Agnipath Recruitment 2022: जानें अग्निवीर की भर्ती से जुड़ी बड़ी बातें

Advertisements

भारतीय रक्षा सेनाओं में भर्ती के लिए अग्निपथ योजना की औपचारिक घोषणा रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा मंगलवार, 14 जून 2022 को आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान की गई। भारतीय थल सेना, भारतीय नौसेना और भारतीय वायु सेना में चार वर्ष के अप्लकाल के लिए जवानों की अस्थायी भर्ती वाली इस योजना मे निधारित प्रक्रिया से चुने गये प्रशिक्षुओं को अग्निवीर कहा जाएगा।

  1. अग्निपथ योजना के अंतर्गत युवाओं को अल्पकाल (अधिकतम 4 वर्ष) के लिए सशस्त्र सेनाओं में अस्थाई नियुक्ति दी जाएगी। इन्हें अग्निवीर कहा जाएगा।
  2. उम्मीदवारों की भर्ती ऑल इंडिया मेरिट के आधार पर की जाएगी। राष्ट्रीय पर चयन प्रक्रिया का आयोजन किया जाएगा। इसके बाद मेडिकल फिटनेस टेस्ट होगा।
  3. अग्निपथ योजना का उद्देश्य है 17.5 वर्ष से 21 वर्ष तक के युवाओं को सशस्त्र सेनाओं में शामिल करना।
  4. अलग-अलग कटेगरी के लिए शैक्षणिक योग्यता अलग-अलग होगी।
  5. महिला और पुरुष दोनो ही आवेदन कर सकेंगे।
  6. थल सेना, नौसेना और वायु सेना में इस साल 46 हजार अग्निवीर की भर्ती की जानी है।
  7. अग्निवीरों को ज्वाइनिंग पर लगभग 4.76 लाख रुपये का वार्षिक भत्ता मिलेगा जो उनकी चार साल की सेवा के अंत तक बढ़कर 6.92 लाख रुपये हो जाएगा। साथ ही, अग्निपथ योजना के तहत सैनिकों के लिए वित्तीय पैकेज में 48 लाख रुपये का गैर-अंशदायी जीवन बीमा कवर शामिल है। चार साल की सेवा पूरी करने के बाद अग्निवीर को 11.71 लाख रुपये का ‘सेवा निधि’ पैकेज मिलेगा, जो ब्याज मुक्त होगा।
  8. दुर्भाग्यपूर्ण मृत्यु की स्थिति में, प्रत्येक ‘अग्निवीर’ के लिए एक गैर-अंशदायी बीमा कवर रखा जाता है, जिसकी कीमत 1 करोड़ रुपये होगी।
  9. ‘अग्निवीर’ को टारगेट एक्विजिशन असेंबली, बीपीजे सहित सुरक्षात्मक विशेष कपड़े, बैलिस्टिक हेलमेट, काले चश्मे, मल्टीस्पेक्ट्रल कैम कपड़े, सामरिक दस्ताने और कुछ के लिए एक्सोस्केलेटन मिलेगा। उनके हथियारों में एक असॉल्ट राइफल, मशीन पिस्टल, यूबीजीएल और गोला-बारूद शामिल होंगे। साथ ही उन्हें सेंसर से लैस बॉडी आर्मर, हेड-अप डिस्प्ले और सिग्नल इंटरफेरेंस यूनिट के साथ एक कंप्यूटर और कम्युनिकेशन सब-सिस्टम मिलेगा।
  10.  अग्निवीरों की क्षमताओं और प्रदर्शन के आधार पर, प्रत्येक बैच से 25% तक सशस्त्र बलों के नियमित कैडर में शामिल किए जा सकते हैं। कार्यकाल पूरा होने के बाद उन्हें प्रशस्ति पत्र भी दिया जाएगा।

अग्निपथ योजना पर भारतीय थल सेना द्वारा जारी वीडियो इस लिंक से देखें।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

Related posts

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

You cannot copy content of this page, Sorry

Team Samacharokiduniya (:

WhatsApp chat