच सारनी के अध्यक्ष अयूब मंसूरी एडवोकेट तथा सचिव सूरज तिवारी एडवोकेट ने पाथाखेड़ा में आए मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री माननीय कमलनाथ के समक्ष सारनी में न्यायालय की स्थापना तथा सारनी में लगने वाली तहसील को पूरे सप्ताह के कार्य दिवस में लगाने की तथा तहसील को नगर पालिका के परिसर से हटाकर नए भवन मे स्थापित करने की मांग की। सतपुड़ा न्याय मंच सारनी के अध्यक्ष अयूब मंसूरी एडवोकेट तथा सचिव सूरज तिवारी एडवोकेट ने बताया कि ज्ञापन में उन्होंने लिखा है, कि सारनी बैतूल से लगभग 50 किलोमीटर दूरी पर है, जिससे आमजन को न्याय पढ़ने में परेशानियों का सामना करना पड़ता है। वैसे भी बैतूल के अलावा मुलताई और आमला में न्यायालय की स्थापना हो चुकी है, लेकिन सारनी, बैतूल से आमला और मुलताई से भी ज्यादा दूरी पर है, फिर भी यहां पर न्यायालय की स्थापना अभी तक नहीं हुई है। जबकि बैतूल में सारनी थाने से ही सबसे ज्यादा किए जाते हैं, जनसंख्या की दृष्टि से देखा जाए तो सारनी में न्यायालय होना अति आवश्यक है, साथ ही यहां पर सप्ताह में सिर्फ एक बार बुधवार को नगर पालिका परिसर में तहसील है, जिसमें तहसीलदार सप्ताह में एक बार बुधवार आते हैं, उसे भी पूरे सप्ताह में कार्य दिवस पर लगाने के लिए इस ज्ञापन में मांग की गई है। श्री मंसूरी का कहना है, कि सारनी से लेकर घोड़ाडोगरी तक लगभग 40 अधिवक्ता प्रैक्टिस करते हैं, इन्हें भी सारनी से बैतूल रोजाना आना जाना पड़ता है, साथ ही यहां की आम जनता भी परेशान होती है। यदि यहां पर न्यायालय की स्थापना हो जाती है तो लोगों को सुलभ न्याय सारनी में ही मिल सकेगा।

Advertisements

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error:
WhatsApp chat
%d bloggers like this: