मन्नत पूरी होने के बाद यहां के लोग खेलते हैं मौत का खेल..!

Advertisements

NEWS IN HINDI

मन्नत पूरी होने के बाद यहां के लोग खेलते हैं मौत का खेल..!

मध्य प्रदेश में उज्जैन के पास ग्राम टकवासा और हमीरखेड़ी में परम्परा के नाम पर होली के दिन मौत का खेल खेला जाता है. मन्नत पूरी होने पर इंसान को करीब तीस फीट ऊपर एक लकड़ी पर लटका कर घुमाने की परम्परा निभानी होती है और ये 5 सालों तक लगातार करना पड़ता है. ग्रामीणों का मानना है सालों से चली आ रही परंपरा में आज तक कोई भी जन हानि नहीं हुई है.

दरअसल, ये परम्परा उज्जैन के हमीरखेड़ी गांव में है, जहां मान मन्नत पूरी होने पर करीब 30 फ़ीट ऊंचे खम्बे पर बेहद खतरनाक ढंग से झूलते हैं. गौर करने की बात ये है कि न केवल हमीरखेड़ी बल्कि आस-पास के तमाम गांव के हजारों लोग बच्चे महिलाएं इसमें शामिल होते हैं. लोगों के मुताबिक जिसकी मन्नत पूरी होती है वो यहां गल महादेव मंदिर के परिसर में होली के दिन आयोजित समारोह में 30 फीट ऊंचे खंबे पर लटककर खतरनाक तरीकों से झूलते हैं.

ग्रामीणों का कहना है कि जो भी पुरुष मन्नत रखता है वो मन्नत पूरी होने के बाद पांच साल तक ये खतरनाक परम्परा का हिस्सा बनता है, जिसमें बच्चे पैदा होने की शादी की और घर परिवार में सुख शान्ति की मनोकामना पूरी होने पर 5 सालों तक गल पर झूलना पड़ता है. एक दिन में करीब 200 से अधिक लोग इसमें चढ़कर झूलते हैं और इस मौत के बुलावे वाली परम्परा का हिस्सा बनते हैं.

 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करके https://www.facebook.com/samacharokiduniya/ पेज को लाइक करें या वेब साईट पर FOLLOW बटन दबाकर ईमेल लिखकर ओके दबाये। वीडियो न्यूज़ देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे। Youtube

 

NEWS IN ENGLISH

After the fulfillment of the vows, the people here play the death game ..!

In Madhya Pradesh, in the name of tradition in village Takvas and Hamitkhari near Ujjain, a death game is played on Holi day. On fulfillment of the vowel, a person has to perform a tradition of walking on a wooden lane above thirty feet and it has to be done for 5 years continuously. The villagers believe that there has been no mass loss in the tradition that has been going on for years.

Actually, this tradition is in Hamheerkhedi village of Ujjain, where the values ​​swing very dangerously at about 30 feet high pole on completion of veneration. It is worth mentioning that not only women but women of thousands of people from nearby villages are included in it. According to the people whose vows are fulfilled, they hang on dangerous pillars hanging at a height of 30 feet in the ceremony held on the occasion of Holi in the premises of the Gala Mahadev temple.

The villagers say that after the fulfillment of the vow of a man who keeps vows, it becomes a part of a dangerous tradition for five years, in which the child is born and the desire for happiness in the family is complete for 5 years. It has to be dangling. In a day, more than 200 people swing up and swing and become part of the convention called Call of Duty.

 

To get the latest updates, click on the link: https://www.facebook.com/samacharokiduniya/Like the page or press the FOLLOW button on the web site and press the OK Subscribe to our YouTube channel to see the video news. Youtube

Advertisements
Advertisements

 

Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.