जीडीएम की प्रगति जानने के लिए डेनमार्क से आया दल, एएनएम आशा सहयोगी कार्यकर्ताओं ने सांझा किए अनुभव

Advertisements

जीडीएम की प्रगति जानने के लिए डेनमार्क से आया दल, एएनएम आशा सहयोगी कार्यकर्ताओं ने सांझा किए अनुभव

Advertisements

घोड़ाडोंगरी, (विशाल घोड़की)। नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में शनिवार को वर्ल्ड डायबिटीज फाउंडेशन डेनमार्क से मैडम लीने बेचमेंन, स्टेट कोऑर्डिनेटर डॉ ज्योति, डॉक्टर पूजा, डीएचओ डॉक्टर आरके धुर्वे सहित अन्य अधिकारियों का दल पहुंचा जहां पर उन्होंने पायलट प्रोजेक्ट जीडीएम की मॉनिटरिंग की एवं संतोष जताया आए हुए दल ने सबसे पहले उप स्वास्थ्य केंद्र सीवनपाट का भ्रमण किया। जहां पर जीडीएम के तहत एएनएम अनीता उईके एमपीडब्ल्यू मोड़सिंह भिलाला एवं हितग्राहियों से चर्चा की गई एवं उससे हुए फायदे के बारे में जाना
इसके बाद आया हुआ दल घोड़ाडोंगरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचा।

जहां पर बीएमओ संजीव शर्मा ने आए हुए दल का स्वागत किया हॉस्पिटल में प्रोजेक्ट जीडीएम के बारे में विस्तृत चर्चा की गई। जहां पर उपस्थित हितग्राहियों को बताया गया की प्रोजेक्ट जीडीएम मातृ शिशु मृत्यु दर में कमी लाने मैं किस तरह महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। इस प्रोजेक्ट के तहत गर्भवती महिलाओं के शुगर लेवल के कारण होने वाली परेशानी एवं गर्भपात जैसी समस्याओं से किस तरह निपटा जाए एवं प्रसव सफलतापूर्वक को इस पर विस्तार से प्रकाश डाला एवं जांच के महत्व के बारे में बताया गया।

साथ ही कार्यक्रम के तहत सभी के द्वारा किए गए कार्य की प्रशंसा की गई एवं हितग्राहियों से चर्चा की गई मुख्यालय पर एएनएम सारिका लाल पाटाखेडा ने जीडीएम कार्यक्रम के तहत किस तरह से बार-बार हो रहे गर्भपात से निजात दिलाते हुए महिलाओं को लाभ दिलाया। उसके बारे में जानकारी दी स्टाफ नर्स सहित अन्य ने भी अपने अनुभव दल के साथ सांझा की है आए हुए दल ने अस्पताल का भी निरीक्षण किया एवं एवं साफ-सफाई पर संतोष व्यक्त करते हुए टीम लीडर डॉक्टर संजीव शर्मा की प्रशंसा की।

इस मौके पर प्रमुख रूप से डॉ कविता कोरी, आदित्य बघेल, जेडी मंड़लेकर, प्रकाश माकडे, वर्षा गडेकर, सपना कुरावले, महेंद्र चौरसिया, संजय ठाकुर, नारायण देशमुख, रेवारानी राय, चंद्रकला महोबे, दीप्ति, अनीता, सहित अस्पताल प्रबंधन के लोग उपस्थित थे।

Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.